सपा अपने काम के आधार पर कभी वोट मांगने नहीं आई : जेपी नड्डा

JP Nadda
नड्डा ने शुक्रवार को यहां प्रभावी मतदाता संवाद कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूछा कि क्या समाजवादी पार्टी (सपा) 2017 में काम के आधार पर वोट मांगने आई थी।

शाहजहांपुर(उप्र) 28 जनवरी | भाजपा अध्यक्ष जेपी ड्डा ने शुक्रवार को विपक्षी दलों- समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस पर जमकर प्रहार किया तथा अपनी पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र व राज्‍य सरकार की उपलब्धियां गिनाईं।

नड्डा ने कहा, समाजवादी पार्टी काम के आधार पर वोट मांगने कभी नहीं आई, वह तो हर बार चुनाव में नए वादे करती है और आगे बढ़ जाती है, परंतु भारतीय जनता पार्टी रिपोर्ट कार्ड के आधार पर ही आगे बढ़ी है।

नड्डा ने शुक्रवार को यहां प्रभावी मतदाता संवाद कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूछा कि क्या समाजवादी पार्टी (सपा) 2017 में काम के आधार पर वोट मांगने आई थी। उन्होंने कहा, हर बार सपा चुनाव के वक्त नए-नए वादे करके आती है और बाद में आगे बढ़ जाती है परंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिखाया है कि हमारी पार्टी रिपोर्ट कार्ड के आधार पर ही आगे बढ़ेगी और भाजपा ने जो कहा है वह करके भी दिखाया है।

उन्होंने मतदाताओं से कहा कि आप चुनाव में वोट देने जा रहे हैं तो आपके पास चुनने का आधार क्या है, इसे एक बार देखिए कि किसने क्या कहा था और वह पूरा हुआ या नहीं हुआ। नड्डा ने दावा किया कि भाजपा ने जो कहा उसे पूरा किया। उन्होंने किसानों की चर्चा करते हुए कहा, ‘‘अभी पिछले दिनों किसानों के कई नेता बन गए और उन्होंने अपने को नेता कहलवाया, इससे किसानों की हालत खराब होती रही।’’

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष ने कहा कि जो काम किसानों के लिए नरेंद्र मोदी ने किया, वह अभी तक किसी ने नहीं किया है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले 22 हजार करोड़ रुपये का कृषि बजट होता था लेकिन अब यह बजट एक लाख 23 हजार करोड़ रुपये का होता है।

उन्होंने कहा कि यह बजट बताता है कि किसानों के लिए समर्पण किसका है। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों की लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने का काम भी प्रधानमंत्री ने किया है।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने दस वर्ष में 51 हजार करोड़ रुपये कर्ज माफ किया परंतु भाजपा सरकार में अब तक 10 करोड़ 50 लाख किसानों के खाते में एक लाख 80 हजार करोड़ रुपये प्रधानमंत्री किसान निधि के जरिये भेजे हैं। उन्होंने किसानों के कल्‍याण के लिए चलाई गई योजनाओं का का भी ब्योरा दिया।

नड्डा ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती की सरकार में उत्तर प्रदेश में 22 चीनी मिल बिकीं तथा 19 बंद हो गईं, वहीं अखिलेश यादव की सरकार में 11 चीनी मिल बंद हो गईं।

उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ के शासन में तीन चीनी मिल और बढ़ गई हैं तथा गन्ने का एक लाख 40 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किसानों को किया गया जिसमें अखिलेश की सरकार के दौरान का बाकी 11 हजार करोड़ रुपये का भुगतान भी शामिल है।

नड्डा ने शाहजहांपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी राज्‍य सरकार के संसदीय कार्य व वित्त मंत्री सुरेश खन्‍ना के लिए शहर के खिरनी बाग मोहल्ले में मतदाताओं से संपर्क कर वोट मांगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़