Himachal Pradesh Governor शिव प्रताप शुक्ला से अस्पताल में मिलने पहुंचे Sukhu

Himachal Pradesh Governor
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। अस्पताल के प्रवक्ता वी. बी. जोशी ने पीटीआई-को बताया कि शुक्ला (70) को रविवार आधी रात के करीब कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया और उन्हें निगरानी में रखा गया है।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सोमवार रात को नोएडा के कैलाश अस्पताल पहुंचकर राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला का हालचाल लिया। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला को सीने में दर्द की शिकायत के बाद नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। अस्पताल के प्रवक्ता वी. बी. जोशी ने पीटीआई-को बताया कि शुक्ला (70) को रविवार आधी रात के करीब कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया और उन्हें निगरानी में रखा गया है।

जोशी ने बताया कि शुक्ला की सोमवार सुबह एंजियोग्राफी की गई। जांच में हृदय की एक धमनी अवरुद्ध होने का पता चलने पर डाक्टरों ने एंजियोप्लास्टी कर स्टेंट डाला। उनकी हालत में सुधार हो रहा है। उन्हें स्वास्थ्य लाभ के लिए अस्पताल में भर्ती रहने की सलाह दी है। वह शनिवार से दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, गृह मंत्री अमित शाह और अन्य लोगों से शिष्टाचार भेंट की।

जोशी ने कहा, ‘‘हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल को सीने में दर्द की शिकायत के बाद रविवार को आधी रात के आसपास कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह फिलहाल अस्पताल में हैं और उनकी जांच तथा इलाज हो रहा है। उनकी हालत अब स्थिर है।’’ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शुक्ला ने 18 फरवरी को हिमाचल प्रदेश के 29वें राज्यपाल के रूप में पदभार ग्रहण किया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के रुद्रपुर निवासी शुक्ला गोरखपुर से 1989, 1991, 1993 और 1996 में लगातार चार बार विधायक चुने गए। उन्होंने छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से छात्र नेता के तौर पर अपनी राजनीतिक यात्रा शुरू की थी। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल की सेहत का हाल जानने के लिए भाजपा एवं विभिन्न पार्टियों के कई नेता अस्पताल पहुंचे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़