असल मुद्दों से ध्यान भटकाकर जहर फैलाने की हो रही बातें, तेजस्वी यादव ने कही यह अहम बात

असल मुद्दों से ध्यान भटकाकर जहर फैलाने की हो रही बातें, तेजस्वी यादव ने कही यह अहम बात
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि असल मुद्दों से ध्यान भटकाकर ज़हर फैलाने की जो बातें हैं, वह हो रही है। बिहार के जो असल मुद्दे हैं, बेरोज़गारी, महंगाई, पलायन, गरीबी है। चाहे बिहार को विशेष राज्य का दर्ज़ा हो, विशेष पैकेज हो, जातीय जनगणना है। इन पर कोई चर्चा ही नहीं कर रहा है।

पटना। राजद नेता तेजस्वी यादव ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वे बिहार के असली मुद्दों से ध्यान भटका रहे हैं और देश में हिंदू-मुसलमान, लाउडस्पीकर, बुलडोजर पर चर्चा हो रही है। इसके साथ ही उन्होंने बिहार लोक सेवा आयोग पर एक बार फिर से टिप्पणी की और विद्यार्थियों को एक्सटेंशन देने की वकालत की। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में 2010 के प्रारूप में लागू होना चाहिए एनपीआर : नीतीश 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि असल मुद्दों से ध्यान भटकाकर ज़हर फैलाने की जो बातें हैं, वह हो रही है। बिहार के जो असल मुद्दे हैं, बेरोज़गारी, महंगाई, पलायन, गरीबी है। चाहे बिहार को विशेष राज्य का दर्ज़ा हो, विशेष पैकेज हो, जातीय जनगणना है। इन पर कोई चर्चा ही नहीं कर रहा है। बल्कि राज्य में हिंदू-मुसलमान, लाउडस्पीकर, बुलडोजर की चर्चा हो रही है।

इसके साथ ही उन्होंने बिहार लोक सेवा आयोग का जिक्र करते हुए कहा कि यदि बीपीएससी परीक्षा या अन्य ऐसी राज्य प्रतियोगी परीक्षाएं रद्द हो जाती हैं या फिर इनके रिजल्ट में देरी होती है तो उन्हें विद्यार्थियों के खराब हुए वर्षों के लिए विशेष प्रावधान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के लिए उन्हें एक्सटेंशन देना चाहिए जो इस तरह की वजहों के चलते परीक्षा के लिए अपात्र हो जाते हैं। 

इसे भी पढ़ें: जाति जनगणना के लिए बिहार से दिल्ली तक पदयात्रा निकालना ही एकमात्र रास्ता : तेजस्वी 

प्रश्नपत्र लीक को लेकर जमकर भड़के तेजस्वी

इससे पहले उन्होंने कहा था कि बीपीएससी का नाम बदलकर लीक आयोग कर देना चाहिए। दरअसल, बीपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा (प्रारंभिक) की परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक हो गया था और इस मामले को लेकर तेजस्वी यादव ने सख्त टिप्पणी की थी। इस दौरान उन्होंने नीतीश सरकार से उन अभ्यर्थियों को मुआवजा देने की मांग की थी जो लंबी दूरी तय कर परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा देने पहुंचे थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।