मुख्यमंत्री ने प्रदेशभर के 21 प्रतिनिधिमंडलों के करीब 250 लोगों से मुलाकात कर किया समस्याओं का समाधान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 9, 2021   18:28
मुख्यमंत्री ने प्रदेशभर के 21 प्रतिनिधिमंडलों के करीब 250 लोगों से मुलाकात कर किया समस्याओं का समाधान

मुख्यमंत्री ने बेलर मशीन संचालक एवं समस्त हरियाणा फसल अवशेष प्रबंधन कमेटी के प्रतिनिधिमंडल को आश्वसत किया कि पराली का उचित प्रबंधन के उद्देश्य से अतिरिक्त मुख्य सचिव सुमिता मिश्रा की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी। यह कमेटी ऐसी व्यवस्था बनाने की दिशा में काम करेगी ताकि किसान खेत में पराली न जलाकर उसे कटवाने ( बेलिंग) के लिए आगे आएंगे।

चंडीगढ़ ।  मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि सोनीपत-पलवल ओरबिटल रेलवे कोरिडोर पर  झज्जर जिले के आसौदा गांव में टू-टियर रेलवे स्टेशन बनाए जाने के प्रस्ताव को रेल मंत्रालय के पास भेजा जाएगा। इसके बनने से भिवानी-रोहतक से मानेसर-पलवल की ओर जाने वाले हजारों दैनिक यात्रियों को लाभ होगा। मुख्यमंत्री गुरुवार को अपने चंडीगढ़ आवास पर जनता दरबार के दौरान गांव आसौदा के ग्रामीणों द्वारा रखी गई मांग का समाधान करते हुए बोल रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने 21 प्रतिनिधिमंडलों के करीब 250 लोगों से मुलाकात कर, उनकी समस्याओं का समाधान करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए। 

 

मुख्यमंत्री ने बेलर मशीन संचालक एवं समस्त हरियाणा फसल अवशेष प्रबंधन कमेटी के प्रतिनिधिमंडल को आश्वसत किया कि पराली का उचित प्रबंधन के उद्देश्य से अतिरिक्त मुख्य सचिव सुमिता मिश्रा की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी। यह कमेटी ऐसी व्यवस्था बनाने की दिशा में काम करेगी ताकि किसान खेत में पराली न जलाकर उसे कटवाने ( बेलिंग) के लिए आगे आएंगे। इस समय पराली प्रबंधन में जुड़े बेलरस को ज्यादा लाभ नही हो रहा है। आगामी योजना के तहत कोशिश की जाएगी कि बेलर और किसान संगठन मिलकर काम करें और पराली का उचित प्रबंधन करें। इसी प्रकार मुख्यमंत्री ने अम्बेडकर स्टूडेंट एसोसिएशन की समस्या का समाधान करते हुए प्रतिनिधिमंडल को आश्वसत किया कि हरियाणा के अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को मिलने वाली छात्रवृति जल्द जारी कर दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें: जिला सिरमौर के गिरिपार क्षेत्र के हाटी समुदाय की मांग को लेकर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा से मिले सांसद सुरेश कश्यप

मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने मोरनी क्षेत्र से आए प्रतिनिधिमंडल की मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार मोरनी क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से और विकसित करने की दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने टिकर हिल से मीरपुर की ओर जाने वाली सड़क की 3.5 किलोमीटर की प्रशासनिक अप्रूवल को बढ़ाकर 6.5 किलोमीटर तक बढ़ाने की मांग को तुरंत पूरा करवाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। यह सड़क बनने के बाद टिकर हिल से रायपुरानी तक की कनेक्टिविटी और बेहतर हो जाएगी और यहां के निवासियों का आने जाने में लगने वाला समय भी बचेगा।

इसे भी पढ़ें: धर्मशाला आगमन पर मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया गया

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा कृषि विपणन बोर्ड के माध्यम से आढ़तियों को जारी किए जाने वाले लाइसेंस की प्रक्रिया को और सरल बनाया जाए, ताकि विवाद की स्थिति पैदा न हो। उन्होंने कहा कि मंडियों में दुकान मालिकों व किरायेदारों के ज्वाइंट लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया पर विचार करना चाहिए। इसी दौरान आल हरियाणा सब्जी मंडी आढ़ती एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने भी मुख्यमंत्री से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने कमेटी बनाकर उनकी समस्याओं का समाधान करने का आश्वासन दिया।

 

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जनता दरबार के दौरान दो रिकॉर्ड होल्डर बालिकाओं साहिबा और वैष्णवी से स्नेहपूर्वक  मुलाकात की। दोनों बालिकाओं ने अपनी खेल विधा को मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया।  मुख्यमंत्री ने उनके कौशल की सराहना करते हुए दोनों को आशीर्वाद और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। इसके अलावा  मुख्यमंत्री ने मिलने पहुंचे लोगों की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना और उनके उचित समाधान के लिए निर्देश दिए ।

इस दौरान मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डीएस ढेसी, एसीएस श्री देवेंद्र सिंह, एसीएस श्री सुमिता मिश्रा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी उमाशंकर, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल, मुख्यमंत्री की उप प्रधान सचिव श्रीमति आशिमा बराड़, मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री भूपेश्वर दयाल व कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...