लोग सुरक्षित महसूत करें इसके लिये सरकार अतिरिक्त कदम उठाने को प्रतिबद्ध: राजनाथ सिंह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 24, 2019   20:23
लोग सुरक्षित महसूत करें इसके लिये सरकार अतिरिक्त कदम उठाने को प्रतिबद्ध: राजनाथ सिंह

तटरक्षक बल की सराहना करते हुए सिंह ने देश की समुद्री सीमा की रक्षा में उनके योगदान को रेखांकित किया और इसके साथ ही बाढ़ राहत मिशन और मादक द्रव्य के तस्करों को पकड़ने में भी उनकी भूमिका को सराहा।

चेन्नई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को राज्येतर एवंराज्य प्रायोजित आतंकवाद का उल्लेख करते हुए कहा कि देश में लोग सुरक्षित महसूस करें यह सुनिश्चित करने के लिये सरकार अतिरिक्त प्रयास करने के लिये प्रतिबद्ध है। सिंह ने मुंबई आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कहा कि देश राज्येतर आतंकवाद के साथ ही राज्य प्रायोजित आतंकवाद की मुश्किल चुनौतियों का सामना कर रहा है।  

भारतीय तटरक्षक बल के कर्मियों को बहादुरी और उत्कृष्ट सेवा पदक प्रदान करने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में रक्षा मंत्री सिंह ने कहा, “देश के लोग सुरक्षित महसूस करें यह सुनिश्चित करने के लिये सरकार अतिरिक्त प्रयास के लिये प्रतिबद्ध है जिससे वे राष्ट्र निर्माण में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सकें।” उन्होंने कहा, “जमीन पर सुरक्षा का दृढ़ रिश्ता समुद्र में सुरक्षा से है।”  रक्षा मंत्री ने कहा कि मुंबई आतंकी हमला समुद्र के रास्ते से ही हुआ था, लेकिन सरकार दृढ़ प्रतिज्ञ है कि देश में ऐसी घटनाएं फिर न हों।  सिंह ने इस समारोह में तटरक्षक बल के अधिकारियों और अन्य कर्मियों को 61 पदक प्रदान किये।  

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम को विश्व राजनीति में ऐतिहासिक दिन करार दिया

उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्रालय ने राष्ट्रपति तटरक्षक पदक और तटरक्षक प्रदक प्राप्त करने वालों को राष्ट्रपति द्वारा हस्ताक्षरित प्रशस्ति पत्र (स्क्रॉल) देने को मंजूरी दी है और इसे प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजा गया है। तटरक्षक बल की सराहना करते हुए सिंह ने देश की समुद्री सीमा की रक्षा में उनके योगदान को रेखांकित किया और इसके साथ ही बाढ़ राहत मिशन और मादक द्रव्य के तस्करों को पकड़ने में भी उनकी भूमिका को सराहा। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।