मानवता के दुश्मनों से धरती को बचाने के लिए प्रभु की शक्ति हमेशा हमारे साथ रही है: मोदी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   20:03
मानवता के दुश्मनों से धरती को बचाने के लिए प्रभु की शक्ति हमेशा हमारे साथ रही है: मोदी

वह यहां दक्षिणी दिल्ली स्थित इस्कॉन मंदिर में बोल रहे थे जहां उन्होंने 670 पन्नों और 800 किलोग्राम वजनी विशाल भगवद् गीता का लोकार्पण किया।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि मानवता के दुश्मनों से धरती को बचाने के लिए प्रभु की शक्ति हमेशा हमारे साथ रही है और उनकी सरकार ‘‘दुष्ट आत्माओं तथा असुरों’’ को यह संदेश देने का प्रयास कर रही है। उन्होंने यह गूढ़ टिप्पणी इस्कॉन के एक आयोजन में की जो भारतीय वायुसेना द्वारा आज तड़के पाकिस्तान में आतंकी शिविरों को निशाना बनाने के संदर्भ में की गई प्रतीत होती है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मानवता के दुश्मनों से धरती को बचाने के लिए प्रभु की शक्ति हमेशा हमारे साथ रही है। यही संदेश हम पूरी प्रामाणिकता के साथ दुष्ट आत्माओं को, असुरों को देने का प्रयास कर रहे हैं।’’ वह यहां दक्षिणी दिल्ली स्थित इस्कॉन मंदिर में बोल रहे थे जहां उन्होंने 670 पन्नों और 800 किलोग्राम वजनी विशाल भगवद् गीता का लोकार्पण किया। कार्यक्रम में पहुंचने के लिए मोदी खान मार्केट से मेट्रो में सवार हुए और नेहरू प्लेस स्टेशन पर उतरे।

इसे भी पढ़ें: देश सुरक्षित हाथों में है, देश से ऊपर कुछ भी नहीं है: नरेंद्र मोदी

मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गीता के उपदेश आज भी प्रासंगिक हैं और यह ग्रंथ विश्व को एक उपहार है। उन्होंने कहा कि गीता में सभी प्रश्नों का उत्तर है। ‘‘चाहे आप छात्र हैं या कोई राष्ट्र प्रमुख...इसमें सभी प्रश्नों के उत्तर हैं...यह सबसे बड़ी नियमावली है। इसमें सभी समस्याओं का समाधान है।’’ 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।