CWC बैठक: चुनाव कार्यक्रम बढ़ा आगे, अब जून के आखिरी तक कांग्रेस को मिल जाएगा अध्यक्ष

  •  अनुराग गुप्ता
  •  जनवरी 22, 2021   15:57
  • Like
CWC बैठक: चुनाव कार्यक्रम बढ़ा आगे, अब जून के आखिरी तक कांग्रेस को मिल जाएगा अध्यक्ष

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव को जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है और जून के आखिरी तक कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल जाएगा।

नयी दिल्ली। कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संपन्न हुई। जिसमें तीन प्रस्ताव पर कार्यसमिति ने अपनी मुहर लगा दी है। बैठक के बाद पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस वार्ता में बताया कि संगठन चुनाव को लेकर केंद्रीय चुनाव समिति ने मई के आखिरी तक कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव करने का प्रस्ताव रखा था।  

इसे भी पढ़ें: CWC की बैठक: कांग्रेस अध्यक्ष समेत संगठन का चुनाव मई में कराने की संभावना 

सुरजेवाला ने आगे बताया कि कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों ने एकमत से अपने विचार रखते हुए कहा कि पांच राज्यों में जो चुनाव होने हैं उनकी प्रक्रिया चल रही होगी और मई मतदान हो रहे होंगे। इसीलिए एक महीने आगे तक कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव को बढ़ा दिया जाए। इसके लिए सदस्यों ने कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी से अनुरोध किया।

सुरजेवाला ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव को जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है और जून के आखिरी तक कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल जाएगा। वहीं, कांग्रेस संगठन महासचिव के.सी.वेणुगोपाल ने बताया कि कांग्रेस कार्यसमिति ने किसानों के साथ मजबूती से खड़े रहने का निर्णय किया। इसे लेकर हमने प्रस्ताव पास किया है। कार्यसमिति ने किसानों के आंदोलन का समर्थन करने के लिए ऊपर से नीचे के स्तर तक की कार्ययोजना तैयार की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश के तेंदूखेड़ा में दुष्कर्म करने का आरोपी ढोंगी बाबा गिरफ्तार

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 26, 2021   22:16
  • Like
मध्य प्रदेश के तेंदूखेड़ा में दुष्कर्म करने का आरोपी ढोंगी बाबा गिरफ्तार

तेंदूखेड़ा थाना की एसआई रूचिका सूर्यवंशी ने बताया कि पीड़िता पन्ना जिले की निवासी है जो दमोह जिले में अपनी बहन के यहां रह रही थी। पीड़िता का आरोप है कि करीब 4 साल पहले 2017 में वह इंदौर गई थी। आरोपित आशीष से उसकी पहचान गलत मोबाईल नंबर से हुई थी

नरसिंहपुर। युवती के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी मृगेंद्रनाथ में रहने वाले ढोंगी बाबा अखंड चैतन्य उर्फ आशीष कश्यप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तेंदूखेड़ा तहसील के मृगेंद्रनाथ धाम में हिजड़े की वेशभूषा रखकर खुद को स्वयं सिद्ध बाबा कहने वाले ढोंगी अखंड चैतन्य उर्फ आशीष कश्यप ने पन्ना जिले की एक युवती को पहले प्रेमजाल में फंसाया। इसके बाद वह कई महीनों तक दुराचार करता रहा। जब युवती को ये समझ में आया कि ढोंगी सिर्फ उसका दैहिक शोषण कर रहा है तो उसने तेंदूखेड़ा थाना पहुंचकर बाबा के खिलाफ दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई।

 

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति के मध्य प्रदेश प्रवास को लेकर तैयारियां शुरू, 6 और 7 मार्च को है प्रस्तावित यात्रा

पुलिस ने आरोपी ढोंगी बाबा के खिलाफ धारा 376, 376-2 एम, 506, 328 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है। आरोपी आशीष मूलत: इंदौर जिले का निवासी है जो करीब 12 वर्षो से तेंदूखेड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम पीपरपानी से लगे मृगेंद्रनाथ में रह रहा था। तेंदूखेड़ा थाना की एसआई रूचिका सूर्यवंशी ने बताया कि पीड़िता पन्ना जिले की निवासी है जो दमोह जिले में अपनी बहन के यहां रह रही थी। पीड़िता का आरोप है कि करीब 4 साल पहले 2017 में वह इंदौर गई थी। आरोपित आशीष से उसकी पहचान गलत मोबाईल नंबर से हुई थी, जिसमें उसने स्वयं को अखंड चैतन्य बताने के साथ कहा कि वह इंदौर जिले का रहने वाला है। वह जिस स्थान पर रहता है वहां आने से उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाएंगी। बातों में फंसाकर उसने युवती को बुलाया और फिर शादी का झांसा देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया।

 

इसे भी पढ़ें: चौरसिया के आने से कांग्रेस में बवाल, अरुण यादव ने साधा कमलनाथ पर निशाना

पीड़िता ने पुलिस को यह भी बताया है कि उसे जहरीला पदार्थ पिलाने की कोशिश भी की गई। साथ ही यह धमकी दी गई थी कि यदि उसने उसकी करतूत किसी को बताई तो उसे जान से मार दिया जाएगा। पीड़िता की शिकायत दर्ज करने के बाद आरोपित आशीष 34 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार आरोपित आशीष ने भी युवती के संबंध में एक शिकायती आवेदन दिया है जिसकी जांच कराई जा रही है। बताया जाता है कि पीड़िता बीते बुधवार की शाम मामले की शिकायत करने पुलिस अधीक्षक के पास पहुंची थी जिसके बाद संबंधित थाना में प्रकरण दर्ज कराए जाने की कार्रवाई हुई। मामला दर्ज होने के बाद थाना प्रभारी अक्रजय धुर्वे ने पुलिस टीम के साथ घटनास्थल की जांच की। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के सतना में कट्टे की नोक पर पेट्रोल पंप पर लूट

आरोपी ढोंगी बाबा अखंड चैतन्य मृगेंद्रनाथ में आश्रम बनाकर रहता था। जिसने यहां अखंड संकीर्तन भी शुरू कराया था। जिससे 24 घंटे मृगेंद्रनाथ में संकीर्तन करने लोगों की उपस्थिति रहती थी। आरोपी का कुछ महिनों पहले ही विवाह हुआ था। पीड़िता का कहना है कि आशीष ने जब दूसरी लड़की से विवाह किया था तो उसने उसका विरोध भी किया था। जिस पर उसे जान से मारने की धमकी मिली थी। आरोपी आशीष कश्यप इंदौर में पढ़ाई करने के बाद जब क्षेत्र में आया था तो कुछ दिन ग्राम काचरकोना के एक मंदिर में रूकने का निर्णय लिया था। लेकिन कुछ समय बाद वह मृगेंद्रनाथ धाम पहुंच गया। इस क्षेत्र के प्रति लोगों की पूर्व से अगाध श्रद्धा होने से लोगों को आना जाना होता था। लोगों की आवाजाही को देखते हुए आरोपित ने लोगों का अपनी ओर ध्यान खींचने तरह-तरह के स्वांग रचाकर आयोजन शुरू किए। धर्म की आड़ लेकर लोगों को भ्रमित करता रहा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


राष्ट्रपति के मध्य प्रदेश प्रवास को लेकर तैयारियां शुरू, 6 और 7 मार्च को है प्रस्तावित यात्रा

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 26, 2021   21:57
  • Like
राष्ट्रपति के मध्य प्रदेश प्रवास को लेकर तैयारियां शुरू, 6 और 7  मार्च को है प्रस्तावित यात्रा

राष्ट्रपति 6 और 7 मार्च को मध्य प्रदेश के प्रवास पर रहेंगे। इस दौरान वह न्यायिक एकेडमि के मानस भवन में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे। वही अगले दिन 07 मार्च को वह दमोह जाएगें जहाँ वह सिंगौरगढ़ किला सहित पर्यटन स्थलों के विकास कार्यों की आधारशिला रखेंगे।

जबलपुर। मध्य प्रदेश में जबलपुर और दमोह की दो दिवसीय यात्रा पर आ रहे देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के प्रवास की तैयारियों को लेकर शुक्रवार को कमिश्नर बी.चंद्रशेखर की अध्यक्षता में कलेक्टर सभागार में बैठक आयोजित की गई। राष्ट्रपति 6 और 7 मार्च को मध्य प्रदेश के प्रवास पर रहेंगे। इस दौरान वह न्यायिक एकेडमि के मानस भवन में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे। वही अगले दिन 07 मार्च को वह दमोह जाएगें जहाँ वह सिंगौरगढ़ किला सहित पर्यटन स्थलों के विकास कार्यों की आधारशिला रखेंगे। 

इसे भी पढ़ें: चौरसिया के आने से कांग्रेस में बवाल, अरुण यादव ने साधा कमलनाथ पर निशाना

राष्ट्रपति के 6 और 7 मार्च के प्रस्तावित दौरे को लेकर कमिश्नर की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान आईजी बीएस चौहान,कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री रिजु बाफना, अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, राजेश बाथम, नगर निगम कमिश्नर संदीप जीआर सेना व न्यायिक अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें: खजुराहो नृत्य समारोह का समापन आज, मणिपुरी-ओडिसी और भरतनाट्यम की होंगी प्रस्तुतियां

राष्ट्रपति के दौरे को लेकर आयोजित बैठक के दौरान रूट प्लान, वाहन पार्किंग, बेरिकेटिंग, अतिथियों की रुकने की व्यवस्था व लायजिनिंग, विद्युत व्यवस्था, वाहन चालको के कोविड टेस्ट कराने के साथ राष्ट्रपति प्रवास के संपूर्ण व्यवस्था बेहतरीन करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


चौरसिया के आने से कांग्रेस में बवाल, अरुण यादव ने साधा कमलनाथ पर निशाना

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 26, 2021   21:32
  • Like
चौरसिया के आने से कांग्रेस में बवाल, अरुण यादव ने साधा कमलनाथ पर निशाना

वही दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने भी ट्वीट कर लिखा कि- गोडसे के उपासकों के लिए सेंट्रल जेल उपयुक्त स्थान है,कांग्रेस पार्टी नहीं। ग्रह मंत्रालय भी गोडसे समर्थकों की गतिविधियों पर नजर रखे तो उचित होगा।

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस में हिंदू महासभा के नेता बाबूलाल चौरसिया के आने से पार्टी में बवाल खड़ा हो गया है। इसको लेकर कांग्रेस में खुलकर विरोध हो रहा है। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने बाबूलाल को पार्टी में शामिल करने को लेकर कमलनाथ पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि - हम गोडसे नहीं गांधी की विचारधारा की पूजा करते हैं।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

हिंदू महासभा के नेता बाबूलाल चौरसिया के कांग्रेस में आने पर पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने विरोध जताया है। उन्होंने एक वीडियो और पत्र जारी करके कहा है कि कांग्रेस गांधीवादी विचारधारा की पार्टी है। इस देश की आजादी में गांधी की विचारधारा पर लड़ाई लड़ी और देश को आजाद कराया, जो कांग्रेस और देश का मूल मंत्र है। इसी विचारधारा ने देश में सरकारें बनाई और आगे भी यही विचारधारा चलने वाली है।

 

इसे भी पढ़ें: जीएसटी के खिलाफ कैट के भारत व्यापार बंद में मध्य प्रदेश भी शामिल

अरूण यादव ने कहा कि सत्य और अहिंसा का जो मार्ग गांधी ने अपनाया था, उसी में देश आगे चलेगा। यादव ने कहा है कि दो विचारधाराएं देश में काम करती हैं, एक गांधी और एक गोडसे की। हत्यारे गोडसे का मंदिर बनाना और उसकी पूजा करना,  उसे गांधी की विचारधारा से मेल मिलाप कराना मुझे उचित नहीं लगा और इसलिए मैंने अपने विचार रखे। यह सिर्फ मेरे नहीं बल्कि कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ताओं के विचार भी हैं। उन्होंने आगे कहा कि - महात्मा गांधी की विचारधारा के हत्यारे के खिलाफ मैं चुप नहीं रहूंगा। मेरी आवाज कांग्रेस और गांधी विचारधारा को समर्पित एक सच्चे कांग्रेस कार्यकर्ता की आवाज है।

 

इसे भी पढ़ें: खजुराहो नृत्य समारोह का समापन आज, मणिपुरी-ओडिसी और भरतनाट्यम की होंगी प्रस्तुतियां

अरुण यादव ने सीधे-सीधे प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कमलनाथ पर सवाल उठाए है। उन्होंने लिखा है कि अपनी ही सरकार में कमलनाथ ने इन्हीं बाबूलाल चौरसिया और उनके सहयोगियों का ग्वालियर में गोडसे का मंदिर बनाने और पूजा करने के विरोध में एफआईआर  दर्ज करने का निर्देश दिया था। वही दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने भी ट्वीट कर लिखा कि- गोडसे के उपासकों के लिए सेंट्रल जेल उपयुक्त स्थान है,कांग्रेस पार्टी नहीं। ग्रह मंत्रालय भी गोडसे समर्थकों की गतिविधियों पर नजर रखे तो उचित होगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept