नोएडा में तीन चीनी नागरिक गिरफ्तार

ARREST
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
त्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने वीजा अवधि खत्म होने के बाद अवैध रूप से भारत में रह रहे तीन चीनी नागरिकों को शनिवार को गिरफ्तार किया।इस मामले की जांच कर रही नोएडा पुलिस ने दोनों चीनी जासूसों को नोएडा में शरण देने वाले चीनी नागरिक जू-फाई उसकी, महिला मित्र, रवि नटवरलाल, पुष्पेंद्र सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया।

नोएडा, 31 जुलाई। उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने वीजा अवधि खत्म होने के बाद अवैध रूप से भारत में रह रहे तीन चीनी नागरिकों को शनिवार को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ (नोएडा यूनिट) कुलदीप नारायण ने बताया कि जून माह में बिहार के सीतामढ़ी जिले के सुरसंड थाना क्षेत्र में सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) ने दो चीनी नागरिकों को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया था।

इस मामले की जांच कर रही नोएडा पुलिस ने दोनों चीनी जासूसों को नोएडा में शरण देने वाले चीनी नागरिक जू-फाई उसकी, महिला मित्र, रवि नटवरलाल, पुष्पेंद्र सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया था। नारायण ने बताया कि मामले की जांच कर रही एसटीएफ ने गिरफ्तार आरोपियों को पुलिस हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की। उनके पास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज और सामग्री बरामद हुई है। उन्होंने बताया कि एसटीएफ ने शनिवार को इस मामले में चेन जुन्फेंग, लियू पेंगफे, झंग क्यूचाओ को गिरफ्तार किया है।

उन्होंने बताया कि इनके पास से एक ही नंबर प्लेट की दूतावास की दो कार, एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है। अधिकारियों ने बताया कि दो चीनी नागरिक वीजा अवधि खत्म होने के बाद भारत में अवैध रूप से रह रहे थे जबकि एक फर्जी भारतीय दस्तावेज के आधार पर रह रहा था। पिछले दो महीने में करीब 30 चीनी नागरिकों को गिरफ्तार या हिरासत में लिया गया जो नोएडा या ग्रेटर नोएडा में अवैध रूप से रह रहे थे अथवा भारतीय कानूनों का उल्लंघन कर रहे थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़