देर से ऑक्सीजन मिलने से तीन मरीजों की मौत, मानव अधिकार आयोग ने मांगी रिपोर्ट

देर से ऑक्सीजन मिलने से तीन मरीजों की मौत, मानव अधिकार आयोग ने मांगी रिपोर्ट

एक मृतक के अटेंडर ने कहा कि बीते मंगलवार की रात 3 बजे के बाद उनके मरीज का ऑक्सीजन लेवल गिरने लगा। डॉक्टर की पर्ची लेकर ऑक्सीजन प्रभारी के पास पहुंचे, तो उन्होंने सिविल सर्जन के पास भेज दिया, जब तक सिलेंडर मिला, उनके मरीज की मौत हो चुकी थी।

भोपाल। मध्य प्रदेश मानव अधिकार आयोग ने अशोकनगर के जिला अस्पताल में ऑक्सीजन समय पर न मिलने पर तीन मरीजों की मौत पर संज्ञान लिया है। इस मामले में मानव अधिकार आयोग ने कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, अशोकनगर से 07 मई 2021 तक प्रतिवेदन मांगा है।

 

इसे भी पढ़ें: अंतर्राज्यीय सीमाएँ सील करने पर किया जा रहा है विचार - डॉ. नरोत्तम मिश्रा

जिला अस्पताल अशोकनगर में समय पर ऑक्सीजन न मिलने के कारण तीन मरीजों की बीते बुधवार को मौत हो गई है। मृतकों के परिजनों ने आरोप लगाया है कि जिला अस्पताल प्रबंधन ने ऑक्सीजन सिलेंडर काफी देर से उपलब्ध कराया, तब तक काफी देर हो चुकी थी। एक मृतक के अटेंडर ने कहा कि बीते मंगलवार की रात 3 बजे के बाद उनके मरीज का ऑक्सीजन लेवल गिरने लगा। डॉक्टर की पर्ची लेकर ऑक्सीजन प्रभारी के पास पहुंचे, तो उन्होंने सिविल सर्जन के पास भेज दिया, जब तक सिलेंडर मिला, उनके मरीज की मौत हो चुकी थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।