मतदाताओं को सशक्त बनाने के लिए भय का माहौल दूर होना चाहिए: जगदीप धनखड़

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   19:00
मतदाताओं को सशक्त बनाने के लिए भय का माहौल दूर होना चाहिए: जगदीप धनखड़

धनखड़ ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर एक संदेश में कहा कि राज्य तभी उन्नति कर सकता है जब लोकतंत्र फले फूले। उन्होंने कहा कि राजनीतिक तटस्थता का अभाव गलत होगा, जिसके परिणाम सामने होंगे।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार को मतदाताओं को सशक्त बनाने, उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने और भय का माहौल को दूर करने के लिए सभी तरह के प्रयास करने का आह्वान किया। धनखड़ ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर एक संदेश में कहा कि राज्य तभी उन्नति कर सकता है जब लोकतंत्र फले फूले। उन्होंने कहा कि राजनीतिक तटस्थता का अभाव गलत होगा, जिसके परिणाम सामने होंगे। राज्यपाल ने ममता बनर्जी के ट्विटर हैंडल को टैग करते हुए ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर मतदाताओं को सशक्त, सतर्क, सुरक्षित और सूचित बनाने के लिए सभी प्रयास करें।’’

25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है जिस दिन चुनाव आयोग की स्थापना हुई थी। धनखड़ ने यह भी कहा कि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए प्रशासन और पुलिस को ‘‘राजनीतिक रूप से तटस्थ’’ होना चाहिए। धनखड़ ने रविवार को लोगों से राज्य में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने का गणतंत्र दिवस पर शपथ लेने का आग्रह किया था। 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए चुनाव इस वर्ष अप्रैल-मई में होने की संभावना है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।