शिवाजी महाराज की 13वीं पीढ़ी से आते हैं उदयनराजे भोसले, जनता में खूब है लोकप्रियता

शिवाजी महाराज की 13वीं पीढ़ी से आते हैं उदयनराजे भोसले, जनता में खूब है लोकप्रियता

उदयनराजे शुरुआत में भारतीय जनता पार्टी के सदस्य थे और महाराष्ट्र विधान सभा के सदस्य भी रह चुके हैं। भाजपा-शिवसेना सरकार में उन्हें मंत्री भी बनाया गया था। इसके बाद उन्होंने शरद पवार की पार्टी एनसीपी का दामन थाम लिया।

महाराष्ट्र की राजनीति में उदयनराजे भोसले का नाम कोई नया नहीं है। उदयनराजे भोसले फिलहाल भाजपा के सदस्य हैं और राज्यसभा के सांसद हैं। उदयनराजे भोसले का जन्म 24 फरवरी 1966 को महाराष्ट्र के सतारा में हुआ था। बताया जाता है कि उदयनराजे भोसले छत्रपति शिवाजी महाराज की तेरहवीं पीढ़ी से आते हैं। जनता में उदयनराजे का नाम बेहद ही लोकप्रिय है। स्थानीय लोग इन्हें राजा उदयन के नाम से बुलाते हैं। इनके लिए यह कहा जाता था कि यह भले ही चुनाव में जनता के बीच में वोट मांगने नहीं जाए, बावजूद इसके जनता इनके समर्थन में खड़ी रहती थी। उदयनराजे ने अपनी राजनीति की शुरुआत 90 के दौर में की थी। उदयनराजे की पत्नी का नाम दमयंति राजे है। 

इसे भी पढ़ें: जवाहरलाल नेहरू के फैन है स्वराज पॉल, इस विवाद से सुर्खियों में आया था नाम

उदयनराजे शुरुआत में भारतीय जनता पार्टी के सदस्य थे और महाराष्ट्र विधान सभा के सदस्य भी रह चुके हैं। भाजपा-शिवसेना सरकार में उन्हें मंत्री भी बनाया गया था। इसके बाद उन्होंने शरद पवार की पार्टी एनसीपी का दामन थाम लिया। एनसीपी के टिकट पर वह 2009, 2014 और 2019 में लोकसभा का चुनाव जीतने में कामयाब रहे। 2014 और 2019 की उनकी जीत अपने आप में काफी सुर्खियों में रही थी। मोदी लहर के बावजूद उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में 5 लाख से ज्यादा वोट हासिल किया था। हालांकि 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के ठीक पहले उन्होंने एनसीपी का साथ छोड़कर भाजपा में जाना बेहतर समझा। 2019 के लोकसभा उपचुनाव में उनकी हार हुई। इसके बाद भाजपा ने उन्हें राज्यसभा का सदस्य बनाया। 

इसे भी पढ़ें: सुषमा स्वराज: प्रखर और ओजस्वी वक्ता, प्रभावी पार्लियामेंटेरियन और कुशल प्रशासक जिन्हें हर वर्ग के लोगों का मिला भरपूर प्यार

उदयनराजे के बारे में कहा जाता है कि अपने क्षेत्र की जनता में वह काफी व्यवहारिक रहते हैं। अपने क्षेत्र की जनता को वह अपने परिवार मानते हैं और अक्सर छोटे बड़े कार्यक्रमों में जाते रहते हैं। जमीन पर उनकी सक्रियता भी देखने को मिलती है। उदयनराजे अपने दमदार भाषनों के लिए भी जाने जाते हैं। इन्हें दबंग सांसद के भी रूप में देखा जाता है। उदयनराजे को महंगी गाड़ियों का शौक है। इसके  अलावा उनके पास लग्जरी कारों और बाइक्स का भी बड़ा कलेक्शन है। लेकिन कई बार उदयनराजे स्कूटर या बाइक से भी अपने इलाके के लोगों को मिलने चले जाते हैं। हालांकि इनके काफिले में कम से कम 10 गाड़ियां तो जरूर ही रहती है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।