UP में प्रतिदिन सबसे अधिक टीकाकरण किया जा रहा, अब तक 2 करोड़ 62 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 22, 2021   21:45
UP में  प्रतिदिन सबसे अधिक टीकाकरण किया जा रहा, अब तक 2 करोड़ 62 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गए

प्रदेश में अब तक 02 करोड़ 62 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गयी, जिसमें पहली डोज 02 करोड़ 22 लाख से अधिक तथा दूसरी डोज 40 लाख से अधिक लोगों को लगायी गयी। 01 जुलाई से टीकाकरण के लिए अतिरिक्त केन्द्र खोले जा रहे है जिससे कि 10 से 12 लाख प्रतिदिन टीकाकरण किया जा सके।

मुख्यमंत्री के 3टी ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट अभियान के साथ-साथ आशिंक कोरोना कफ्र्यू, निगरानी समिति द्वारा घर-घर जाकर सर्विलांस तथा टीकाकरण का अभिनव प्रयोग करने से प्रदेश में कोरोना के मामले घटे। प्रदेश में 24 घंटे में 255 नये मामले आये है तथा 397 लोग कोविड से ठीक हुए। प्रदेश में 30 अप्रैल के सक्रिय मामले 03 लाख 10 हजार से घटकर 3,910 हो गये। प्रदेश में कोविड से ठीक होने का प्रतिशत बढ़कर अब 98.5 प्रतिशत। प्रदेश में संक्रमण कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्टों की संख्या में कम नहीं की जा रही है, ताकि संक्रमित व्यक्ति की पहचान करके इलाज किया जा सके। विगत 24 घंटे में 2,44,275 टेस्ट तथा अब तक 5,57,30,488 टेस्ट किये गये जो देश में सर्वाधिक सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली जा रही। 97,000 ग्रामीण पंचायतों में 5 मई, 2021 से एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें 80,000 निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा। अगर एन्टीजन टेस्ट निगेटिव आ रहा है और लक्षण हैं तो उनका आरटीपीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है, इसके साथ-साथ मेडिकल किट भी बांटी गयी। सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया। आंशिक कोरोना कफ्र्यू के समय से प्रदेश में जीवन और जीविका बचाने के उद्देश्य से औद्योगिक और आर्थिक गतिविधियां चालू रही। 

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में कल एक आनॅलाइन मेले का आयोजन किया जायेगा। मेले में 30 हजार से अधिक नई इकाइयों को बैंकों से समन्वय करके लोन उपलब्ध कराया जायेगा। मिशन रोजगार के तहत अधिक से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा। मनरेगा के तहत 20 लाख से अधिक लोगों को काम उपलब्ध कराया गया। मुख्यमंत्री ने नारी शक्ति मिशन तथा मातृशक्ति की परिकल्पना के तहत नोएडा शूटिंग रेंज का नाम ख्याति निशानेबाज चन्द्रो तोमर के नाम पर किये जाने की घोषणा की। प्रधानमंत्री के द्वारा 18 वर्ष से अधिक सभी लोगों को निशुल्क उपलब्ध करायी गयी वैक्सीन का अभियान प्रारंभ हो गया। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री मौर्य के आवास पर भोज में शामिल हुए योगी आदित्‍यनाथ

उत्तर प्रदेश देश में प्रतिदिन सबसे अधिक टीकाकरण किया जा रहा

प्रदेश में अब तक 02 करोड़ 62 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गयी, जिसमें पहली डोज 02 करोड़ 22 लाख से अधिक तथा दूसरी डोज 40 लाख से अधिक लोगों को लगायी गयी। 01 जुलाई से टीकाकरण के लिए अतिरिक्त केन्द्र खोले जा रहे है जिससे कि 10 से 12 लाख प्रतिदिन टीकाकरण किया जा सके। प्रदेश में 12 वर्ष से कम आयु वाले बच्चों के अभिभावकों का, महिलाओं का तथा रेहड़ी पटरी आदि लोगों का अलग से बूथ बनाकर टीकाकरण प्राथिमकता के आधार पर किया जा रहा। कोविड-19 की सम्भावित तीसरी लहर के दृष्टिगत प्रदेश में अवस्थापना सुविधा बढ़ाई जा रही। संभावित कोविड की तीसरी लहर के तहत सभी मेडिकल कालेज में 100-100 बेड पीआईसीयू के, हर जिला अस्पताल में 20-20 बेड पीआईसीयू के और कम से कम दो सीएचसी में पीकू/नीकू के बेड बढ़ाये जा रहे हैं। प्रदेश में भविष्य में आॅक्सीजन की कमी न हो उसकी व्यवस्था प्राथमिकता के आधार पर की जा रही है। जिनमें से अबतक 105 प्लांट क्रियाशील। कल प्रदेश में 268 मी0टन आक्सीजन उपलब्ध करायी गयी। प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है और किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल को खरीदे जाने की प्रक्रिया। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए तेजी से चल रही है। 90 प्रतिशत किसानों का भुगतान राशि सीधे उनके खाते में भेज दिया गया है तथा शेष किसानों के भुगतान का कार्य तेजी से चल रहा है

अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री के 3टी ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट अभियान के साथ-साथ आशिंक कोरोना कफ्र्यू, निगरानी समिति द्वारा घर-घर जाकर सर्विलांस तथा टीकाकरण का अभिनव प्रयोग करने से प्रदेश में कोरोना के मामले घटे है। प्रदेश में 24 घंटे में 255 नये मामले आये है तथा 397 लोग कोविड से ठीक हुए है। प्रदेश में 30 अप्रैल के सक्रिय मामले 03 लाख 10 हजार से घटकर 3,910 हो गये है। प्रदेश में कोविड से ठीक होने का प्रतिशत बढ़कर अब 98.5 प्रतिशत हो गया है। प्रदेश में संक्रमण कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्टों की संख्या में कम नहीं की जा रही है, ताकि संक्रमित व्यक्ति की पहचान करके इलाज किया जा सके। विगत 24 घंटे में 2,44,275 टेस्ट तथा अब तक 5,57,30,488 टेस्ट किये गये है। जो देश में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि 97,000 ग्रामीण पंचायतों में 5 मई, 2021 से एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें 80,000 निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा है। अगर एन्टीजन टेस्ट निगेटिव आ रहा है और लक्षण हैं तो उनका आरटीपीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है, इसके साथ-साथ मेडिकल किट भी बांटी गयी है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया है।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त ने कहा- सभी तटबंध सुरक्षित, कहीं भी किसी प्रकार की चिन्ताजनक परिस्थिति नहीं

सहगल ने बताया कि आंशिक कोरोना कफ्र्यू के समय से प्रदेश में जीवन और जीविका बचाने के उद्देश्य से औद्योगिक और आर्थिक गतिविधियां चालू रही। मुख्यमंत्री जी की अध्यक्षता में कल एक आनॅलाइन मेले का आयोजन किया जायेगा। इस मेले में 30 हजार से अधिक इकाइयों को बैंकों से समन्वय करके लोन उपलब्ध कराया जायेगा। मिशन रोजगार के तहत अधिक से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। मनरेगा के तहत 20 लाख से अधिक लोगों को काम उपलब्ध कराया गया है। मुख्यमंत्री ने नारी शक्ति मिशन तथा मातृशक्ति की परिकल्पना के तहत नोएडा शूटिंग रेंज का नाम ख्याति निशानेबाज चन्द्रो तोमर के नाम पर किये जाने की घोषणा की है। सहगल ने बताया कि उत्तर प्रदेश देश में प्रतिदिन सबसे अधिक टीकाकरण किया जा रहा है। कल एक दिन में 07 लाख से अधिक टीकाकरण किया गया है। जिसे और तेजी से बढ़ाया जा रहा है। प्रधानमंत्री  के द्वारा 18 वर्ष से अधिक सभी लोगों को निशुल्क उपलब्ध करायी गयी वैक्सीन का अभियान प्रारंभ हो गया है। प्रदेश में अब तक 02 करोड़ 62 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गयी है। जिसमें पहली डोज 02 करोड़ 22 लाख से अधिक तथा दूसरी डोज 40 लाख से अधिक लोगों को लगायी गयी है। 01 जुलाई से टीकाकरण के लिए अतिरिक्त केन्द्र खोले जा रहे है जिससे कि 10 से 12 लाख प्रतिदिन टीकाकरण किया जा सके। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 12 वर्ष से कम आयु वाले बच्चों के अभिभावकों का, महिलाओं का तथा रेहड़ी पटरी आदि लोगों का अलग से बूथ बनाकर टीकाकरण प्राथिमकता के आधार पर किया जा रहा है। सहगल ने बताया कि कोविड-19 की सम्भावित तीसरी लहर के दृष्टिगत प्रदेश में अवस्थापना सुविधा बढ़ाई जा रही है। उन्होंने बताया कि संभावित कोविड की तीसरी लहर के तहत सभी मेडिकल कालेज में 100-100 बेड पीआईसीयू के, हर जिला अस्पताल में 20-20 बेड पीआईसीयू के और कम से कम दो सीएचसी में पीकू/नीकू के बेड बढ़ाये जा रहे हैं। प्रदेश में भविष्य में आॅक्सीजन की कमी न हो उसकी व्यवस्था प्राथमिकता के आधार पर की जा रही है। प्रदेश में 531 आॅक्सीजन प्लांट स्थापित किये जा रहे है जिनमें से अबतक 105 प्लांट क्रियाशील हो गये है। कल प्रदेश में 268 मी0टन आक्सीजन उपलब्ध करायी गयी है। सहगल ने बताया कि प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है और किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल को खरीदे जाने की प्रक्रिया कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए तेजी से चल रही है। अब तक गेहँू क्रय अभियान के तहत लगभग 13 लाख किसानों से 56.11 लाख मी0 टन गेहूँ खरीदा गया है, जो विगत वर्ष से दोगुना है। 90 प्रतिशत किसानों का भुगतान उनके खाते में कर दिया गया तथा शेष किसानों का भुगतान शीघ्र ही करने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि खरीफ की फसल के लिए खाद, बीज उपलब्ध कराया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।