पंजाब के कृषि क्षेत्र को देश के सामने ‘मॉडल’ के तौर पर पेश किया जाएगा: केजरीवाल

Punjab
ANI Photo.
‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने यहां कहा, ‘‘पंजाब में, खेती एक बहुत बड़ा मुद्दा है। हमारा उद्देश्य है कि जिस तरह हमने दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के क्षेत्रों को ‘मॉडल’ के रूप में पेश किया है, हम पंजाब के कृषि क्षेत्र को देश के सामने एक मॉडल के रूप में पेश करेंगे।’’

चंडीगढ़|  आम आदमी पार्टी (आप) नेता एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि पंजाब में उनकी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार राज्य के कृषि क्षेत्र को देश के सामने एक ‘‘मॉडल’’ के रूप में पेश करेगी, जैसा कि पार्टी ने राष्ट्रीय राजधानी में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्रों में अपने उल्लेखनीय कार्यों के जरिये करके दिखाया है।

केजरीवाल ने ‘‘किसान हितैषी’’ फैसले लेने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार की भी सराहना की।

‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने यहां कहा, ‘‘पंजाब में, खेती एक बहुत बड़ा मुद्दा है। हमारा उद्देश्य है कि जिस तरह हमने दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के क्षेत्रों को ‘मॉडल’ के रूप में पेश किया है, हम पंजाब के कृषि क्षेत्र को देश के सामने एक मॉडल के रूप में पेश करेंगे।’’ उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी की सरकार द्वारा दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के क्षेत्रों में किए गए कार्यों की व्यापक रूप से सराहना की गई है।

केजरीवाल केंद्र के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ एक साल के आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिवारों की एक सभा को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर मुख्यमंत्री भगवंत मान और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव भी मौजूद थे।

केजरीवाल ने कहा कि पंजाब में उनकी पार्टी की सरकार की पहली प्राथमिकता किसानों की आय बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी (किसानों) आय नहीं बढ़ेगी, किसान आत्महत्या करते रहेंगे और कर्ज के जाल में फंसे रहेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़