यूपी में योगी ने किया ऐलान, कोविड अस्पतालों में मंकीपॉक्स प्रभावित मरीजों के लिए 10 बेड रखे जाएंगे आरक्षित

Yogi on Monkey Pox in UP
ANI
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में देश के कुछ हिस्सों में मंकीपॉक्स संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में इसे लेकर विशेष सावधानी बरती जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रदेश के कोविड अस्पतालों में न्यूनतम 10 बेड सिर्फ मंकीपॉक्स से प्रभावित मरीजों के लिए आरक्षित रखे जाएं।

लखनऊ, 27 जुलाई | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश के कुछ हिस्सों में मंकीपॉक्स संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्य में विशेष सावधानी बरतने का निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश के कोविड अस्पतालों में मंकीपॉक्स प्रभावित मरीजों के लिए कम से कम 10-10 बिस्तर आरक्षित रखे जाएं।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में देश के कुछ हिस्सों में मंकीपॉक्स संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में इसे लेकर विशेष सावधानी बरती जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रदेश के कोविड अस्पतालों में न्यूनतम 10 बेड सिर्फ मंकीपॉक्स से प्रभावित मरीजों के लिए आरक्षित रखे जाएं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि मंकीपॉक्स के लक्षण, उपचार और बचाव के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के मुताबिक आम लोगों को सही जानकारी देते हुए जागरूक किया जाए।

आदित्यनाथ ने अफ्रीकन स्वाइन फ्लू संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए कंटेनमेंट जोन की व्यवस्था लागू करने का निर्देश देते हुए कहा कि संक्रमित सुअरों की अंतिम क्रिया निर्धारित मेडिकल प्रोटोकॉल के अनुरूप की जाए। उन्होंने यह भी कहा कि सुअर पालन बहुत से लोगों के लिए रोजी-रोटी का जरिया है ऐसे में जिन पालकों के यहां अफ्रीकन स्वाइन फ्लू से सुअरों की मौत हुई है उन्हें आर्थिक सहायता देने के लिए प्रस्ताव तैयार किए जाएं।

आदित्यनाथ ने बैठक में कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में कोविड-19 संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। हालांकि उत्तर प्रदेश में संक्रमण की दर न्यूनतम है। उन्होंने सभी सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को बूस्टर डोज लगवाने का निर्देश देते हुए कहा कि आम लोगों को बूस्टर डोज लगवाने के लिए प्रेरित करने के काम में तेजी लाई जाए, इसके लिए मिशन मोड में प्रयास करने की जरूरत है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़