Davis Cup: AITA से नाराज भारतीय टेनिस संघ ने की पाकिस्तान से मैच हटाने की मांग

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 14 2019 5:15PM
Davis Cup: AITA से नाराज भारतीय टेनिस संघ ने की पाकिस्तान से मैच हटाने की मांग
Image Source: Google

अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने बुधवार को वैश्विक संस्था अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) से कहा कि वे पाकिस्तान के खिलाफ इस्लामाबाद में डेविस कप मुकाबले को या तो स्थगित करें या फिर दोनों देशों के बीच मौजूदा राजनयिक तनाव को देखते हुए ‘स्वत: संज्ञान’ लेकर तटस्थ स्थान पर मुकाबला कराएं। पहले से अधिक आक्रामक रवैया अपनाते हुए एआईटीए ने कहा है कि 14-15 सितंबर को होने वाले एशिया ओसियाना ग्रुप एक मुकाबले के लिए वह तटस्थ स्थान का आग्रह नहीं करेगा जैसा कि आईटीएफ ने कहा है

नयी दिल्ली। अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने बुधवार को वैश्विक संस्था अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) से कहा कि वे पाकिस्तान के खिलाफ इस्लामाबाद में डेविस कप मुकाबले को या तो स्थगित करें या फिर दोनों देशों के बीच मौजूदा राजनयिक तनाव को देखते हुए ‘स्वत: संज्ञान’ लेकर तटस्थ स्थान पर मुकाबला कराएं।

इसे भी पढ़ें: भारत-पाक डेविस कप मुकाबले पर खेल मंत्री कीरेन रीजीजू ने कही बड़ी बात

पहले से अधिक आक्रामक रवैया अपनाते हुए एआईटीए ने कहा है कि 14-15 सितंबर को होने वाले एशिया ओसियाना ग्रुप एक मुकाबले के लिए वह तटस्थ स्थान का आग्रह नहीं करेगा जैसा कि आईटीएफ ने कहा है। एआईटीए चाहता है कि आईटीएफ मौजूदा स्थिति के आधार पर फैसला करे और संघ ने साथ ही हैरानी जताई कि वैश्विक संचालन संस्था भारत को आग्रह करने के लिए कह रही है जबकि इसकी जिम्मेदारी आईटीएफ की है।

इसे भी पढ़ें: Davis Cup: पाकिस्तान के खिलाफ तटस्थ स्थान की मांग करेगा भारतीय टेनिस महासंघ



आईटीएफ के कार्यकारी निदेशक जस्टिन एल्बर्ट को लिखे पत्र में एआईटीए ने कहा, ‘‘मौजूदा स्थिति में आईटीएफ का निदेशक मंडल संभवत: दो विकल्पों पर विचार करना चाहेगा। पहला: इस डेविस कप मुकाबले को नवंबर/दिसंबर तक स्थानांतरित कर दिया जाए और उम्मीद करते हैं कि तब स्थिति बेहतर हो जाएगी।’’ संघ ने कहा, ‘‘दूसरा: मौजूदा स्थिति अनुकूल नहीं लग रही इसलिए आपके सुरक्षा सलाहकारों की रिपोर्ट के हमारे नजरिये के अनुसार आईटीएफ का निदेशक मंडल स्वत: संज्ञान लेते हुए आईटीएफ के खर्चे पर इस डेविस कप मुकाबले को तटस्थ स्थान पर कराने का फैसला कर सकता है।’’
अल्बर्ट ने इससे पहले ईमेल लिखकर कहा था कि आईटीएफ इस्लामाबाद में मौजूदा सुरक्षा इंतजामों से संतुष्ट है। जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने पर पाकिस्तान के साथ राजनयिक रिश्ते कम करने के बाद आईटीएफ ने यह टिप्पणी की थी। अल्बर्ट ने कहा था, ‘‘हम हैरान और बेहद चिंतित हैं कि एआईटीए ने अब तक वीजा हासिल नहीं किया है जबकि वीजा आमंत्रण पत्र 23 जुलाई को मिल गया था। डेविस कप नियमों के अनुसार वीजा आवेदन जरूरतों को पूरा करना मेहमान देश की जिम्मेदारी है।’’यह प्रतिक्रिया एआईटीए के ईमेल पर आई थी जिसमें पाकिस्तान की राजधानी में पुन: सुरक्षा जांच की मांग की गई थी। एआईटीए ने कहा कि वह आईटीएफ के जवाब से ‘निराश’ है।


एआईटीएफ के महासचिव हिरण्मय चटर्जी द्वारा आईटीएफ को लिखे पत्र के अनुसार, ‘पाकिस्तान का दौरा करने के हमारे इंतजामों को लेकर आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। हमारे पास वीजा आवेदन करने के लिए पर्याप्त समय है। अगर आपके पहले से अलग कोई सूचना है तो हमें बताइए।’’ एआईटीए ने कहा कि आईटीएफ को गौर करने की जरूरत है कि पाकिस्तान ने भारत के साथ राजनयिक रिश्ते कम कर दिए हैं और भारतीय उच्चायुक्त को जाने के लिए कहा है। चटर्जी ने कहा, ‘‘इस्लामाबाद में अब हमारा उच्चायुक्त नहीं है। भारत और पाकिस्तान के बीच ट्रेन सेवा बंद हो गई है। भारत और पाकिस्तान के बीच बस सेवा को भी तुरंत प्रभाव से रोक दिया गया है। पाकिस्तान में काफी तनाव है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय विमानों के लिए वायु क्षेत्र को भी बंद किया गया है।’’


चटर्जी ने कहा कि एआईटीए और आईटीएफ के सुरक्षा सलाहकारों के बीच शुक्रवार को टेलीफोन पर चर्चा हो सकती है और अगर भारत सुरक्षा इंतजामों और हमारी संबंधित टीमों के बीच चर्चा से संतुष्ट होता है तो सब कुछ ठीक होगा। उन्होंने कहा, ‘‘अगर एआईटीए संतुष्ट नहीं होता है तो हम आईटीएफ के निदेशक मंडल से आग्रह करेंगे कि इस डेविस कप मुकाबले में सुरक्षा से सबंधित मुद्दे पर हमें अपना पक्ष रखने का मौका दें।’’ चटर्जी ने कहा, ‘‘अगर आईटीएफ का निदेशक मंडल और डेविस कप समिति बढ़ते तनाव के कारण भविष्य को लेकर शत प्रतिशत निश्चित नहीं होती है तो निदेशक मंडल के पास अधिकार है कि वह या तो मुकाबले को स्थगित कर दें या इसका आयोजन तटस्थ स्थान पर करें।’’
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video