भारत और ऑस्ट्रेलिया में हैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज, बेहतर प्रदर्शन से होगा फैसला: जहीर खान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 20, 2020   16:47
भारत और ऑस्ट्रेलिया में हैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज, बेहतर प्रदर्शन से होगा फैसला: जहीर खान

पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान ने कहा कि इस समय जब कोई विश्व में शीर्ष स्तर के गेंदबाजों के बारे में बात करता है तो हमारे जेहन में जो नाम आते हैं, वे सभी इस श्रृंखला के लिये पिच पर होंगे।

मुंबई। पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का मानना है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मुकाबले का फैसला गेंदबाजों के प्रदर्शन से होगा क्योंकि दोनों टीमों में दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज शामिल हैं। भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी तो ऑस्ट्रेलियाई टीम में मिशेल स्टार्क और पैट कमिंस मौजूद हैं। भारतीय क्रिकेट टीम पूर्ण श्रृंखला के लिये आस्ट्रेलिया में है जिसमें तीन वनडे, तीन टी20 और चार टेस्ट मैच शामिल हैं। दौरा 27 नवंबर से वनडे श्रृंखला के साथ शुरू होगा। जहीर 2011 विश्व कप विजेता भारतीय टीम का हिस्सा थे, उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर हमेशा अच्छा उछाल और तेजी रहती है। इसलिये मुझे लगता है कि गेंदबाज ही वनडे, टी20 और टेस्ट श्रृंखला का फैसला करेंगे और साथ ही टीमें बतौर इकाई प्रतिद्वंद्वी टीम को कम स्कोर पर रोकने के लिये कैसा प्रदर्शन करती है।’’ 

इसे भी पढ़ें: चेतेश्‍वर पुजारा ने शुरू की प्रैक्टिस, उमेश यादव व आर अश्विन की गेंदों का किया सामना 

उन्होंने कहा, ‘‘इस समय जब कोई विश्व में शीर्ष स्तर के गेंदबाजों के बारे में बात करता है तो हमारे जेहन में जो नाम आते हैं, वे सभी इस श्रृंखला के लिये पिच पर होंगे। ’’ जहीर ने यह भी कहा कि स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की मौजूदगी से ऑस्ट्रेलिया में भारत को कड़ी चुनौती का सामना करना होगा। भारत ने पिछली बार ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर 2-1 से हराया था तब वार्नर और स्मिथ टीम में मौजूद नहीं थे क्योंकि दोनों खिलाड़ी गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में एक साल के लिये प्रतिबंधित थे। 

इसे भी पढ़ें: भारत के खिलाफ 100वां टेस्ट खेलेंगे नाथन लियोन, इस बड़े 'लक्ष्य' पर हैं नजरें 

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज ने श्रृंखला के अधिकारिक प्रसारक सोनी पिक्चर्स स्पोर्ट्स नेटवर्क द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा, ‘‘अब स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी कर चुके हैं, भारतीयों को निश्चित रूप से आस्ट्रेलिया के पिछले दौरे से ज्यादा कड़ी चुनौती का सामना करना होगा।’’ उन्होंने कहा कि इस श्रृंखला में कोई भी प्रबल दावेदार नहीं है क्योंकि दोनों ही टीमों के पास बेहतरीन बल्लेबाजी और गेंदबाजी लाइन अप है और यही चीज आगामी दौरे को देखने के लिये दिलचस्प बनायेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।