जीत से अभियान का अंत करने उतरेंगे ब्राजील और माली

Brazil and Mali will go to end campaign with victory
कोलकाता। अपने चौथे खिताब की दौड़ से सेमीफाइनल में बाहर होने के बाद ब्राजील अब फीफा अंडर-17 विश्व कप के कल यहां होने वाले तीसरे स्थान के प्लेआफ मैच में माली के खिलाफ जीत दर्ज करके अपने अभियान का अंत करना चाहेगा। सेमीफाइनल में हार के बाद अब दांव पर कुछ खास नहीं लगा है और ऐसे में दोनों टीमें स्वच्छंद होकर मैदान पर उतरेंगी और अधिक से अधिक गोल करके जीत के साथ भारत को अलविदा कहना चाहेंगी। ब्राजील की नैसर्गिक फुटबाल और अफ्रीकी टीम की ताकत और तेजी के बीच मुकाबला रोमांचक होने की संभावना है। टूर्नामेंट से पहले खिताब के दावेदार रहे ब्राजील को सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। अब वह अपनी कुछ प्रतिष्ठा बचाने और कोलकाता के अपने समर्थकों में थोड़ा जोश भरने के लिये खेलेंगे। दर्शकों ने अब तक ब्राजील का भरपूर समर्थन किया तथा उसके खिलाड़ी एलन सूजा, लिंकन और पालिन्हो आदि ने कहा है कि दर्शकों की खातिर वे कांस्य पदक के मैच में भी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। ब्राजील के पास अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन वे मौकों का फायदा नहीं उठा पाये। उसने केवल कमजोर होंडुरास के खिलाफ तीन गोल किये और अधिकतर मैचों में उसने दो गोल दागे। यहां तक भी उत्तर कोरिया और नाइजर जैसी टीमों के खिलाफ भी वह बड़े अंतर से जीत दर्ज नहीं कर पाया। कार्लोस अमादेयु की टीम ने हालांकि जर्मनी के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मैच में शानदार वापसी की थी लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ सेमी फाइनल में वे इसे नहीं दोहरा पाये। माली पहली बार खिताब जीतने के लिये खेल रहा था। वह पिछली बार 2015 में चिली में उप विजेता रहा था। वह टूर्नामेंट की सबसे आक्रामक टीमों में से एक रही है। उसने अब तक छह मैचों में 16 गोल दागे हैं। वे खुला और आक्रामक खेल खेलते हैं और उन्होंने किसी भी टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा मौके बनाये हैं।माली ने छह मैचों में विरोधी गोल पर 157 मौके बनाये जिसमें 73 अवसरों पर उसके शाट लक्ष्य पर थे। इससे जाहिर होता है कि वह एक ऐसी टीम है जो हमेशा गोल करने पर ध्यान देती है। वह 4-1-4-1 के प्रारूप में खेलते हैं और इससे वे आक्रमण में अधिक खिलाड़ियों को रखते हैं।दोनों टीमें अपने कुछ नियमित खिलाड़ियों को विश्राम देकर अब तक अधिकतर मैचों में बाहर बैठे रहने वाले खिलाड़ियों को मौका दे सकते हैं।मैच शाम पांच बजे से खेला जाएगा।

कोलकाता। अपने चौथे खिताब की दौड़ से सेमीफाइनल में बाहर होने के बाद ब्राजील अब फीफा अंडर-17 विश्व कप के कल यहां होने वाले तीसरे स्थान के प्लेआफ मैच में माली के खिलाफ जीत दर्ज करके अपने अभियान का अंत करना चाहेगा। सेमीफाइनल में हार के बाद अब दांव पर कुछ खास नहीं लगा है और ऐसे में दोनों टीमें स्वच्छंद होकर मैदान पर उतरेंगी और अधिक से अधिक गोल करके जीत के साथ भारत को अलविदा कहना चाहेंगी। ब्राजील की नैसर्गिक फुटबाल और अफ्रीकी टीम की ताकत और तेजी के बीच मुकाबला रोमांचक होने की संभावना है।

टूर्नामेंट से पहले खिताब के दावेदार रहे ब्राजील को सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। अब वह अपनी कुछ प्रतिष्ठा बचाने और कोलकाता के अपने समर्थकों में थोड़ा जोश भरने के लिये खेलेंगे। दर्शकों ने अब तक ब्राजील का भरपूर समर्थन किया तथा उसके खिलाड़ी एलन सूजा, लिंकन और पालिन्हो आदि ने कहा है कि दर्शकों की खातिर वे कांस्य पदक के मैच में भी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। ब्राजील के पास अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन वे मौकों का फायदा नहीं उठा पाये। उसने केवल कमजोर होंडुरास के खिलाफ तीन गोल किये और अधिकतर मैचों में उसने दो गोल दागे। यहां तक भी उत्तर कोरिया और नाइजर जैसी टीमों के खिलाफ भी वह बड़े अंतर से जीत दर्ज नहीं कर पाया।

कार्लोस अमादेयु की टीम ने हालांकि जर्मनी के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मैच में शानदार वापसी की थी लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ सेमी फाइनल में वे इसे नहीं दोहरा पाये। माली पहली बार खिताब जीतने के लिये खेल रहा था। वह पिछली बार 2015 में चिली में उप विजेता रहा था। वह टूर्नामेंट की सबसे आक्रामक टीमों में से एक रही है। उसने अब तक छह मैचों में 16 गोल दागे हैं। वे खुला और आक्रामक खेल खेलते हैं और उन्होंने किसी भी टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा मौके बनाये हैं।माली ने छह मैचों में विरोधी गोल पर 157 मौके बनाये जिसमें 73 अवसरों पर उसके शाट लक्ष्य पर थे।

इससे जाहिर होता है कि वह एक ऐसी टीम है जो हमेशा गोल करने पर ध्यान देती है। वह 4-1-4-1 के प्रारूप में खेलते हैं और इससे वे आक्रमण में अधिक खिलाड़ियों को रखते हैं।दोनों टीमें अपने कुछ नियमित खिलाड़ियों को विश्राम देकर अब तक अधिकतर मैचों में बाहर बैठे रहने वाले खिलाड़ियों को मौका दे सकते हैं।मैच शाम पांच बजे से खेला जाएगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़