धवन और कार्तिक के अर्धशतक, भारत ने न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराया

India beat New Zealand by six wickets, level series 1-1
भुवनेश्वर कुमार की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और दिनेश कार्तिक के अर्धशतकों से भारत ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर की।

 पुणे। भुवनेश्वर कुमार की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और दिनेश कार्तिक के अर्धशतकों से भारत ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर की। भारत और न्यूजीलैंड के बीच यह 100वां वनडे मैच था जिसमें मेजबान टीम ने जीत का अर्धशतक पूरा करते हुए 50वीं जीत दर्ज की। न्यूजीलैंड ने 44 मैच जीते हैं। भारत ने 231 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए धवन (68) और कार्तिक (नाबाद 64) की पारियों की बदौलत 24 गेंद शेष रहते चार विकेट पर 232 रन बनाकर जीत दर्ज की। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 66 रन की साझेदारी की। धवन ने इसके अलावा कप्तान विराट कोहली (29) के साथ दूसरे विकेट के लिए 57 जबकि कार्तिक ने हार्दिक पंड्या (30) के साथ चौथे विकेट के लिए 59 रन भी जोड़े। इससे पहले स्विंग के बादशाह भुवनेश्वर (45 रन पर तीन विकेट), युजवेंद्र चहल (36 रन पर दो विकेट) और जसप्रीत बुमराह (38 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने न्यूजीलैंड की टीम नौ विकेट पर 230 रन ही बना सकी। पंड्या (23 रन पर एक विकेट) और अक्षर पटेल (54 रन पर एक विकेट) ने भी एक-एक विकेट हासिल किया। न्यूजीलैंड की ओर से हेनरी निकोल्स (42), कोलिन डि ग्रैंडहोम (41) और टाम लैथम (38) अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे। मिशेल सेंटनर (29) और टिम साउथी (नाबाद 25) ने अंत में नौवें विकेट के लिए 32 रन जोड़कर टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। श्रृंखला का तीसरा और निर्णायक मैच 29 अक्तूबर को कानपुर में होगा। इससे पूर्व इस मैच के आयोजन पर ही सवालिया निशान लग गया था जब बीसीसीआई ने महाराष्ट्र क्रिकेट संघ के क्यूरेटर पांडुरंग सलगांवकर को कथित तौर पर एक टीवी चैनल के स्टिंग आपरेशन के दौरान यह दावा करने पर निलंबित कर दिया कि वह मैच से पहले पिच से छेड़छाड़ कर सकते हैं। आईसीसी के पर्यवेक्षक ने पिच के निरीक्षण के बाद मैच के आयोजन को स्वीकृति दे दी।लक्ष्य का पीछा करने भारत ने पांचवें ओवर में ही रोहित शर्मा (07) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने साउथी की गेंद पर कोलिन मुनरो को आसान कैच थमाया। धवन और कप्तान कोहली ने इसके बाद पारी को संवारा। धवन ने साउथी पर पारी का पहला छक्का जड़ा जबकि कोहली ने बोल्ट की गेंद को दर्शकों के बीच पहुंचाकर आठवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया। कोहली हालांकि ग्रैंडहोम की गेंद पर विकेटकीपर लैथम को कैच दे बैठे। उन्होंने 29 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और एक छक्का मारा। धवन और कार्तिक ने इसके बाद पारी को संभाला। कार्तिक ने अपनी पहली गेंद पर ग्रैंडहोम पर चौके के साथ खाता खोला लेकिन इसके बाद भारत को अगली बाउंड्री के लिए 59 गेंद का इंतजार करना पड़ा। धवन और कार्तिक ने हालांकि इस दौरान रन गति कम नहीं होने दी। कार्तिक ने ग्रैंडहोम पर ही चौके के साथ बाउंड्री के सूखे को खत्म किया।

धवन ने इस बीच मुनरो पर एक रन के साथ 63 गेंद में 22वां अर्धशतक पूरा किया। धवन ने साउथी पर अपना दूसरा छक्का जड़ा लेकिन एडम मिल्ने की गेंद पर एक्सट्रा कवर में रोस टेलर को कैच दे बैठे। उन्होंने 84 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और दो छक्के मारे। कार्तिक ने ग्रैंडहोम पर चौके के साथ 76 गेंद में नौवां अर्धशतक पूरा किया। पंड्या हालांकि अगले ओवर में सेंटनर की गेंद पर फाइन लेग पर मिल्ने को कैच दे बैठे। भारत को अंतिम नौ ओवर में जीत के लिए 24 रन की दरकार थी और कार्तिक तथा महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 18) ने उसे आसानी से लक्ष्य तक पहुंचा दिया। कार्तिक ने 92 गेंद की अपनी पारी में चार चौके लगाये।इससे पहले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलिसमसन ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन भुवनेश्वर और बुमराह ने सातवें ओवर तक टीम का स्कोर तीन विकेट पर 27 रन कर दिया। मुनरो (10) ने भुवनेश्वर के दूसरे ओवर में छक्का जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज ने एक गेंद बाद मार्टिन गुप्टिल (11) को विकेटकीपर धोनी के हाथों कैच करा दिया। विलियमसन लगातार दूसरे मैच में नाकाम रहे और सिर्फ तीन रन बनाने के बाद बुमराह की सीधी गेंद पर पगबाधा हो गए। भुवनेश्वर ने अगले ओवर में मुनरो को भी बोल्ड किया। पहले वनडे में रिकार्ड 200 रन की साझेदारी से न्यूजीलैंड को जीत दिलाने वाली रोस टेलर (21) और लैथम की जोड़ी इस बार कोई कमाल नहीं कर सकी। दोनों ने 14वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। टेलर हालांकि इसके बाद पंड्या की शार्ट गेंद को पुल करने की कोशिश में विकेट के पीछे आसान कैच दे बैठे जिससे टीम का स्कोर 58 रन पर चार विकेट हो गया। लैथम और निकोल्स ने पांचवें विकेट के लिए 60 रन जोड़कर पारी को संभालने की कोशिश की। लैथम 29 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब चहल की गेंद पर धोनी ने उनका कैच छोड़ दिया। लैथम ने अक्षर की गेंद पर दो रन के साथ 26वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। वह हालांकि बायें हाथ के इसी स्पिनर की गेंद को स्वीप करने की कोशिश में अपना मिडिल स्टंप गंवा बैठे। उन्होंने 62 गेंद का सामना करते हुए दो चौके मारे। ग्रैंडहोम ने इसके बाद कुछ आकर्षक शाट खेले। उन्होंने अक्षर पर दो चौके जड़ने के अलावा चहल पर भी चौका और छक्का मारा। निकोल्स जब अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे तब भुवनेश्वर ने उनके स्टंप उखाड़ दिए। उन्होंने 62 गेंद की अपनी पारी में तीन चौके जड़े। सेंटनर (29) ने अक्षर के ओवर में चौका और छक्का जमाया लेकिन चहल ने लगातार गेंदों पर ग्रैंडहोम और मिल्ने (00) को पवेलियन भेजा। ग्रैंडहोम ने बुमराह को कैच थमाया जबकि मिल्ने पगबाधा हुए। सेंटनर और साउथी ने 47वें ओवर में स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। साउथी ने 49वें ओवर में बुमराह पर छक्का जड़ा जबकि सेंटनर इसी शाट को दोहराने की कोशिश में लांग आफ पर कोहली को कैच दे बैठे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़