भारतीय जूनियर टेबल टेनिस खिलाड़ियों को बहरीन में 12 पदक

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 13 2019 9:53AM
भारतीय जूनियर टेबल टेनिस खिलाड़ियों को बहरीन में 12 पदक
Image Source: Google

लड़कियों के कैडेट वर्ग में भारत के पांच खिलाड़ियों ने क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी लेकिन इनमें से केवल अनर्ज्ञया मंजूनाथ और यश्विनी देशपांडे ही सेमीफाइनल तक पहुंच पायी।

नयी दिल्ली। भारतीय खिलाड़ियों ने बहरीन के मनामा में आयेाजित जूनियर एवं कैडेट ओपन टेबल टेनिस प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए आठ और पदक अपने नाम किये और इस तरह से 12 पदकों के साथ अपने अभियान का समापन किया। यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार भारत के लिए लड़कों के अंडर-15 में विश्व में चौथे नंबर के पायस जैन एकल फाइनल में चेक गणराज्य के सिमोन बेलिक को 3-1 से हराकर स्वर्ण पदक जीता। 

 
लड़कियों के कैडेट वर्ग में भारत के पांच खिलाड़ियों ने क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी लेकिन इनमें से केवल अनर्ज्ञया मंजूनाथ और यश्विनी देशपांडे ही सेमीफाइनल तक पहुंच पायी। इन दोनों ने अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए क्रमश: यूनान की मालामेटिना पापादिमीत्रियू और मिस्र की हाना गोदा को 3-0 के समान स्कोर से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। कर्नाटक की अनर्ज्ञया ने फाइनल में यश्विनी को 3-1 से हराकर स्वर्ण पदक जीता। 
 
लड़कियों के कैडेट और जूनियर वर्ग में सुहाना सैनी और स्वास्तिका घोष ने कांस्य पदक जीते। जूनियर वर्ग में लड़कियों के युगल में अनर्ज्ञया मंजूनाथ और सुहाना ने रजत पदक हासिल किया। मनुश्री पाटिल और स्वास्तिका की जोड़ी को भी अपने वर्ग के फाइनल में हारने के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा। लड़कों के युगल वर्ग में पायस जैन और दीपित पाटिल ने भी रजत पदक जीता।


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप