नंबर एक बनने के पीछे नहीं भाग रहा: श्रीकांत किदांबी

Kidambi Srikanth wins title at a canter, but worries rise over a knee niggle
भारत के स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी श्रीकांत किदांबी ने पेरिस ओपन सुपर सीरिज जीत कर रिकार्ड की बराबरी करने के बाद कहा कि विश्व नंबर एक बनने के सपने के पीछे नहीं भाग रहे है।

पेरिस। भारत के स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी श्रीकांत किदांबी ने पेरिस ओपन सुपर सीरिज जीत कर रिकार्ड की बराबरी करने के बाद कहा कि विश्व नंबर एक बनने के सपने के पीछे नहीं भाग रहे है। उन्होंने कल जापान के क्वालीफायर केंटा निशिमोतो को सीधे गेम में 21-12, 21-13 से हराकर पुरूष एकल खिताब जीता। इस भारतीय खिलाड़ी ने मौजूदा सत्र में अपने पांचवें फाइनल में पहुंचकर नया भारतीय रिकार्ड बनाने के साथ ही साल का चौथा और कुल छठा सुपर सीरीज खिताब अपने नाम किया। इससे पहले उन्होंने इंडोनेशिया, आस्ट्रेलिया और डेनमार्क ओपन में खिताब जीते थे। वह एक साल में चार या इससे अधिक सुपरसीरिज खिताब जीतने वाले दुनिया के केवल चौथे खिलाड़ी हैं।

श्रीकांत से जब पूछा गया कि क्या उनका सपना विश्व रैंकिग में पहले स्थान पर आना है तो उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे नहीं पता ( मैं नंबर एक बनूंगा की नहीं)। निश्चित तौर पर मेरी रैंकिंग में सुधार होगा, लेकिन मुझे नहीं पता की मैं किस पायदान पर पहुंचूंगा। मैं रैंकिंग के पीछे नहीं भाग रहा हूं।’’ लगातार दो टूर्नामेंट डेनमार्क और फ्रेंच ओपन खिताब को जीतने वाले श्रीकांत ने जून में इंडोनेशिया और ऑस्ट्रेलिया ओपन खिताब जीता था। श्रीकांत ने कहा कि डेनमार्क के विश्व नंबर एक खिलाड़ी विक्टर एक्सलसेन अंकों के मामले में अभी भी उससे आगे है। उन्होंने कहा, ‘‘ डेनमार्क ओपन से पहले मेरे और उनके अंकों में काफी अंतर था। मुझे नहीं लगता कि मैं नंबर एक बनूंगा।

मुझे लगता है मेरी रैंकिंग में एक या दो पायदान का सुधार हो सकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ नंबर एक बनना निश्चित रूप से अच्छा है लेकिन मैं इसके बारे में अभी नहीं सोच रहा हूं। मेरे पास इसके बचाव के लिए कोई टूर्नामेंट नहीं है, इसलिए मैं रैंकिंग के पीछे भागने के बजाय बस अपने खेल का लुत्फ उठाना चाहता हूं।’’ श्रीकांत से जब पिछले दो सप्ताह के प्रदर्शन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने पिछले हफ्तों में जिस तरह से प्रदर्शन किया था, उससे काफी खुश हूं। कुछ करीबी मैच थे। मुझे लगता है मैं उन मैचों को अपने पाले में करने के मामले में बहुत भाग्यशाली रहा।’’

लगातार दो सुपर सीरीज जीत कर वह दिसंबर में दुबई में होने वाली सुपर सीरीज फाइनल के लिये क्वालीफाई करने वाले खिलाड़ियों में शीर्ष पर है। इस सुपर सीरीज फाइनल में साल के 12 सुपर सीरीज मुकाबलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले आठ खिलाड़ियों के बीच खिताबी मुकाबला होता है। श्रीकांत ने कहा कि उन्होंने अभी आगे के कार्यक्रम की योजना नहीं बनायी है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे अगले टूर्नामेंट में कैसे जाना है इसका पता नहीं, इस बारे में अपने कोच से बात कर तय करूंगा की सुपर सीरिज फाइनल से पहले मैं कौन सा टूर्नामेंट खेलना है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़