Tokyo Olympics: मोरक्को के मुक्केबाज ने प्रतिद्वंद्वी का कान काटने की कोशिश की, बाल-बाल बचे डेविड न्याका

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 27, 2021   18:19
Tokyo Olympics: मोरक्को के मुक्केबाज ने प्रतिद्वंद्वी का कान काटने की कोशिश की, बाल-बाल बचे डेविड न्याका

मोरक्को के मुक्केबाज ने प्रतिद्वंद्वी का कान काटने की कोशिश की।नुस को जजों के सर्वसम्मत निर्णय से हार का सामना करना पड़ा और न्याका क्वार्टर फाइनल में पहुंच गये। यूनुस ने हालांकि माउथ गार्ड (दांतों को चोट से बचाने वाला कवच)पहना था, जिस कारण न्याका के कान के पास उनके दांतों का निशान नहीं बना।

तोक्यो। मोरक्को के एक हैवीवेट मुक्केबाज (91 किग्रा) ने तोक्यो ओलंपिक में अपने शुरुआती मुकाबले में न्यूजीलैंड के प्रतिद्वंद्वी के कान को काटने की कोशिश की। यूनुस बल्ला ने तीसरे दौर के मुकाबले में माइक टायसन की तरह रिंग डेविड न्याका के कान के पास काटने की कोशिश की। युनुस को जजों के सर्वसम्मत निर्णय से हार का सामना करना पड़ा और न्याका क्वार्टर फाइनल में पहुंच गये। यूनुस ने हालांकि माउथ गार्ड (दांतों को चोट से बचाने वाला कवच)पहना था, जिस कारण न्याका के कान के पास उनके दांतों का निशान नहीं बना।

इसे भी पढ़ें: तोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक में पदक जीतने वाले छात्रों को नकद पुरस्कार देगी LPU!

न्याका ने कहा, ‘‘ वह पूरी तरह से काटने में सफल नहीं हुआ। मेरी किस्मत अच्छी थी कि उसने माउथगार्ड पहना था और यह उतना गंभीर नहीं था। मुझे लगता है वह मेरी गाल पर काटना चाहता था।’’ रेफरी हालांकि इस घटना को नहीं देख सकें जिससे यूनुस को बाउट के दौरान दंडित नहीं किया गया था। यह टेलीविजन कैमरे की पकड़ में आ गया। टायसन ने 1997 में इवांडर होलीफील्ड के कान को दो बार काटा था। इस घटना ने काफी सुर्खियां बटोरी थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।