पाकिस्तान का दावा खारिज किये जाने का निर्णय स्वागत योग्य: अनुराग ठाकुर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 20, 2018   19:55
पाकिस्तान का दावा खारिज किये जाने का निर्णय स्वागत योग्य: अनुराग ठाकुर

उन्होंने कहा, भारत से द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज को लेकर मुआवजा मांगने के बजाय पाकिस्तान को इस बात पर ध्यान देना चाहिये कि दोनों देशों के आपसी संबंध किस तरह बेहतर हो सकते हैं।

 इंदौर। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के खिलाफ पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के 447 करोड़ रुपये के मुआवजे के दावे को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के खारिज करने के फैसले का पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को स्वागत किया। मध्यप्रदेश के चुनावी दौरे पर यहां पहुंचे ठाकुर ने कहा, "मैं आईसीसी के इस फैसले का स्वागत करता हूं, क्योंकि बीसीसीआई से पीसीबी की मुआवजे की मांग एकदम बेतुकी थी।" 

उन्होंने कहा, "भारत से द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज को लेकर मुआवजा मांगने के बजाय पाकिस्तान को इस बात पर ध्यान देना चाहिये कि दोनों देशों के आपसी संबंध किस तरह बेहतर हो सकते हैं। पाकिस्तान को भारत विरोधी आतंकवादी घटनाओं पर रोक लगानी चाहिये। उसे अपनी सीमा से भारत में आतंकी घुसपैठ कराने का सिलसिला बंद करना चाहिये।" 

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से भाजपा के लोकसभा सदस्य ने कहा, "भारतीय दर्शक भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच तभी देखना पसंद करेंगे, जब दोनों देशों के बीच संबंध मधुर होंगे। द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज के लिये अभी वातावरण हर्गिज ठीक नहीं है।" पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष ने उम्मीद जतायी कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान खासकर पूर्व क्रिकेटर होने के नाते अपनी ओर से प्रयास करेंगे कि भारत के खिलाफ आतंकी गतिवधियों पर रोक लगाते हुए द्विपक्षीय माहौल सुधारा जाये। 

गौरतलब है कि द्विपक्षीय सीरीज से जुड़े सहमति पत्र (एमओयू) का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाते हुए पीसीबी ने अपने दावे के तहत बीसीसीआई से 447 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग की थी। इस एमओयू के तहत भारत को वर्ष 2015 से 2023 के बीच पाकिस्तान से छह द्विपक्षीय सीरीज खेलनी थीं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।