रैपिड टाईब्रेकर से होगा शतरंज विश्व खिताब का फैसला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2018   12:10
रैपिड टाईब्रेकर से होगा शतरंज विश्व खिताब का फैसला

लगभग तीन हफ्ते में 50 घंटे से अधिक के खेल के बावजूद शतरंज विश्व चैंपियनशिप के खिताब का फैसला टाईब्रेकर बाजियों के साथ होगा।

लंदन। लगभग तीन हफ्ते में 50 घंटे से अधिक के खेल के बावजूद शतरंज विश्व चैंपियनशिप के खिताब का फैसला टाईब्रेकर बाजियों के साथ होगा। अमेरिका के चैलेंजर फाबियानो करुआना और गत विश्व चैंपियन नार्वे के मैग्नस कार्लसन के बीच लगातार 12 बाजियां ड्रा रही। शतरंज विश्व चैंपियनशिप के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है। लंदन में ‘साउंडप्रूफ ग्लास’ केबिन में खेला जा रहे इस मैच का फैसला अब रेपिड बाजियों के नतीजे से होगा और अगर फिर भी नतीजा नहीं निकलता है तो विजेता का फैसला करने के लिए सडन डेथ प्रारूप का सहारा लिया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: मौजूदा चैम्पियन विश्वनाथ आनंद ने 145 चाल के बाद ड्रा खेला

छब्बीस साल के करूआना की नजरें बाबी फिशर के बाद पहला अमेरिकी विश्व चैंपियन बनने पर टिकी हैं। करुआना के खिलाफ हालांकि 27 साल के कार्लसन का पलड़ा भारी माना जा रहा है जो 19 साल की उम्र से दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी हैं और कम समय के मैचों में उन्हें काफी मजबूत माना जाता है। कार्लसन ने हालांकि सोमवार को 12वीं बाजी के दौरान करुआना को ड्रा की पेशकश करके कई कमेंटेटर को हैरान कर दिया जबकि विशेषज्ञों और कंप्यूटर प्रोग्राम का मानना था कि वह बेहतर स्थिति में थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।