Sports Highlights: एक साल के इंतजार के बाद कोलकाता में शुरू होगा एशिया का ऐतिहासिक टूर्नामेंट

Durand Cup 2021
प्रतिरूप फोटो
5 सितंबर से कोलकाता में एशिया का सबसे पुराना फुटबॉल टूर्नामेंट एक साल के ब्रेक के बाद फिर से शुरू होने जा रहा है। यह डूरंड कप 2021 का 130वां संस्करण होगा। इस टूर्नामेंट में 16 टीमों हिस्सा लेंगी।

5 सितंबर से कोलकाता में एशिया का सबसे पुराना फुटबॉल टूर्नामेंट एक साल के ब्रेक के बाद फिर से शुरू होने जा रहा है। यह डूरंड कप 2021 का 130वां संस्करण होगा। इस टूर्नामेंट में 16 टीमों हिस्सा लेंगी। कई वर्षों तक दिल्ली में आयोजित होने वाला यह टूर्नामेंट 2019 में कोलकाता में खेला गया था। इस साल भी टूर्नामेंट की मेजबानी पश्चिम बंगाल सरकार संयुक्त रूप से कर रही है। 

5 सितंबर से कोलकाता में शुरू होगा डूरंड कप 2021, ऐतिहासिक टूर्नामेंट में 16 टीमें लेंगी भाग

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की पांच और आई-लीग की तीन फ्रेंचाइजी टीमें प्रतिष्ठित डूरंड कप फुटबॉल टूर्नामेंट में भाग लेने वाली 16 टीमों में शामिल है जिसका आयोजन यहां पांच सितंबर से तीन अक्टूबर तक किया जाएगा। कई वर्षों तक दिल्ली में आयोजित होने वाला यह टूर्नामेंट 2019 में कोलकाता में खेला गया था। अब इसके 130वें सत्र का आयोजन भी इसी शहर में होगा। भारतीय सेना द्वारा पारंपरिक रूप से आयोजित होने वाली यह प्रतियोगिता दुनिया की तीसरा सबसे पुरानी और एशिया की सबसे पुरानी फुटबॉल प्रतियोगिता है। इस साल भी टूर्नामेंट की मेजबानी पश्चिम बंगाल सरकार संयुक्त रूप से कर रही है।

पाकिस्तानी थ्रोअर से जेवलिन लेने पर विवाद, नीरज चोपड़ा बोले- मेरी बात को अपने गंदे एजेंडे का मुद्दा न बनाएं

भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले नीरज चोपड़ा लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। स्वर्ण पदक जीतने के बाद नीरज चोपड़ा की हर तरफ से वाहवाही हो रही है। इन सब के बीच नीरज चोपड़ा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि पाकिस्तान के जैवलिन थ्रोअर अरशद नदीम द्वारा उनके जैवलिन को लिया गया था। इसके बाद से वह लगातार सोशल मीडिया पर विवाद मचा हुआ है। इसके बाद अब नीरज चोपड़ा ने खुद इस मामले पर एक वीडियो साझा कर अपनी बात कही है। नीरज चोपड़ा ने इस पूरे विवाद पर सफाई देते हुए कहा कि लोग इस मामले को तूल ना दें।

कब खेला गया था भारत में पहला डूरंड टूर्नामेंट? ISL की टीमें भी लेंगी हिस्सा

एशिया का सबसे पुराना और दुनिया का तीसरा सबसे पुराना फुटबॉल टूर्नामेंट एक साल के ब्रेक के बाद वापस खेला जाएगा। कोरोना महामारी के कारण एक साल का ब्रेक लगने के बाद यह टूर्नामेंट अब 5 सिंतबर से 3 अक्टूबर 2021 के बीच कोलकाता में खेला जाएगा। इस टूर्नामेंट का नाम डूरंड कप है और इसका 130वां संस्करण का आयोजन भारतीय सशस्त्र बलों और पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा संयुक्त रूप से सितंबर में कोलकाता में किया जाएगा। एक खबर के मुताबिक, यह दूसरी बार होगा जब फुटबॉल 2019 में पिछले संस्करण के बाद कोलकाता में यह टूर्नामेंट खेला जाएगा।

क्या 2036 का ओलंपिक भारत में होगा? मेजबानी का भारतीय इतिहास, चुनौतियां और संभावनाओं पर एक नजर

2024 का ओलंपिक फ्रांस के पेरिस में होगा तो 2028 में अमेरिका का लांस एंजेलिस ओलंपिक की मेजबानी करेगा। 2032 में ऑस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन का दावा सबसे मजबूत है। 2036 के ओलंपिक गेम्स की मेजबानी पर निर्णय नहीं हुई है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाक ने कहा है कि भारत उन कई देशों में शामिल है जो 2036, 2040 और इसके बाद होने वाले ओलंपिक की मेजबानी के इच्छुक हैं। आईओसी ने हाल में घोषणा की थी कि ब्रिसबेन 2032 ओलंपिक की मेजबानी करेगा।

Durand CUP 2021: एशिया की सबसे पुरानी फुटबॉल प्रतियोगिता, खोई हुई विरासत को पुनः प्राप्त करने की राह पर

एशिया के सबसे पुराने फुटबॉल टूर्नामेंट की वापसी हो रही है। 5 सितंबर को कोलकाता में शुरू होने वाले डूरंड कप 2021 का 130वां  संस्करण होगा।  डूरंड कप 2021 में 16 टीमों हिस्सा लेंगी। इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांच क्लब- बेंगलुरु एफसी, जमशेदपुर एफसी, केरला ब्लास्टर्स एफसी, हैदराबाद एफसी और एफसी गोवा – आई-लीग के गोकुलम केरला एफसी, मोहम्मडन स्पोर्टिंग और सुदेवा दिल्ली एफसी के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे। एफसी बेंगलुरू यूनाइटेड और दिल्ली एफसी भारतीय फुटबॉल के दूसरे डिवीजन का प्रतिनिधित्व करेंगे, जबकि भारतीय सेना की दो टीमें (रेड और ग्रीन) के साथ साथ भारतीय वायु सेना और भारतीय नौसेना, सीआरपीएफ और असम राइफल्स की एक-एक टीम टूर्नामेंट की 16 टीमों को पूरा करेंगीं।

अन्य न्यूज़