उड़ने वाली कार की दिखी पहली झलक, जल्दी ही होगी लोगों के बीच

उड़ने वाली कार की दिखी पहली झलक, जल्दी ही होगी लोगों के बीच

टेक्नोलॉजी ने जिस तरीके से तरक्की की है, उससे यह दिन अब दूर नहीं रह गया है, जल्द ही मानव अपनी उड़ने वाली कार की कल्पना को साकार करने वाला है। दुनिया के सभी बड़े देश जिसमें अमेरिका, चीन, रूस और जापान का नाम शामिल है, यह देश तेजी से 'फ्लाइंग कार' के कांसेप्ट पर काम कर रहे हैं।

जबभी कभी हम भारी ट्रैफिक में घंटों सड़क पर इंतजार करते होंगे, तो अक्सर आपके मन में ख्याल आता होगा कि, काश! मेरी कार उड़कर इस लंबे ट्रैफिक जाम को पार कर पाती। मानव मन की सबसे बड़ी खासियत यह है, कि वह जितना पाता है, उससे आगे की चाहत उसके मन में उत्पन्न होने लगती है। 

किसी साधारण मनुष्य के मन में यह चाहत अनायास ही नहीं आई है, बल्कि हमारी फिल्मों और कार्टून में अक्सर या दिखाया जाता है, कि हीरो और विलेन के पास उड़ने वाली कार है, और वह जब चाहें तब अपनी कार को हवा में उड़ा सकते हैं, और जब इच्छा हो तो अपनी कार को रोड पर दौड़ा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: कैसे करें Google Maps Speed Limit फीचर का इस्तेमाल?

आश्चर्य की बात यह है, कि टेक्नोलॉजी ने जिस तरीके से तरक्की की है, उससे यह दिन अब दूर नहीं रह गया है, और जल्द ही मानव अपनी उड़ने वाली कार की कल्पना को साकार करने वाला है। जी हाँ! दुनिया के सभी बड़े देश जिसमें अमेरिका, चीन, रूस और जापान का नाम शामिल है, यह देश तेजी से 'फ्लाइंग कार' के कांसेप्ट पर काम कर रहे हैं। 

कुछ देश तो कार के निर्माण के अगले चरण तक पहुँच  चुके हैं और दावा कर रहे हैं कि जल्द ही उड़ने वाली कार आम आदमी की पहुंच में होगी। 

इस सन्दर्भ में भारत की बात करें तो, भारत भी उड़ने वाली कार के कांसेप्ट से अछूता नहीं रहा है, और चेन्नई में इसका प्लांट लगाया जा चुका है। चेन्नई में स्थापित भारत के लिए फ्लाइंग कार बनाने वाली विनता एयरोमोबिलिटी (Vinata Aeromobility) स्टार्टअप कंपनी एशिया की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार लांच करने की तैयारी जोरों से कर रही है। 

कंपनी ने 5 अक्टूबर को कार की एक झलक दिखाई थी, और कहा जा रहा है कि साल के अंत तक या नए साल के शुरुआत में ही कंपनी अपने उड़ने वाली कार को लांच कर देगी। 

क्या है उड़ने वाली कार की खासियत

उड़ने वाली कार की खासियत की बात करें तो, इस कार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भरपूर प्रयोग किया गया है। साथ ही इस उड़ने वाली कार को डिजिटल इंस्ट्रूमेंट के साथ पेश किया गया है। 

कार को बनाने वाली 'विनता एयरोमोबिलिटी' का कहना है कि इस कार को जितनी बेहतर तरीके से रोड पर चलाया जा सकता है, उतनी ही बेहतर तरीके से आसमान में भी उड़ाया जा सकता है। लोगों की दिलचस्पी को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने कार के इंटीरियर और एक्सटीरियर दोनों पर बेहद बारीकी से काम किया है।

इसे भी पढ़ें: ये हैं 24 घंटे हार्ट-रेट मॉनिटर करने वाली शानदार स्मार्टवॉच, कीमत 3000 रुपये से कम

उड़ने वाली कार खूबसूरत दिखे इसके लिए इसके एक्सटीरियर को बेहद खूबसूरत बनाने का दावा किया जा रहा है। इस उड़ने वाली कार में जीपीएस ट्रैकर भी लगाया गया है, इसके अलावा पैनोरमिक विंडो कैनोपी से इस कार को लैस किया गया है, जिससे चालक को आसानी से मिल रियर व्यू मिल सके। 

कार का वजन और स्पीड

  

कार के कुल वजन की बात करें, तो यह 1100 किलोग्राम की बताई जा रही है, वहीं कार में 1300 किलोग्राम की क्षमता के साथ उड़ान भरने की काबिलियत है। कार की स्पीड 120 किलोमीटर प्रति घंटा तक बढ़ाया जा सकता है तथा यह एक बार में लगभग 60 मिनट यानी कि 1 घंटे की उड़ान भर सकती है।

इसे भी पढ़ें: ये हैं 24 घंटे हार्ट-रेट मॉनिटर करने वाली शानदार स्मार्टवॉच, कीमत 3000 रुपये से कम

वहीं यह उड़ने वाली कार हवा में 3000 तक ऊपर उड़ सकती है, और इसमें बायोफ्यूल का ही इस्तेमाल किया जा सकता है। कार बनाने वाली कंपनी का दावा है कि अगर हवा में उड़ने के दौरान कार का मोटर फेल हो जाता है, तो भी किसी को कोई नुकसान नहीं होगा और यह कार सही सलामत धरती पर उतर आएगी। 

तो अब इन्तज़ार का समय कम ही रह गया है, और जल्दी ही हमारे लिए उड़ने वाली कार का निर्माण संपन्न होने वाला है। 

- विंध्यवासिनी सिंह