अगर फोन हो गया है चोरी तो कर जल्दी से दीजिए ब्लॉक, यहां जानिए प्रोसेस

Smartphone
डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन की वेबसाइट सेंट्रल इक्विपमेंट आईडेंटिटी रजिस्टर (CEIR) से चोरी के स्मार्टफोन को ब्लॉक और अनब्लॉक किया जा सकता है। इसके साथ ही आप इसके जरिए फोन की लोकेशन का भी पता लगा सकते हैं।

आज के समय में स्मार्टफोन बस मनोरंजन करने तक सीमित नहीं है। इसमें बैंकिंग से लेकर लोगों की बेहद निजी जानकारी होती है। ऐसे में अगर आपका फोन कहीं खो जाता है, तो आपको कोई भी ब्लैकमेल कर सकता है। आपके खोए हुए फोन के जरिए किसी के साथ भी बड़ा फ्रॉड किया जा सकता है। सरकार भी आपकी इस बात को लेकर चिंता समझती है। इसीलिए इससे बचने के लिए सरकार घर बैठे आपको अपने स्मार्टफोन को ब्लॉक करने की सुविधा देती है। जब आप फोन को ब्लॉक कर देंगे तो कोई भी दूसरा उसका उपयोग नहीं कर पाएगा। अगर यूजर का फोन मिल भी जाता है तो वह दोबारा अपने फोन को अनलॉक कर सकता है। इस खबर में आपको विस्तार से बताते हैं कैसे फोन को ब्लॉक और अनब्लॉक किया जा सकता है।

सरकार करेगी सहायता

डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन की वेबसाइट सेंट्रल इक्विपमेंट आईडेंटिटी रजिस्टर (CEIR) से चोरी के स्मार्टफोन को ब्लॉक और अनब्लॉक किया जा सकता है। इसके साथ ही आप इसके जरिए फोन की लोकेशन का भी पता लगा सकते हैं।

दर्ज कराएं चोरी की रिपोर्ट

अगर आपका फोन चोरी हो जाए तो सबसे पहले स्मार्टफोन खोने की रिपोर्ट दर्ज कराएं। इसे आप ऑनलाइन भी दर्ज करा सकते हैं, जिससे चोरी होने वाले स्मार्टफोन का एफआईआर नंबर जनरेट होगा। रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद आपके फोन से कुछ भी गलत काम होता है तो उसके लिए आप कानूनी रूप से जिम्मेदार नहीं ठहराए जाएंगे।

इस तरह से करें फोन ब्लॉक

सबसे पहले आपको CIER की वेबसाइट पर जाना होगा।

जहां आपको Block/ Lost Mobile, Check Request status और un- block Found mobile के ऑप्शन मिलेंगे।

चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने के लिए Block/ Lost mobile पर क्लिक करना होगा।

इसके बाद एक पेज ओपन होगा इसमें आपको अपने मोबाइल की डिटेल दर्ज करनी होगी। मोबाइल डिटेल में मोबाइल का IMEI नंबर, डिवाइस ब्रांड, फोन कंपनी, खरीदने की इनवॉइस, फोन के खोने की तारीख दर्ज करनी होगी। इसके अलावा डिटेल के तौर पर राज्य, जिला, जिस एरिया में आपका फोन चोरी हुआ, कंप्लेंट नंबर दर्ज कराना होगा। सारी डिटेल भरने करने के बाद पुलिस शिकायत कॉपी को अपलोड करना होगा।

इसके बाद Add more कंप्लेंट पर क्लिक करना होगा, इसमें मोबाइल के मालिक का नाम, आधार कार्ड के साथ पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आईडेंटिटी को दर्ज करना होगा। इसके बाद आखरी बार मोबाइल नंबर दर्ज कराना होगा।इसके बाद आपके नंबर पर एक ओटीपी जाएगा। और उसके बाद वेरीफिकेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसको सबमिट कर के मोबाइल फोन को ब्लॉक किया जा सकेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़