ट्रैफिक पुलिस द्वारा काट दिया गया है गलत चालान तो इस तरह से करा सकते हैं कैंसिल, एक भी रुपया नहीं देना होगा

traffic police
इसी तरह गलत चालान को आप कोर्ट में जाकर भी चुनौती दे सकते हैं। आपको कोर्ट को बताना होगा कि आप किस वजह से उस चालान को चुनौती दे रहे हैं। कोर्ट में आपको यह भी साबित करना होगा कि आप की ओर से कोई गलती नहीं की गई है।

ट्रैफिक पुलिस ने आपका चालान गलती से काट दिया है या फिर आपकी गलती नहीं होने के बावजूद आपका चालान काटा गया है तो बिल्कुल भी परेशान ना हो। आप ट्रैफिक पुलिस द्वारा काटे गए इस चालान को कई स्तरों पर जाकर चुनौती दे सकते हैं। आपके पास  विकल्प पहले से ही मौजूद हैं जिसके जरिए आप चालान कैंसिल करवा सकते हैं। जरूरत है तो बस आपको जानकारी मिलनी भर की। इसके लिए आप ट्रैफिक पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर भी फोन कर सकते हैं।

इसकी जानकारी आप पास के ट्रैफिक पुलिस स्टेशन को भी दे सकते हैं। अगर इन जगहों पर भी आपकी शिकायत नहीं सुनी गई तो आपके पास इसको अदालत में भी चुनौती देने का विकल्प मौजूद है। अगर आप ट्रैफिक पुलिस द्वारा की गई गलती को साबित कर देते हैं तो आपको चालान जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी।

 

 अगर आप कार, ट्रक, मोटरसाइकिल, स्कूटर कुछ भी चलाते हैं तो आपका चालान कभी ना कभी जरूर कटा होगा। अगर कभी आपका चालान गलत काटा जाए तो सबसे पहले आपको अपने करीबी ट्रैफिक पुलिस स्टेशन में जाकर इसकी शिकायत करनी होगी। अगर आप ये समझाने में कामयाब हो जाते हैं कि आपका चालान गलत है। अगर वह अधिकारी आपकी बात मान लेता है तो वहां से भी आप का काटा हुआ चालान रद्द किया जा सकता है।

कोर्ट में भी दे सकते हैं चालान को चुनौती

इसी तरह गलत चालान को आप कोर्ट में जाकर भी चुनौती दे सकते हैं। आपको कोर्ट को बताना होगा कि आप किस वजह से उस चालान को चुनौती दे रहे हैं। कोर्ट में आपको यह भी साबित करना होगा कि आप की ओर से कोई गलती नहीं की गई है। पुलिस द्वारा किसी गलतफहमी या किसी और वजह से आपका चालान काटा गया है। कोर्ट अगर यह मान लेता है कि चालान गलत तरह से भेजा गया है तो कोर्ट उस चालान को रद्द कर देगा।

 आपको बता दें कि ट्रैफिक पुलिस ने ओवर स्पीडिंग, रेड लाइट जंपिंग और स्पॉटलाइट से आगे गाड़ी रोकने जैसे ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन की जानकारी रखने के लिए कैमरे लगा दिए हैं। इन कैमरों से ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों के ऑटोमेटिक नंबरप्लेट रीड करके चालान जनरेट हो जाते हैं। लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि लोगों की गाड़ी का नंबर प्लेट सही तरीके से नहीं लिखा होता या फिर किसी कारण से नंबर प्लेट सही दिखाई नहीं देता, और इस वजह से कई बार गलत चालान कट जाते हैं। नंबरप्लेट को गलत रीड करने के कारण गलती करने वाले के बजाय किसी दूसरे व्यक्ति का ही चालान कट जाता है। चालान कट गया है तो उसे कैंसिल भी करवाया जा सकता है।

अन्य न्यूज़