शटडाउन नहीं करने के कारण बेड पर रखा लैपटॉप फटा, पूरे घर में लगी आग

शटडाउन नहीं करने के कारण बेड पर रखा लैपटॉप फटा, पूरे घर में लगी आग

सॉफ्टवेयर इंजिनियर राहुल कुमार ने देर रात कर लैपटॉप पर काम किया और उसके बाद वह लैपटॉप को बिना शटडाउन किये हुए वह दूसरे कमरे में सोने चला गया। लगातार काम करने के बाद लैपटॉप गर्म हो गया था और इस बिना शटडाउन किये रखने पर उसमें आग लग गयी और जिस बेड पर लैपटॉप रखा वो पूरी तरह से जल गया।

अगर आप देर रात तक लैपटॉप पर काम करते है और फिर उसे बिना शटडाउन किये सो जाते हैं तो आप सावधान हो जाइए, क्योंकि आपकी ये लापरवाली आप की जान की दुश्मन भी बन सकती है। गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन रिवर हाईट सोसायटी में एक ऐसा हादसा हुआ जिसके बाद पूरी सोसायटी में सनसनी फैल गयी। रिवर हाईट सोसायटी के 7वें फ्लोर पर रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजिनियर  के घर में अचानक आग लग गयी देखते देखते फ्लैट का सारा सामान जल कर राख हो गया।

इसे भी पढ़ें: सोशल मीडिया पर स्पेशल-20 रखेगी नज़र, भोपाल क्राइम ब्रांच ने बनाई टीम

सॉफ्टवेयर इंजिनियर राहुल कुमार ने देर रात कर लैपटॉप पर काम किया और उसके बाद वह लैपटॉप को बिना शटडाउन किये हुए वह दूसरे कमरे में सोने चला गया। लगातार काम करने के बाद लैपटॉप गर्म हो गया था और इस बिना शटडाउन किये रखने पर उसमें आग लग गयी और जिस बेड पर लैपटॉप रखा वो पूरी तरह से जल गया। दूसरे कमरे में सो रहे इंजिनियर को घटना की जानकारी सुबह 8.30 बजे के आसपास हुई, जब कमरे से काफी धुआं निकल रहा था। धुआ निकता देख इंजिनियर ने कमरे को खोला जिसके बार पूरे घर में धुआ फैस गया और दम घुटने लगा। इस घटना से पूरा घर सहम गया और पड़ोसियों से मदद की गुहार लगाने लगे। आवाज सुनकर पड़ोसी और सोसाइटी के गार्ड मौका ए वारदात पर पहुंचे और फायर ब्रिगेड सूचना दी। आग का धुआ देखते-देखते पूरे घर में फैल गया। जान बचाने के लिए परिवार के लोग बालकनी पर भागे जहा से उन्हें रस्सी के सहारे नीचे उतारा गया।

इसे भी पढ़ें: बिहार में शराबबंदी से जुड़े दो लाख से अधिक मामले लंबित, हाई कोर्ट ने जताई चिंता

सॉफ्टवेयर इंजिनियर राहुल कुमार नोएडा की सेक्टर-62 में एक नेटवर्किंग बेस्ड कंपनी में काम करते है। रिवर हाईट सोसायटी ने राहुल अपनी पत्नी के साथ किराए के मकान में रह रहे थे। अपने बयान में उन्होंने कहा कि वह रात में ऑफिस में काम करके घर लौटे थे और नींद आने पर वह बिना बिना शटडाउन किए उसकी स्क्रीन को नीचे कर दूसरे कमरे में जाकर सो गए। सुबह उनकी पत्नी जो स्कूल में पढ़ाती है, स्कूल चली गईं। करीब 8.30 बजे अचानक पूरे घर में धुआं भर गया। तब उन्हें घटना की जानकारी हुई।

एक्सपर्ट कहते हैं कि कभी भी लैपटॉप या कोई और गैजेट चार्जिंग में लगाकर नहीं छोड़ना चाहिए। क्योंकि आप भेले ये सोचते हों कि गैजेट बंद है लेकिन उसकी बैट्री तो काम कर ही रही होती है। और लगातार चार्जिंग में रहने से गैजेट को आग भी लग सकती है।