राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: सुशांत की फिल्म छिछोरे को मिला सर्वक्षेष्ठ हिंदी फिल्म, कंगना सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री

National Film Awards
रेनू तिवारी । Mar 22, 2021 4:47PM
नई दिल्ली में सोमवार को 67 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की जा रही है। यह समारोह वर्ष 2019 के लिए फिल्मों और कलाकारों को सम्मानित कर रहा है। राष्ट्रीय सर्वक्षेष्ठ हिंदी फिल्म का पुरस्कार सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म छिछोरों को दिया जा रहा हैं।

नई दिल्ली में सोमवार को 67 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की जा रही है। यह समारोह वर्ष 2019 के लिए फिल्मों और कलाकारों को सम्मानित कर रहा है। राष्ट्रीय सर्वक्षेष्ठ हिंदी फिल्म का पुरस्कार सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म छिछोरों को दिया जा रहा हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मरणोपरांत यह पहली फिल्म है जिसे सर्वक्षेष्ठ फिल्म का पुरस्कार दिया जा रहा हैं। कंगना रनौत को सर्वक्षेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया जाएगा। कंगना को ये अवॉर्ड फिल्म मणिकर्णिका के लिए मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: Priyanka Oprah Winfrey Interview: प्रियंका चोपड़ा ने बताया, पिता की मौत के बाद भगवान से उठ गया था विश्वास

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की घोषणा 

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को सोमवार को घोषित किए गए 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया है। रनौत को यह पुरस्कार “मणिकर्णिका” और “पंगा” में भूमिका के लिए दिया गया। वहीं, मनोज वाजपेयी को “भोंसले” और धनुष को “असुरन” में शानदार अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार दिया गया है।

निर्देशक प्रियदर्शन की मलयालम फिल्म “मरक्कर: अरबिकाडालिन्ते सिंहम” को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म और संजय पूरन सिंह चौहान को हिंदी फिल्म “बहत्तर हूरें” के लिए सर्वोत्तम निर्देशक का पुरस्कार दिया गया है। राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार निर्णायक मंडल के प्रमुख एन चंद्रा ने कहा कि उन्होंने फिल्मों को पुरस्कार देने का निर्णय “भगवान के तौर पर नहीं बल्कि अभिभावक के तौर पर” लिया। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म “छिछोरे” को सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म के पुरस्कार के लिए चुना गया।

सामाजिक फिल्मों की श्रेणी में मराठी फिल्म “आनंदी गोपाल” को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार दिया गया। राष्ट्रीय एकता के लिए नरगिस दत्त पुरस्कार “ताजमहल” को दिया गया और सबसे अधिक लोकप्रिय तथा सर्वाधिक मनोरंजक फिल्म की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार तेलुगु फिल्म “महर्षि” को दिया गया। पहली फिल्म का इंदिरा गांधी पुरस्कार मलयाली फिल्म हेलेन को दिया गया, जिसका निर्देशन एम. जेवियर ने किया है।

 

यह पुरस्कार शुरू में पिछले साल मई में आयोजित किए जाने वाले थे, लेकिन कोरोनावायरस महामारी के कारण अनिश्चित काल के लिए विलंबित हो गए। यह पुरस्कार फिल्म फेस्टिवल निदेशालय द्वारा दिया जाता है, जो एक संगठन है जो सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत आता है। 

इसे भी पढ़ें: जॉन अब्राहम की फिल्म 'मुंबई सागा' को राहत, 19 मार्च को रिलीज होगी फिल्म 

यह पुरस्कार पारंपरिक रूप से भारत के राष्ट्रपति द्वारा प्रस्तुत किए जाते हैं। हालांकि, 66 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिए, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने सम्मान किया, जबकि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने विजेताओं के लिए डीनर की मेजबानी की थी।

उस वर्ष, गुजराती काल के नाटक हेलारो को सर्वश्रेष्ठ चित्र घोषित किया गया, जबकि लोकप्रिय अभिनेता विक्की कौशल और आयुष्मान खुराना ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (पुरुष) श्रेणी में ट्रॉफी प्राप्त की और कीर्ति सुरेश ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (महिला) श्रेणी की ट्रॉफी ली।

अन्य न्यूज़