• राज कुंद्रा को पॉर्न की दुनिया का 'बादशाह' बनने के लिए किसने किया प्रेरित? यह है Pornography पर पूरी रिसर्च

रेनू तिवारी Jul 26, 2021 13:47

कुछ देशों को अगर छोड़ दिया जाए तो 'सेक्स' शब्द को आज भी टेबू माना जाता है। सार्वजनिक रूप से व्यक्ति सेक्स शब्द का प्रयोग करने से आज भी परहेज करता है। समाजिक स्तर पर गुप्त रखा जाने वाला यह शब्द आर्थिक स्तर पर विकराल साम्राज्य स्थापित कर चुका है।

कुछ देशों को अगर छोड़ दिया जाए तो 'सेक्स' शब्द को आज भी टेबू माना जाता है। सार्वजनिक रूप से व्यक्ति सेक्स शब्द का प्रयोग करने से आज भी परहेज करता है। समाजिक स्तर पर गुप्त रखा जाने वाला यह शब्द आर्थिक स्तर पर विकराल साम्राज्य स्थापित कर चुका है। विश्व की अर्थव्यवस्था का एक तिहाई भार पॉर्न इंडस्ट्री अपने कंधों पर लिए हुए हैं। पॉर्न इंडस्ड्री का जाल पूरे विश्वभर में फैला हुआ है। कुछ देशों में पॉर्न फिल्में बैन होने के बावजूद लोग अलग-अलग गैर-कानूनी माध्यम से इसे देखते हैं। जिस तरह इंटरनेट ने विश्वभर को एक सूत्र में बांधा हुआ है उसी तरह कामासूत्र भी अहम भूमिका निभा रहा है। आज इस आर्टिकल में हम आपको पॉर्न इंडस्ट्री से जुड़ी अहम जानकारी देंगे। साथ ही आपको पॉर्न के नाम पर बनाई जा रही इरोटिक फिल्मों के बारे में भी विस्तार से बताएंगे। 

इसे भी पढ़ें: अश्लील फिल्म मामला: अभिनेत्री गहना वशिष्ठ तथा दो अन्य पुलिस के सामने पेश नहीं हुए  

क्यों ट्रेंड में आया पोर्नोग्राफी का मुद्दा? 

राज कुंद्रा बना अश्लील फिल्मों का बादशाह

बॉलीवुड की सुपरस्टार एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को पुलिस ने अश्लील फिल्म निर्माण करने के मामले में गिरफ्तार किया है। अश्लील फिल्म निर्माण मामले में हुई बड़ी गिरफ्तारी के बाद भारत में गैर कानूनी तरीके से की जा रही पोर्नोग्राफी के तार विदेश तक पहुंचे हुए हैं। फिलहाल राज कुंद्रा पुलिस हिरासत में है और उनसे इस मामले में पूछताछ की जा रही हैं। इस मामले को लेकर कुंद्रा की पत्नी शिल्पा शेट्टी से भी पुलिस ने पूछताछ की जिसमें शिल्पा ने राजकुंद्रा को लेकर अपने बयान में कहा कि उनके पति पॉर्न नहीं बल्की इरोटिक फिल्में बनाते हैं। ( इरोटिक फिल्में क्या होती हैं) बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने पुलिस से कहा है कि उन्हें ‘हॉट शॉट्स’ ऐप की सामग्री के बारे में कोई जानकारी नहीं थी, जिसके जरिए उनके पति राज कुंद्रा ने कथित तौर पर अश्लील फिल्में वितरित की थी। 

इसे भी पढ़ें: अश्लील फिल्म मामला: राजकुंद्रा और शर्लिन चोपड़ा के बीच थी सांठगांठ? एक्ट्रेस ने जारी किया अपना बयान  

शिल्पा शेट्टी और राजकुंद्रा के संबंध

मुंबई के कारोबारी कुंद्रा को शहर की पुलिस ने कथित तौर पर अश्लील फिल्में बनाने और ऐप के जरिए उन्हें वितरित करने को लेकर 19 जुलाई को गिरफ्तार किया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि शिल्पा ने शुक्रवार को पुलिस को दिये अपने बयान में कहा कि वह ऐप में मौजूद सामग्री के बारे में कुछ नहीं जानती थी और ना ही उन्होंने अपने पति के कारोबार में दखल दी थी। सूत्रों के मुताबिक शिल्पा ने बताया कि वह ऐप कारोबार से कहीं से भी जुड़ी हुई नहीं थीं। उन्होंने पुलिस को यह भी बताया कि उन्होंने कुंद्रा की कंपनी वियान इंडस्ट्रीज के निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया था। कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद यह मुद्दा गरमाया हुआ है। 

कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद यह मुद्दा गरमाया हुआ है। राजकुंद्रा कमाई के मामले में विश्व की रिचेस्ट लिस्ट में भी अपना नाम दर्ज करवा चुके हैं। वह भारत के अमीरों और सफल बिजनेसमैन में से एक हैं। तो क्या उन्होंने इतना पैसा पॉर्न इंडस्ट्री से कमाया है? इस सवाल का जवाब जांच एजेंसियां खंगाल रही हैं। 

सेक्स उद्योग क्या है?

सेक्स उद्योग (जिसे सेक्स ट्रेड भी कहा जाता है) में ऐसे व्यवसाय होते हैं जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सेक्स से संबंधित उत्पाद और सेवाएं या वयस्क मनोरंजन प्रदान करते हैं। इस उद्योग में वे गतिविधियाँ शामिल हैं जिनमें यौन-संबंधी सेवाओं का प्रत्यक्ष प्रावधान शामिल है, जैसे वेश्यावृत्ति, स्ट्रिप क्लब, होस्ट और होस्टेस क्लब और सेक्स-संबंधी शगल, जैसे पोर्नोग्राफी, सेक्स-उन्मुख पुरुषों की पत्रिकाएँ, सेक्स मूवी, सेक्स टॉय और फेटिश या बीडीएसएम सामग्री। टेलीविजन के लिए सेक्स चैनल और मांग पर वीडियो के लिए प्री-पेड सेक्स फिल्में, सेक्स उद्योग का हिस्सा हैं, जैसे कि वयस्क मूवी थिएटर, सेक्स शॉप, पीप शो और स्ट्रिप क्लब।

पॉर्न इंडस्ट्री का जाल

संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप और कनाडा अधिक रूढ़िवादी होने के बावजूद, दुनिया में पोर्नोग्राफी के सबसे बड़े उत्पादक देशों में शामिल है। शीर्ष वयस्क मनोरंजन कंपनियों में विविड एंटरटेनमेंट (यूएस), प्लेबॉय (यूएस), फ्रेनेसी फिल्म्स (ब्राजील) और एरोस्ट्रीम (नीदरलैंड) शामिल हैं। कुछ प्रमुख पोर्न उत्पादक देश स्पेन, जापान, रूस और जर्मनी हैं। Toptenreviews.com के अनुसार, पोर्न उद्योग (2006 में) से सबसे अधिक राजस्व वाले देशों में चीन ($27.40 बिलियन), दक्षिण कोरिया ($25.73 बिलियन), जापान ($19.98 बिलियन) और यूएस ($13.33 बिलियन) शामिल हैं।

पोर्न उद्योग विश्व अर्थव्यवस्था का मजबूत स्तम्भ 

पोर्न उद्योग विश्व अर्थव्यवस्था का एक प्रमुख घटक है, जो बड़े पैमाने पर राजस्व और रोजगार पैदा करता है। Toptenreviews.com के अनुसार, पोर्नोग्राफी पर दुनिया भर में हर सेकंड 3,000 डॉलर से अधिक खर्च किए जाते हैं। हालांकि, पूरे उद्योग के लिए सटीक आंकड़ों का अनुमान लगाना मुश्किल है क्योंकि उद्योग का एक बड़ा हिस्सा भूमिगत काम करता है।

पोर्न उद्योग की राह में आने वाली मुश्किलें

पोर्न उद्योग में मांग और आपूर्ति का स्तर विभिन्न सामाजिक और धार्मिक कारकों से प्रभावित होता है। कुछ इस्लामी देशों में किसी भी रूप में स्पष्ट सामग्री के वितरण के खिलाफ बहुत सख्त कानून हैं। यहां पोर्न को वर्जित माना गया है। वयस्क मनोरंजन उद्योग भी राजनीतिक और आर्थिक कारकों से प्रभावित होता है। उदाहरण के लिए, अमेरिकी पोर्न उद्योग 2008-09 की वैश्विक मंदी से प्रभावित था, जिसके लिए सरकार से वसूली के लिए 5 अरब डॉलर के बेलआउट की आवश्यकता थी। पोर्न उद्योग का प्रमुख मांग चालक इंटरनेट तक पहुंच है। प्रमुख आपूर्ति ड्राइवरों में सरकारी विनियमन, तकनीकी फिल्टर का विकास, और पोर्न के निर्माण और वितरण की लागत शामिल है।

कौन से देश सबसे ज्यादा पोर्न फिल्में देखते हैं?

डैली  मेल की एक रिपोर्ट के अनुसार एक विश्व लीग तालिका ने उन देशों का खुलासा किया जो सबसे अधिक पोर्नोग्राफी देखते हैं। पोर्न देखने में विश्व में सबसे ज्यादा अमेरिका में पॉर्न फिल्में देखी जाती है, जो वैश्विक इंटरनेट पोर्नोग्राफ़ी का 60 प्रतिशत हिस्सा हैं। सभी अमेरिकी पोर्न साइटों में से दो तिहाई को कैलिफोर्निया में होस्ट किया जाता है, जिसमें देश में कुल 4.2 मिलियन डोमेन पोर्न होते हैं। इस बीच, प्रसिद्ध उदार नीदरलैंड एक चौथाई से अधिक पोर्न होस्ट करता है, जिसमें 1.8 मिलियन डोमेन में आश्चर्यजनक रूप से 187 मिलियन पृष्ठ पोर्न हैं।

इरोटिक और पॉर्न फिल्मों में क्या अंतर है? 

 

इरोटिक या कामुक (Erotic movies) फिल्में

इरोटिक फिल्मों से मतलब है वह फिल्में जो आपकी सेक्स उत्तेजना को बढ़ाने का कार्य करती हैं। इन फिल्मों से अप्रत्यक्ष रूप ने उत्तेजित किया जाता है। इसमें बोल्ड सीन, कामुक मुद्राएं, फोटोशूट वीडियो शामिल होते हैं। इसमें फैंटसी से जुड़ी फिल्मों बनायी जाती है लेकिन पूर्ण तरीके से नग्न सीन नहीं दिखाए जाते हैं। कामुक फिल्में भावनाओं के साथ खेलती हैं और उत्तेजित करती हैं। यह यौन क्रिया दिखाकर कामुक करती है लेकिन पूरी तरह से नही। इसके जननांग, यौन अंगों का मैथुन, प्रवेश और स्खलन नहीं दिखाया जाता है,केवल संकेत दिया जाता है। विवरण दर्शक की कल्पना पर छोड़ दिया जाता है। कामुक फिल्मों में सेटिंग और माहौल का बहुत महत्व होता है। प्यार, कडलिंग, रोमांस कहानी का महत्वपूर्ण अंग होता हैं। लाइट, साउंड और सॉफ्ट-फोकस फिल्मांकन एक कामुक वातावरण बनाने की तकनीक है। 

पॉर्न फिल्में (porn movie) 

इरोटिक फिल्मों से बिलकुल अलग पॉर्न फिल्म में सेक्स सीन पूरी तरह से नग्न अवस्था में दिखाए जाते हैं। इसमें सेक्स को लेकर की गयी इमेजिनेशन की कोई सीमा नहीं होगी है। हर तरह की फिल्में यहां पर बनायी जा सकती हैं।