मौद्रिक नीति बैठक से पहले जेटली से मिले रिजर्व बैंक गवर्नर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 25, 2019   18:29
मौद्रिक नीति बैठक से पहले जेटली से मिले रिजर्व बैंक गवर्नर

दास ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह शिष्टाचार भेंट थी। मौद्रिक नीति से पहले गवर्नर की वित्त मंत्री के साथ मुलाकात की परंपरा है। इसी के तहत यह मुलाकात हुई।’’

नयी दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास ने सोमवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। समझा जाता है कि इस मुलाकात के दौरान दोनों के बीच मौजूदा आर्थिक स्थिति पर चर्चा हुई। दोनों के बीच यह बैठक 2019-20 की पहली द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा से पहले हुई है। छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की अगले वित्त वर्ष की पहली मौद्रिक समीक्षा बैठक दो अप्रैल से शुरू होगी। नीति की घोषणा चार अप्रैल को की जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: फिनटेक को बढ़ावा देने के लिये दो महीने में दिशानिर्देश जारी करेगा रिजर्व बैंक

दास ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह शिष्टाचार भेंट थी। मौद्रिक नीति से पहले गवर्नर की वित्त मंत्री के साथ मुलाकात की परंपरा है। इसी के तहत यह मुलाकात हुई।’’ केंद्रीय बैंक की अगले वित्त वर्ष की पहली मौद्रिक समीक्षा बैठक इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है कि इसकी घोषणा लोकसभा चुनाव के पहले चरण के 11 अप्रैल को होने वाले मतदान से एक सप्ताह पहले होगी। सूत्रों ने कहा कि बैठक के दौरान आर्थिक मुद्दों पर चर्चा हुई।

इसे भी पढ़ें: वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक ने कहा- अर्थव्यवस्था में नकदी की स्थिति संतोषजनक

रिजर्व बैंक ने फरवरी की मौद्रिक समीक्षा बैठक में करीब डेढ़ साल के अंतराल के बाद ब्याज दरों में कटौती की। फरवरी में रिजर्व बैंक ने रेपो दर को चौथाई प्रतिशत घटाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया था। रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरों में कटौती के बाद कई बैंकों ने अपने कर्ज को 0.10 प्रतिशत तक सस्ता किया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।