महिला यात्रियों के लिए बड़ी राहत, अब ट्रेन में यात्रा करने के लिए हर हाल में मिलेगी कंफर्म सीट

rail women
ANI
अंकित सिंह । Jul 28, 2022 2:44PM
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की ओर से बड़ा ऐलान किया गया है। लंबी दूरी की ट्रेनों मैं महिलाओं की यात्रा को आराम देह और सुरक्षित बनाने के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं शुरू करेगी। लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में स्लीपर क्लास में छह बर्थ आरक्षित रहेंगी।

भारत में रेल यात्रा का सबसे बड़ा जरिया है। रेल के जरिए भारत में हर रोज लाखों यात्री यात्रा करते हैं। यही कारण है कि कई बार ट्रेनों में जरूरतमंद लोगों को कंफर्म सीट नहीं मिल पाती। हालांकि, यात्रियों को हर तरह की सुविधा मुहैया कराने के लिए रेलवे की ओर से समय-समय पर कई बड़े ऐलान किए जाते हैं। इसी कड़ी में रेलवे महिलाओं की सुविधा पर भी खास ध्यान रखती है। लेकिन यह बात भी सच है कि उस समय स्थिति थोड़ी असहज हो जाती है जब महिलाओं को यात्रा के लिए कंफर्म सीट नहीं मिल पाती। अक्सर, हम बस या मेट्रो ट्रेनों में महिलाओं के लिए आरक्षित सीट देखते हैं। लेकिन रेलवे में ऐसा कुछ नहीं था। लेकिन अब भारतीय रेल पर महिलाओं के लिए भी सीटों को आरक्षित करेगा।

इसे भी पढ़ें: 75 हफ्तों में 75 वंदे भारत ट्रेनों का PM मोदी का लक्ष्य, लेटेस्ट वर्जन हो रहा तैयार, 15 अगस्त से पहले होगा ट्रायल रन

इसको लेकर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की ओर से बड़ा ऐलान किया गया है। लंबी दूरी की ट्रेनों मैं महिलाओं की यात्रा को आराम देह और सुरक्षित बनाने के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं शुरू करेगी। लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में स्लीपर क्लास में छह बर्थ आरक्षित रहेंगी। वहीं, गरीब रथ, राजधानी, दुरंतो समेत वातानुकूलित ट्रेनों के थर्ड एसी में भी महिलाओं को वरीयता दी जाएगी और  उनके लिए छह सीट आरक्षित रखी जाएंगी। स्लीपर कोच में भी 6 से 7 लोअर बर्थ, थर्ड एसी में 4 से 5 लोवर बर्थ और वातानुकूलित 2 में चार लोअर बर्थ वरिष्ठ नागरिकों के साथ-साथ 45 वर्ष और उससे भी अधिक की उम्र की महिला यात्री और गर्भवती महिलाओं के लिए आरक्षित की गई हैं। 

इसे भी पढ़ें: पिता को मिला 'सर तन से जुदा' का मैसेज, फिर कुछ देर बाद रेलवे ट्रेक पर मिली बेटे की लाश

रेल मंत्री के मुताबिक यह सुविधाएं जल्द ही शुरू की जाएंगी। खास बात यह भी है कि रेलवे की ओर से महिला यात्रियों की सुरक्षा का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। रेलवे महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए आरपीएफ, जीआरपीएफ और जिला पुलिस को तैनात करेगा। कुल मिलाकर देखें तो रेलवे की ओर से कई बड़े निर्णय लिए गए हैं। रेलवे ने हाल में ही मेरी सहेली शुरू किया था। इसका मुख्य उद्देश्य महिला यात्रियों को यात्रा के दौरान सुरक्षा प्रदान करना था। 

अन्य न्यूज़