पिता को मिला 'सर तन से जुदा' का मैसेज, फिर कुछ देर बाद रेलवे ट्रेक पर मिली बेटे की लाश

murder
Unsplash
निधि अविनाश । Jul 26, 2022 9:57AM
नर्मदापुरम जिले के सिवनी मालवा निवासी उमाशंकर राठौर का बेटा निशांक राठौर 20 साल का था और भोपाल के ओरियंटल कॉलेज में बीटेक की पढ़ाई कर रहा था। जवाहर चौक शास्त्री नगर में दोस्तो के साथ कमरा शेयर करके रहता था। निशांक ने निशांक ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल में खुद को नोएडा में सॉफ्टवेयर डेवलपर बताया है।

मध्य प्रदेश से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आ रही है जहां भोपाल-इटारसी रेल ट्रेक के बरखेड़ा रेंज में बीती रात को इंजीनियरिंग छात्र का शव मिला। छात्र का मोबाइल भी उसके पास ही था, जबकि उसकी स्कूटी घटनास्थल से थोड़ी दूर जाकर मिली है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो पहले यह मामला आत्महत्या का लगा लेकिन बाद में छात्र के पिता को घटना से ठीक पहले एक मैसेज आया जिसमें लिखा है, 'गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सर तन से जुदा...!' इस मैसेज के बाद से छात्र की मौत पर सस्पेंस बढ़ गया है। मैसेज एक छात्र के नाम से बनी इंस्टाग्राम ID से उसके पिता और दोस्तों के वाट्सऐप पर स्क्रीनशॉट के मैसेज का फोटो आया था।

इसे भी पढ़ें: सोशल मीडिया पर बेटे ने दी पिता की हत्या की सुपारी, बिहार के गैंगस्टर से किया था संपर्क

जैसे ही यह मैसेज पिता और दोस्तों को मिला वैसे ही उसके दोस्त टीटी नगर थाने पहुंचे। रायसेन पुलिस ने छात्र की जांच शुरू की और ुउन्हें रेल ट्रेक पर शव मिलने की सूचना मिली। छात्र के पास से कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला। मृतकों के दोस्तों के मुताबिक, छात्र के मोबाइल, इंस्टाग्राम, फेसबुक ID की जानकारी उसके एक दोस्त प्रखर को थी। पुलिस प्रखर से पूछताछ कर रही है। पुलिस इसे आत्महत्या मान रही है। रायसेन एसपी विकास शहवाल ने बताया कि प्रारंभिक जांच में मामला सुसाइड का लग रहा है। जांच से पता चला कि छात्र शेयर बाजार में निवेश करता था और उसे काफी घाटा हुआ होगा और इसलिए वह डिप्रेशन में चला गया होगा। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही छात्र की मौत का खुलासा होगा। 

पुलिस के मुताबिक, नर्मदापुरम जिले के सिवनी मालवा निवासी उमाशंकर राठौर का बेटा निशांक राठौर 20 साल का था और भोपाल के ओरियंटल कॉलेज में बीटेक की पढ़ाई कर रहा था। जवाहर चौक शास्त्री नगर में दोस्तो के साथ कमरा शेयर करके रहता था। निशांक ने निशांक ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल में खुद को नोएडा में सॉफ्टवेयर डेवलपर बताया है। दोपहर तीन बजे भोपाल के साकेत नगर में अपनी बड़ी बहन से मिलने निकला था और यह बात उसने अफने चेचरे भाई को बताई थी। रात 8 बजे उसके पिता और दोस्तों के पास उसके मोबाइल से उसका फोटो लगा मैसेज आया जिसमे लिखा हुआ था 'गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सर तन से जुदा...!'  मैसेज पढ़ने के बाद सब घबरा गए और तुरंत थाने पहुंचे। तब तक रायसेन पुलिस को छात्र का शव बरखेड़ा इलाके के रेलवे ट्रैक से बरामद कर लिया गया था।

इसे भी पढ़ें: बिल्डिंग की तीसरी मंजिल से कूदकर यूट्यूबर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में किए चौकाने वाले खुलासे

अब पुलिस मामले की जांच कर रही है और इलाके की सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाल रही है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटैज में देखा है कि निशांक अकेले ही स्कूटी से जाते हुए दिखाई दे रहा है। रास्ते में उसने 450 रुपये का पेट्रोल भराया, तब भी वह अकेला ही था। पुलिस ने बताया कि मौत के बाद तक निशांक का फोन चालू था। बता दें कि निशांक के दो मैसेज सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहे हैं जिसमें से एक में निशांक राठौर नाम के स्टेटस पर धार्मिक पोस्ट शेयर किया हुआ है वहीं दूसरे मैसेज में उसकी फोटो पर लिखा हुआ है 'गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सिर तन से जुदा...!'

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़