इस स्टडी में हुआ खुलासा, कोरोना काल में बाहर खाने से ज्यादा सेफ है हवाई सफर

COVID-19 infection
निधि अविनाश । Oct 30, 2020 4:51PM
हार्वर्ड टीएच चैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के वैज्ञानिकों ने इस सप्ताह 'एविएशन पब्लिक हेल्थ इनिशिएटिव ’नाम से एक अध्ययन पब्लिश किया है जिसमें उन्होंने दावा किया कि अगर यात्रियों को कोरोना से बचने के उपायों का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, तो उन्हें कोविड -19 संक्रमण होने का खतरा कम होता है।

आपको जानकर ज्यादा हैरानी नहीं होगी जब हम आपसे ये कहेंगे की इस महामारी के दौरान बाहर निकलना, रेस्तरां में खाना और किराने की खरीदारी करना किसी खतरें से कम नहीं है। हार्वर्ड के शोधकर्ताओं की एक रिपोर्ट के अनुसार, हवाई जहाज में यात्रा करने वाले व्यक्ति की तुलना में बाहर खाने वाले व्यक्ति कोरोनावायरस का अधिक जोखिम उठा रहे है। बता दें कि हवाई जहाज में यात्रा करने वाले व्यक्ति का कोरोना वायरस से संक्रमित होने का जोखिम बहुत कम होता है। हार्वर्ड टीएच चैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के वैज्ञानिकों ने इस सप्ताह 'एविएशन पब्लिक हेल्थ इनिशिएटिव ’नाम से एक अध्ययन पब्लिश किया है जिसमें उन्होंने दावा किया कि अगर यात्रियों को कोरोना से बचने के उपायों का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, तो उन्हें कोविड -19 संक्रमण होने का खतरा कम होता है। 

इसे भी पढ़ें: NC का दावा, फारूक अब्दुल्ला को नमाज पढ़ने के लिए बाहर जाने से रोका गया

अध्ययन में कहा गया है कि, वायरस के प्रसार को रोकने के लिए दिशानिर्देश जैसे साबुन के साथ हाथों की लगातार धुलाई, हर समय मास्क पहनना, विमान और हवाई अड्डे में निरंतर वेंटिलेशन और एयरफ्लो सुनिश्चित करना और नियमित रूप से विमानों की सफाई और स्वच्छता करना जैसे नियमों का यदि पालन किया जाता है, तो यह "महामारी के दौरान अन्य नियमित गतिविधियों से नीचे SARS-CoV-2 ट्रांसमिशन ऑनबोर्ड विमान के जोखिम को कम करता है,"।

इसे भी पढ़ें: वंदे भारत मिशन के तहत विदेश से 20 लाख से ज्यादा भारतीय वापस आए, MEA ने दी इसकी जानकारी

अध्ययन के मुताबिक, शिक्षा और जागरूकता भी कोरोनावायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। “एयरलाइंस और हवाई अड्डे में लोगों को सूचित करने के लिए अभियान चला रहे हैं।इसमें चेक-इन, बोर्डिंग और विमान में बुकिंग के समय सार्वजनिक स्वास्थ्य सुरक्षा जानकारी शामिल है। जानकारी के मुताबिक, यह अध्ययन वैश्विक कोरोना वायरस के मामलों के 45 मिलियन से अधिक मामले आने के कारण आया है। वेबसाइट के अनुसार, कोविड -19 के कारण दुनिया भर में 1,187,029 लोगों की मौत हुई है। भारत में, स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शुक्रवार को मृत्यु का आंकड़ा 121,090 है, जबकि संक्रमण 8,088,851 हो गया है। 

अन्य न्यूज़