फ्लिपकार्ट ने कर्नाटक में नए भंडारण केंद्र शुरू किये, हजारों लोगों को मिलेगा रोजगार

centers
वालमार्ट के स्वामित्व वाली फ्लिपकार्ट ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने त्यौहार के मौसम से पहले कर्नाटक में अपनी आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने के लिए तीन नए भंडारण केंद्र शुरू किये है।

नयी दिल्ली। वालमार्ट के स्वामित्व वाली फ्लिपकार्ट ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने त्यौहार के मौसम से पहले कर्नाटक में अपनी आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने के लिए तीन नए भंडारण केंद्र शुरू किये है। कंपनी ने कहा कि इस कदम से राज्य में 14 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने वर्चुअल माध्यम से इन नए भंडारण केंद्रों का उद्घाटन करते हुए कहा,‘‘उत्तर कर्नाटक समेत राज्य में आपूर्ति श्रृंखला के बुनियादी ढांचे का विस्तार, आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देगा।

इसे भी पढ़ें: डॉक्टर कफील खान के खिलाफ आरोप पत्र और संज्ञान का आदेश रद्द

साथ ही बड़े पैमाने पर उद्यमिता और रोजगार के अवसर पैदा करेगा। हम फ्लिपकार्ट को उसके प्रयास में सरकार के पूर्ण समर्थन का आश्वासन देते हैं।’’ ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ने एक बयान में कहा कि नए भंडारण केंद्र ग्राहकों की बढ़ती मांग को पूरा करने के साथ राज्य के हजारों विक्रेताओं, एमएसएमई, छोटे किसानों की क्षमताएं बढ़ाने में मदद करेंगे। उसने कहा कि ये नए भंडारण केंद्र मुख्य तौर पर उन बड़े उपकरणों, फर्नीचर, मोबाइल फोन, परिधान और इलेक्ट्रॉनिक्स विक्रेताओं की बिक्री में मदद करेंगे, जो कोलार, हुबली और अनेकल में कारोबार करते हैं।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी 28 अगस्त को करेंगे जालियांवाला बाग के पुनर्निर्मित परिसर का उद्घाटन

इन नए भंडारण केंद्रों को मिलाकर फ्लिपकार्ट के राज्य में नौ आपूर्ति केंद्र हो गए हैं, जो 23 लाख वर्ग फुट क्षेत्रफल में फैले हैं और 26 हजार लोगों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर रोजगार प्रदान कर रहे है। वही फ्लिपकार्ट समूह के कॉर्पोरेट मामलों के मुख्य अधिकारी रजनीश कुमार ने कहा कि कंपनी का प्रयास अपने सभी हितधारकों के लिए मूल्य वर्धन करना है क्योंकि यह लाखों एमएसएमई और छोटे विक्रेताओं को जोड़ता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़