वित्तीय संकट से जूझ रही हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स ने अपनी माली हालत पर दी सफाई

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 7 2019 1:09PM
वित्तीय संकट से जूझ रही हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स ने अपनी माली हालत पर दी सफाई
Image Source: Google

एचएएल ने यह भी कहा कि उसने अपनी मौजूदा जरूरतें पूरी करने के लिए 962 करोड़ रुपए का ओवरड्राफ्ट (बैंक से धनराशि लेना) लिया था। एचएएल ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘एचएएल को लेकर मीडिया में आई विभिन्न खबरों के मद्देनजर, यह स्पष्ट किया जाता है:

नयी दिल्ली। वित्तीय संकट का सामना करने की खबरें सामने आने के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने रविवार को कहा कि 83 हल्के लड़ाकू विमानों और 15 हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टरों के ऑर्डर अभी अंतिम चरण में हैं और उसकी वित्तीय स्थिति में सुधार की संभावनाएं हैं।

इसे भी पढ़ें- आधार की बचत से योजनाओं का वित्तपोषण हो सकता है: जेटली

एचएएल ने यह भी कहा कि उसने अपनी मौजूदा जरूरतें पूरी करने के लिए 962 करोड़ रुपए का ओवरड्राफ्ट (बैंक से धनराशि लेना) लिया था। एचएएल ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘एचएएल को लेकर मीडिया में आई विभिन्न खबरों के मद्देनजर, यह स्पष्ट किया जाता है: एचएएल ने 962 करोड़ रुपए का ओवरड्राफ्ट लिया है।

इसे भी पढ़ें- सरकार जल्द ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से जोड़ेगी: रविशंकर प्रसाद

मार्च तक अनुमानित संग्रह से नगद की स्थिति में सुधार हो सकता है। एलसीए मैक1ए (83) और एलसीएच (15) अंतिम चरण में हैं।’’ कंपनी ने यह ट्वीट ऐसे समय में किया जब मीडिया में ऐसी खबरें आई कि वह वित्तीय संकट से जूझ रही है। अपने कर्मियों के वेतन भुगतान के लिए उसे उधार लेना पड़ा। उल्लेखनीय है कि यह मामला सामने आने के बाद कांग्रेस और भाजपा में जुबानी जंग छिड़ गई है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story