प. बंगाल सरकार ने ताजपुर बंदरगाह के निर्माण के लिए नियमों में ढील के साथ नयी बोलियां मंगायीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 20, 2021   08:39
प. बंगाल सरकार ने ताजपुर बंदरगाह के निर्माण के लिए नियमों में ढील के साथ नयी बोलियां मंगायीं
प्रतिरूप फोटो

पिछले साल दिसंबर में पश्चिम बंगाल समुद्री बोर्ड ने पूर्वी मिदनापुर जिले में बनने वाले बंदरगाह में रुचि रखने वाली कंपनियों से आशय पत्र मंगाए थे लेकिन उसपर ठंडी प्रतिक्रिया मिली थी।

कोलकाता|  पश्चिम बंगाल सरकार ने ताजपुर में गहरे समुद्र के एक नए निजी बंदरगाह के निर्माण के लिए नये सिरे से बोलियां आमंत्रित की हैं, जिसमें निवेशकों को आकर्षित करने के लिए 1,000 एकड़ की भार-मुक्त भूमि जैसी बेहतर स्थिति की पेशकश की गयी है।

एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पश्चिम बंगाल औद्योगिक विकास निगम (डब्ल्यूबीआईडीसी) के अधिकारी ने कहा कि राज्य ऐसी परियोजनाओं में सामान्य 30-35 वर्षों के मुकाबले 99 साल की रियायत अवधि की पेशकश कर रहा है।

इसे भी पढ़ें: बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दिया

पिछले साल दिसंबर में पश्चिम बंगाल समुद्री बोर्ड ने पूर्वी मिदनापुर जिले में बनने वाले बंदरगाह में रुचि रखने वाली कंपनियों से आशय पत्र मंगाए थे लेकिन उसपर ठंडी प्रतिक्रिया मिली थी।

उन्होंने कहा, “पिछली बार मिले बहुत सारे सुझावों से हमें बोली को और व्यावहारिक बनाने में मदद मिली। हमने योग्यता के लिए अनुरोध और प्रस्ताव के लिए अनुरोध को एकल बोली की प्रक्रिया में रखा है।

इसे भी पढ़ें: बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र बढ़ने के फैसले पर विपक्षी दलों ने केंद्र पर साधा निशाना





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।