आईआईटी से करें ऑनलाइन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोर्स

आईआईटी से करें ऑनलाइन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोर्स

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की इंपोर्टेंस आप अवश्य ही जानते होंगे, और संक्षेप में आप यही समझ लीजिए कि रोबोटिक से लेकर गेमिंग तक, और फाइटर प्लेन से लेकर बुलेट ट्रेन तक, हर जगह यह धड़ल्ले से इस्तेमाल होने लगा है।

आईआईटी अर्थात इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की क्या अहमियत है, यह बात वह लोग बेहतर जानते हैं, जिन्होंने कभी आईआईटी-जी (जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन) अटेंड किया हो!

सच कहा जाए तो इंजीनियरिंग करने वाले हर व्यक्ति का सपना होता है कि वह आईआईटी में जाए, और इंजीनियरिंग का कोर्स पूरा करे। जाहिर तौर पर इन राष्ट्रीय संस्थानों से इंजीनियरिंग करने के पश्चात मिलने वाला अच्छा खासा पैकेज इसके पीछे के प्रमुख कारणों में से एक है, किंतु हर किसी को आईआईटी की सीमित सीटों पर इंजीनियरिंग करने की सुविधा नहीं मिल पाती है, क्योंकि कम्पटीशन बेहद टफ होता है। 

अगर फुल टाइम इंजीनियरिंग की बात छोड़ भी दी जाए, तो आईआईटी अक्सर अलग-अलग समय पर अलग-अलग कोर्स लांच करता रहता है। यह कोर्सेज कभी वह सर्टिफिकेट प्रोग्राम के तौर पर चलाता है, तो कभी डिप्लोमा का सर्टिफिकेट देता है।

इसे भी पढ़ें: 12वीं के बाद कैसे बनाएं इंडियन एयरफ़ोर्स में कॅरियर

ऐसा ही एक प्रोग्राम आईआईटी रोपड़ द्वारा लांच किया गया है, और विषय भी उतना ही महत्वपूर्ण होने के साथ-साथ बेहद रोचक भी है।

विषय है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, यानी कृत्रिम बुद्धिमत्ता।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की इंपोर्टेंस आप अवश्य ही जानते होंगे, और संक्षेप में आप यही समझ लीजिए कि रोबोटिक से लेकर गेमिंग तक, और फाइटर प्लेन से लेकर बुलेट ट्रेन तक, हर जगह यह धड़ल्ले से इस्तेमाल होने लगा है। आजकल जो मोबाइल आप यूज कर रहे हैं, उसके पीछे के कैमरे पर आप ध्यान से देखिएगा!

अधिकांश स्मार्टफोन पर आपको एआई (AI) पॉवर्ड कैमरा लिखा मिल जाएगा। इसका बहुत ही ब्रॉड परिप्रेक्ष्य है, और शिक्षा से लेकर स्वास्थ्य और ट्रांसपोर्ट से लेकर एग्रीकल्चर हर जगह यह इस्तेमाल होने लगा है। जहां भी कुछ जगहों पर यह इस्तेमाल नहीं भी हो रहा है, वहां इसे यूज करने की संभावना खोजी जा रही है।

टेस्ला की ऑटो ड्राइवर कार पहले ही दुनिया भर में सुर्खियां बटोर चुकी है, और तमाम बड़ी कंपनियां ऑटो ड्राइविंग पर फोकस करते हुए इस फील्ड में इन्वेस्टमेंट कर रही हैं। ऐसे में जाहिर है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में एक सुनहरे कॅरियर का ऑप्शन खुला हुआ है।

ध्यान दें, अगर आप इस क्षेत्र में कॅरियर बनाना चाहते हैं, तो आईआईटी रोपड़ द्वारा डाटा साइंस और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ऑनलाइन कोर्स आपको निश्चित ही जॉइन करना चाहिए। इसके लिए आप का 12वीं पास होना आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: कैसे होती है सीबीआई में भर्ती? जानें पूरी प्रक्रिया

बता दें कि आईआईटी रोपड़ द्वारा पंजाब सरकार के साथ मिलकर यह प्रोग्राम लांच किया गया है, और इसके लिए ऑनलाइन एडीएसएटी एग्जामिनेशन आपको पास करना होगा। इसमें पहला कोर्स L2 4 सप्ताह का होगा तो दूसरा कोर्स L3 12 सप्ताह का होगा इसमें पहले L2 कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको ए-डीएसएटी परीक्षा पास करनी होगी। और अगर आप L2 कोर्स पास कर लेते हैं, तभी आपको L3 कोर्स में एडमिशन दिया जाएगा।

ध्यान रखिए, एक तो कोर्स अति उत्तम, ऊपर से आईआईटी का टैग आपको बेहतरीन पैकेज दिलाने में निश्चित तौर पर मदद करेगा। और उससे ज्यादा इंपोर्टेंट बात यह है कि आप बेहतरीन फैकल्टी द्वारा बेहतरीन इंस्टिट्यूट द्वारा बेहतरीन कोर्सेज के विभिन्न पहलुओं को आसानी से समझ पाएंगे। इसके लिए आपको इस लिंक https://iitrpr.ac.in/aiupskilling/index.html पर अप्लाई कर सकते हैं। जब आप इस लिंक पर जाएंगे, वहां पर आपको कांटेक्ट नंबर मिलेगा, और अपनी ज़रुरत की डिटेल्स, आप वहां से प्राप्त कर सकते हैं।

पंजाब सरकार के साथ मिलकर, आईआईटी रोपड़ द्वारा शुरू किया गया यह प्रोग्राम निश्चित तौर पर लोगों को लाभ पहुंचाएगा।

-मिथिलेश कुमार सिंह