• 12वीं के बाद कैसे बनाएं इंडियन एयरफ़ोर्स में कॅरियर

अगर आप भी इंडियन एयर फोर्स में जाना चाहते हैं, तो आप यह जान लीजिए कि इसकी नौकरियों को दो कैटेगरी में बांटा गया है, जिसे एक्स और वाई ग्रुप कहते हैं। इसके माध्यम से आप इंडियन एयरफोर्स को ज्वाइन कर सकते हैं, तो एनडीए के माध्यम से भी भारतीय वायु सेना में जाया जा सकता है।

देश की सेवा करने का जज्बा ही कुछ और होता है। यह वह इंस्पिरेशन होती है, जो एक पीढ़ी तक ही नहीं, कई पीढ़ियों तक लोगों को प्रेरणा देती है। अगर किसी के घर में देश की सेनाओं में कोई एक व्यक्ति भी कार्य कर रहा है, तो उस पूरे घर के लोग उस पर गर्व करते हैं।

यूं तो देश की तीनों सेनाओं का अपना-अपना महत्व है, जिसमें जल सेना, थल सेना एवं वायु सेना शामिल है, किंतु इन सब में भी अगर वायु सेना अर्थात एयरफ़ोर्स की बात की जाए, तो उसका अपना विशिष्ट अंदाज है।

इसे भी पढ़ें: RAS क्या है? यहाँ पढ़ें RAS भर्ती परीक्षा से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें

हवा में उड़ना आखिर किस को अच्छा नहीं लगता है, और एयरफोर्स के सैनिकों में जो रोमांच होता है, वह शायद किसी और में नहीं होता है।

रोमांच और देश सेवा के अलावा यह एक बेहतरीन करियर ऑप्शन भी है, जिसे आप 12वीं के बाद ज्वाइन कर सकते हैं, और न केवल एक प्रतिष्ठित और गौरवपूर्ण जिंदगी जी सकते हैं, बल्कि देश सेवा करने का सीधा सौभाग्य भी प्राप्त कर सकते हैं।

तो आइए जानते हैं कि 12 मई के बाद आपको क्या करना चाहिए, ताकि आप इंडियन एयर फोर्स ज्वाइन कर सकें।

अगर आप भी इंडियन एयर फोर्स में जाना चाहते हैं, तो आप यह जान लीजिए कि इसकी नौकरियों को दो कैटेगरी में बांटा गया है, जिसे एक्स और वाई ग्रुप कहते हैं। इसके माध्यम से आप इंडियन एयरफोर्स को ज्वाइन कर सकते हैं, तो एनडीए (NDA) के माध्यम से भी भारतीय वायु सेना में जाया जा सकता है।

लेकिन आइए, पहले एक्स और वाई ग्रुप के बारे में जानते हैं...

एक्स ग्रुप, इंडियन एयर फोर्स का टेक्निकल ग्रुप कहलाता है। इसके लिए 12वीं में आपको मैथ, फिजिक्स और इंग्लिश सब्जेक्ट के साथ 50% मिनिमम मार्क प्राप्त किया होना चाहिए। वहीं अगर आप ने दसवीं के बाद 3 साल का पॉलिटेक्निक डिप्लोमा किया है, तो भी आप इस कोर्स के लिए एलिजिबल हैं। जहां तक आपकी फिजिक की बात है, तो आपकी हाइट कम से कम 152.5 सेंटीमीटर की होनी चाहिए, तो आपकी चेस्ट एक्सपेंड 5 सेंटीमीटर अवश्य होना चाहिए। साथ ही आपका वेट 55 किलोग्राम से कम नहीं होना चाहिए। ऐसे में आप एक्स ग्रुप जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं, और भारतीय वायुसेना में अपनी सर्विस पेश कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: कैसे होती है सीबीआई में भर्ती? जानें पूरी प्रक्रिया

अगर वाई ग्रुप के लिए हम बात करें, तो इसके लिए भी टेन प्लस टू 50 परसेंट मार्क्स के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसमें भी इंग्लिश आवश्यक है, और अगर आपके पास 2 वर्ष की कोई अन्य वोकेशनल कोर्स की डिग्री है. तो भी आप इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं। साथ ही फिजिकल एबिलिटी इसमें भी सेम ही है, मतलब हाइट 152.5 सेंटीमीटर होनी चाहिए, तो चेस्ट एक्सपेंड कम से कम 5 सेंटीमीटर, एवं वजन 55 किलोग्राम या उससे अधिक होना चाहिए। इसके लिए आपको जो एग्जाम देना पड़ता है, उसकी अवधि 45 मिनट होती है, तो इस सब्जेक्ट में इंग्लिश रीजनिंग जैसे सवाल पूछे जाते हैं।

उपरोक्त दोनों मेथड्स के अलावा एनडीए, अर्थात नेशनल डिफेन्स अकैडमी के बारे में आप सब में से अधिकतर मित्रों को जानकारी होगी ही। आपको बता दें कि टेन प्लस टू कंप्लीट होना ज़रूरी है, तो फिजिक्स, केमिस्ट्री एवं मैथ्स सब्जेक्ट कंपलसरी है, और प्लस 2 में 60% मार्क्स का होना अनिवार्य है।

प्रत्येक वर्ष यह एग्जामिनेशन यूपीएससी द्वारा, वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है। ऐसे में अगर आपने 12वीं का एग्जाम दिया है, या देने वाले हैं, तो भी आप एनडीए में अप्लाई कर सकते हैं। और हां, आपका अविवाहित होना अनिवार्य है, अन्यथा आप अप्लाई नहीं कर सकते हैं। जहां तक एज की बात है, तो एनडीए में अप्लाई करने के लिए साढे 16 साल से साढे 19 साल के बीच में आपकी एज होनी जरूरी है। इसमें आपका फिजिकल टेस्ट होता है, तो मेंटल टेस्ट भी आपको देना ही पड़ता है।

इसे भी पढ़ें: इग्नू ने एस्ट्रोलॉजी में मास्टर कोर्स किया लॉन्च, इन्हें माना जाएगा आवेदन के योग्य

एनडीए के एग्जाम में दो पेपर लिए जाते हैं, जिसमें मैथ और जीए, यानी जनरल एबिलिटी का एग्जाम होता है। दोनों में आपको ढाई-ढाई घंटे का समय मिलता है, और उतने समय में आपको एग्जाम देना पड़ता है। गलत आंसर देने पर नेगेटिव मार्किंग भी की जाती है। इसमें मैथ के लिए 300, तो जनरल एबिलिटी के लिए 600 मार्क्स निर्धारित किए गए हैं। दोनों एग्जाम पास करने के बाद आपको एसएसबी के सामने इंटरव्यू देना पड़ता है, जिसमें कुल 270 प्रश्न पूछे जाते हैं। इनमें 120 मैथमेटिक्स के सवाल होते हैं, जबकि डेढ़ सौ सवाल जनरल एबिलिटी के होते हैं।

ध्यान दीजिए, भारतीय सेनाओं का अपना एक अलग कॅरियर स्कोप है, और इसमें जाने का मतलब है कि आपके लिए एक बेहतरीन कॅरियर ऑप्शन की संभावना खुल जाती है। साथ ही जीवन को कैसे जिया जाए,  इसके लिए इंडियन एयर फोर्स से बेहतर शायद ही कोई दूसरा ऑप्शन हो!

मिथिलेश कुमार सिंह