स्टार्टअप शुरू करने जा रहे हैं तो पहले जान लें ये नियम

startup
Unsplash
सभी को बढ़िया कॅरिअर बनाना है इसलिए स्टार्टअप्स आजकल कॅरिअर का अच्छा विकल्प बन रहे है। सरकार द्वारा 'स्किल इंडिया कैम्पेन' चलाया जा रहा है। सरकार नए स्टार्टअप्स को टैक्स में भी छूट दे रही है। कोई भी क्रिएटिव बिजनेस आइडिया या फिर कोई भी बिजनेस जब छोटे स्तर पर शुरू किया जाता है उसे स्टार्टअप कहा जाता है।

अच्छी नौकरी की चाहत हर किसी को होती है कुछ लोग सरकारी नौकरी के लिए मेहनत करते है तो कुछ महंगे कॉलेज से पढ़ाई करने के बाद किसी अच्छी कम्पनी में जॉब की तलाश करते है। अब तो जॉब ओरिएंटेड कोर्स भी उपलब्ध है जिनकी फीस बहुत ज्यादा होती है। सभी को बढ़िया कॅरिअर बनाना है इसलिए स्टार्टअप्स भी आजकल कॅरिअर का अच्छा विकल्प बन रहे है। सरकार द्वारा "स्किल इंडिया कैम्पेन चलाया जा रहा है साथ ही सरकार नए स्टार्टअप्स को टैक्स में भी छूट दे रही है। कोई भी क्रिएटिव बिजनेस आइडिया या फिर कोई भी बिजनेस जब छोटे स्तर पर शुरू किया जाता है तो उसे स्टार्टअप कहा जाता है। शुरूआती समय में स्टार्टअप में निवेश ज्यादा और फायदा कम होता है।

  

नए और क्रिएटिव आइडियाज़ 

किसी भी स्टार्टअप की शुरुआत किसी क्रिएटिव आइडिया से ही होती है इसलिए यहां आपके क्रिएटिव आइडियाज़ को तरज़ीह मिल सकती है।।अगर आपके दिमाग में भी नए आइडियाज़ की भरमार रहती है तो आप भी अपना स्टार्टअप शुरू कर सकते है।

इसे भी पढ़ें: सिविल सेवा और एमबीए में क्या है अंतर, किसमें बनाना चाहते हैं कॅरियर

स्किल दिलाती है पहचान 

यहां लोग आपको आपकी डिग्रियों की वजह से नहीं पहचानते आपकी स्किल आपकी पहचान बनाती है।अगर आप में भी स्किल है तो स्टार्टअप्स आपके लिए बेहतरीन विकल्प है।


बोरिंग नहीं होता यहां का माहौल 

स्टार्टअप्स ज्यादातर युवाओं के द्वारा ही शुरू किये जाते है तो यहां का माहौल ज्यादा ख़ुशनुमा रहता है। आप यह कुछ भी पहन कर जा सकते है। यहां लोगो की संख्या कम होती है तो फ्री फ़ूड भी उपलब्ध होता है जो सोने पर सुहागे का काम करता है। बोरियत से बचने के लिए बहुत सारे गेम्स और स्पोर्ट्स एक्टिवटी की जाती है। 

हार्ड वर्क की होती है जरूरत  

किसी भी स्टार्टअप के लिए कठिन मेहनत की जरूरत होती है। यहां कोई शॉर्टकट नहीं काम आता। स्टाफ कम होता है इसलिए हर किसी को पूरी मेहनत से काम करना पड़ता है। यहां आप अपनी रूचि के हिसाब से काम कर सकते है।

इसे भी पढ़ें: ग्राफिक डिजाइनिंग और एनिमेशन में कॅरियर बनाकर हर महीने कमा सकते हैं लाखों रुपए

अगर आपके पास कोई प्रोफ़ेशनल डिग्री नहीं है लेकिन आप क्रिएटिव आडियाज़ के मालिक है तो भी कुछ फ़ील्ड है जिनमें आप स्टार्ट अप शुरू कर सकते है। अब लोग ज्यादा हेल्थ कॉन्शस है अगर आप चाहें तो फिटनेस ट्रेनिंग लेने के बाद इस फ़ील्ड में स्टार्टअप शुरू कर सकते है। आप फ़ोटोग्राफ़ी वेब डेवलपर, सोशल मीडिया में अपना स्टार्ट अप शुरू कर सकते है। 

कैसे शुरू करें अपना स्टार्टअप 

सबसे पहले तो आपको अपना बिज़नेस प्लान एकदम सटीक तरीके से बनाना चाहिए। मार्किट में आपके स्टार्टअप का क्या भविष्य होगा यह जानने के लिए मार्किट पर भी नज़र बनाये रखें। अपने स्टार्टअप को क़ानूनी रूप से रजिस्टर करायें साथ ही उसका एक नाम भी सेलेक्ट कर लें। कोई भी स्टार्टअप अकेले नहीं शुरू किया जा सकता इसलिए साथ काम करने वाले लोगो को बिज़नेस प्लान ठीक से समझायें। 

कैसे पहचाने अपनी मार्किट डिमांड

कोई भी स्टार्टअप शुरू करने से पहले यह रिसर्च करना जरूरी हो जाता है कि मार्किट में आपके स्टार्टअप की क्या डिमांड होगी कितने ग्राहक हो सकते है। अगर मार्किट में आपके स्टार्टअप से मिलते जुलते और भी स्टार्टअप मौजूद है उनसे अलग कैसे दिखा सकते है। ग्राहक आप तक कैसे पहुंच सकता है इसकी भी स्ट्रेटेजी बनानी होगी।

अन्य न्यूज़