26 जनवरी की योजनाओं पर ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को लगाई फटकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 21, 2021   12:58
  • Like
26 जनवरी की योजनाओं पर ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को लगाई फटकार

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की 26 जनवरी की योजनाओं पर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने नाराजगी जताई है।इस दिन ऑस्ट्रेलिया में जगह-जगह समारोह, परेड, महोत्सव के अलावा जश्न का आयोजन होता है लेकिन साथ ही विरोध-प्रदर्शन भी होते हैं।

ब्रिसबेन। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अपनी स्वदेशी सलाहकार समिति की सिफारिश के बाद 26 जनवरी को तीन मैचों की मार्केटिंग में ‘राष्ट्रीय अवकाश’ का उल्लेख करने से इनकार करने पर देश के प्रधानमंत्री स्कॉट मौरिसन ने नाराजगी जताई है। ऑस्ट्रेलिया दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन 1788 में कप्तान आर्थर फिलिप ब्रिटेन से 11 समुद्री जहाजों में सजा पाने वाले दोषियों को लेकर बोटेनी बे लाए थे जिसे अब सिडनी के नाम से जाना जाता है। इस दिन ऑस्ट्रेलिया में जगह-जगह समारोह, परेड, महोत्सव के अलावा जश्न का आयोजन होता है लेकिन साथ ही विरोध-प्रदर्शन भी होते हैं।

इसे भी पढ़ें: धोनी से तुलना किए जाने पर पंत ने कहा, 'खुद का बनाना चाहता हूँ नाम'

ऑस्ट्रेलिया के स्वदेश समुदाय के कई लोग इस दिन को ‘आक्रमण के दिन’ के रूप में देखते हैं और इसके साथ ही उपनिवेशवादियों के हाथों उनके उत्पीड़न और कष्टों की शुरुआत हुई और बाद में संघीय और राज्य सरकारों का रवैया भी ऐसा ही रहा। लंबे समय से राष्ट्रीय अवकाश को मनाने के लिए वैकल्पिक तिथि तलाशने को लेकर सार्वजनिक बहस चल रही है। ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश टी20 लीग के 26 जनवरी को तीन मैच होने हैं और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय आदिवासी एंड टोरेस स्ट्रेट आइलैंडर क्रिकेट सलाहकार समिति ने सिफारिश की है कि इस दिन को ऑस्ट्रेलिया दिवस की जगह सिर्फ 26 जनवरी के रूप में पेश किया जाए।प्रधानमंत्री मौरिसन ने गुरुवार को मध्य क्वीन्सलैंड राज्य के रॉकथेम्पटन में एक रेडियो स्टेशन से कहा, ‘‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को मेरा संदेश है कि वे क्रिकेट पर थोड़ा अधिक और राजनीति पर थोड़ा कम ध्यान दें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह काफी साधारण सी चीज है।’’ बिग बैश में 26 जनवरी को एक मुकाबला एडीलेड ओवल में और अन्य दो मुकाबले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जाने हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




अंतिम टेस्ट मैच से पहले टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने जमकर बहाया पसीना

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   17:35
  • Like
अंतिम टेस्ट मैच से पहले टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने जमकर बहाया पसीना

अंतिम टेस्ट से पहले भारतीय टीम ने जमकर पसीना बहाया है।भारतीय टीम ने रविवार को भी अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया था। भारत चार मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे चल रहा है। भारत अंतिम टेस्ट में तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के बिना उतरेगा जिन्हें निजी कारणों से टीम से रिलीज किया गया है।

अहमदाबाद। कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे जैसे भारत के शीर्ष क्रिकेटरों ने इंग्लैंड के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट से पूर्व नेट अभ्यास के दौरान जमकर पसीना बहाया। चौथे टेस्ट गुरुवार से खेला जाएगा। बीसीसीआई द्वारा ट्विटर पर डाले वीडियो में कप्तान कोहली के अलावा उप कप्तान रहाणे और सीनियर सलामी बल्लेबाज रोहित को नेट्स पर बल्लेबाजी करते देखा जा सकता है। इन तीनों सीनियर बल्लेबाजों ने यहां नरेंद्र मोदी स्टेडियम में तेज गेंदबाजों और स्पिनरों के खिलाफ ड्राइव, पुल और फ्लिक का अभ्यास किया। मुख्य कोच रवि शास्त्री को रोहित और कोहली के साथ बात करते हुए देखा गया जिसके बाद ये दोनों सीनियर बल्लेबाज आपस में चर्चा करने लगे। इसी मैदान पर दिन-रात के तीसरे टेस्ट में 11 विकेट चटकाकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले बायें हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल को दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों के खिलाफ नेट पर गेंदबाजी करते हुए देखा गया।

इसे भी पढ़ें: स्विस ओपन सेमीफाइनल में आमने सामने हो सकती हैं सिंधू और साइना

क्षेत्ररक्षण अभ्यास के दौरान रोहित के बाद दूसरी स्लिप में खड़े रहाणे को अपने दायीं ओर गोता लगाते हुए एक साथ से कैच लपकते हुए देखा गया। भारतीय टीम को पहले टेस्ट में 227 रन से हार का सामना करना पड़ा था जिसके बाद मेजबान टीम ने वापसी करते हुए दूसरा टेस्ट 317 रन से जीता। पिछले मैच में मोटेरा की बल्लेबाजी के लिए मुश्किल पिच पर इंग्लैंड की टीम दोनों पारियों में 112 और 81 रन पर ढेर हो गई और दो दिन में 10 विकेट से हार गई। भारतीय टीम ने रविवार को भी अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया था। भारत चार मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे चल रहा है। भारत अंतिम टेस्ट में तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के बिना उतरेगा जिन्हें निजी कारणों से टीम से रिलीज किया गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




भारतीय पिच विवाद को लेकर विव रिचर्ड्स ने इंग्लैंड टीम को लताड़ा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   13:00
  • Like
भारतीय पिच विवाद को लेकर विव रिचर्ड्स ने इंग्लैंड टीम को लताड़ा

वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज विव रिचर्ड्स ने भारतीय पिचों के आलोचकों लताड़ा है। रिचर्ड्स ने कहा, ‘‘लेकिन अब आप दूसरा पक्ष देख चुके हैं और इसलिए इसे टेस्ट मैच क्रिकेट नाम दिया गया है क्योंकि यहां मानसिकता और इच्छाशक्ति के साथ उन सब चीजों की भी परीक्षा होती है जिनसे प्रतिस्पर्धा के समय आप गुजरते हो।

नयी दिल्ली। वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज विव रिचर्ड्स भारत में स्पिनरों की मददगार वाली पिच को लेकर इंग्लैंड के पूर्व और वर्तमान क्रिकेटरों के विलाप से खुश नहीं हैं और उन्होंने कहा कि मेहमान टीम चुनौती के लिये तैयार नहीं थी। अहमदाबाद के मोटेरा की नवनिर्मित पिच तब चर्चा का विषय बन गयी जब भारत ने इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट में दूसरे दिन ही 10 विकेट से करारी शिकस्त देकर चार मैचों की श्रृंखला में 2-1 से बढ़त हासिल की। माइकल वान जैसे इंग्लैंड के पूर्व कप्तानों और ब्रिटिश मीडिया के एक वर्ग ने इस पिच की कड़ी आलोचना की थी। यह बहस रिचर्ड्स को अच्छी नहीं लगी जो अपनी बेपरवाह बल्लेबाजी के कारण दुनिया के हर क्षेत्र में सफल रहे थे।

इसे भी पढ़ें: BCCI की मंजूरी मिलने से पहले गैर मान्यता प्राप्त T20 लीग के लिए हुई नीलामी

रिचर्ड्स ने अपने फेसबुक पेज पर जारी किये गये वीडियो में कहा, ‘‘मुझसे हाल में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गये दूसरे और तीसरे टेस्ट को लेकर सवाल किये गये थे। और मैं वास्तव में सवाल को लेकर थोड़ा उलझन में था क्योंकि ऐसा लगता है कि जिन पिचों पर वे खेल रहे थे उनको लेकर काफी विलाप किया गया। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जो लोग विलाप कर रहे हैं उन्हें अहसास होना चाहिए कि ऐसा समय भी होता है जबकि हमें तेज गेंदबाजों के लिये अनुकूल विकेट मिलता है। गेंद असल में गुडलेंथ से तेजी से उछाल लेती है और हर कोई तब सोचता है कि यह बल्लेबाजों से जुड़ी समस्या है। ’’ इस 68 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा कि भारत में खेलने का मतलब है कि आपको अच्छे स्पिनरों का सामना करना होगा और लगता है कि इंग्लैंड ने दौरे से पहले अच्छी तरह से तैयारियां नहीं की। रिचर्ड्स ने कहा, ‘‘लेकिन अब आप दूसरा पक्ष देख चुके हैं और इसलिए इसे टेस्ट मैच क्रिकेट नाम दिया गया है क्योंकि यहां मानसिकता और इच्छाशक्ति के साथ उन सब चीजों की भी परीक्षा होती है जिनसे प्रतिस्पर्धा के समय आप गुजरते हो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘तथा शिकायतें हो रही हैं कि विकेट बहुत अधिक स्पिन ले रहा था और इसी तरह की अन्य बातें की जा रही हैं। यह सिक्के का दूसरा पहलू है। लगता है कि लोग भूल जाते हैं कि जब आप भारत दौरे पर जाते हो तो आपको ऐसी उम्मीद रखनी चाहिए। आप ऐसे देश में जा रहे हो जहां पिचें स्पिनरों को मदद करती है। आपको असल में इसके लिये खुद को तैयार करना चाहिए।’’

इसे भी पढ़ें: ओमान और UAE के खिलाफ मैत्री मैच खेलने के लिए तैयार है भारतीय फुटबॉल टीम

रिचर्ड्स ने कहा कि इंग्लैंड की श्रृंखला के शुरू में बड़ी जीत के बाद भारत ने उसे उसकी आरामदायक स्थिति से बाहर कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘पहले टेस्ट मैच से ही इंग्लैंड अपनी आरामदायक स्थिति में था। अभी उन्हें उनके इस आरामदायक क्षेत्र से बाहर कर दिया गया है और उन्हें जिन परिस्थितियों का सामना करना है उससे पार पाने के लिये रास्ता ढूंढना होगा।’’ रिचर्ड्स ने कहा, ‘‘स्पिन भी खेल का हिस्सा है, टेस्ट मैच में यही सब होता है। भारतीय तेज गेंदबाजों ने पिछले कुछ वर्षों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। …. अब आप भारत में हैं आपको इन चीजों का सामना करना होगा और उसके लिये तरीका ढूंढना होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




IPL में विराट कोहली से सीख लेने को लेकर बेहद उत्साहित हैं ग्लेन मैक्सवेल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   11:58
  • Like
IPL में विराट कोहली से सीख लेने को लेकर बेहद उत्साहित हैं ग्लेन मैक्सवेल

इंडियन प्रीमियर लीग के अप्रैल के दूसरे सप्ताह में शुरू होने की संभावना है और इस आलराउंडर को उम्मीद है कि उन्हें इस दौरान भारतीय कप्तान से नेतृत्वक्षमता के गुण सीखने को मिलेंगे। कोहली आरसीबी में मैक्सवेल के कप्तान होंगे।

वेलिंगटन। ऑस्ट्रेलियाई आलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में विराट कोहली के साथ खेलने और उनसे सीख लेने को लेकर बेहद उत्साहित हैं और उन्होंने भारतीय कप्तान के सभी प्रारूपों में दबदबे को देखते हुए कहा कि वह ‘खेल के शिखर’ पर हैं। कोहली की अगुवाई वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने मैक्सवेल को पिछले महीने की नीलामी में 14.25 करोड़ रुपये देकर खरीदा। आईपीएल 2020 में लचर प्रदर्शन के बाद पंजाब किंग्स ने मैक्सवेल को ‘रिलीज’ कर दिया था। मैक्सवेल ने आस्ट्रेलियाई एसोसिएटेड प्रेस (एएपी) से कहा, ‘‘वह (कोहली) टेस्ट से लेकर टी20 तक सभी प्रारूपों में छाया हुआ है और पिछले कुछ समय से इस खेल के शिखर पर है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह परिस्थितियों के अनुसार अपने खेल को ढालता है, लंबे समय तक दबदबा बनाये रखता है तथा भारत का कप्तान और उनका सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी होने के भारतीय दबाव से पार पा लेता है। ’’

इसे भी पढ़ें: BCCI की मंजूरी मिलने से पहले गैर मान्यता प्राप्त T20 लीग के लिए हुई नीलामी

इंडियन प्रीमियर लीग के अप्रैल के दूसरे सप्ताह में शुरू होने की संभावना है और इस आलराउंडर को उम्मीद है कि उन्हें इस दौरान भारतीय कप्तान से नेतृत्वक्षमता के गुण सीखने को मिलेंगे। कोहली आरसीबी में मैक्सवेल के कप्तान होंगे। इस 32 वर्षीय आलराउंडर ने कहा, ‘‘मैं केवल मैच ही नहीं बल्कि अभ्यास को लेकर उनकी कार्यशैली को समझने को लेकर उत्सुक हूं। उम्मीद है कि मैं उनसे नेतृत्वकौशल के भी कुछ गुण सीखने में सफल रहूंगा।’’ उन्होंने कहा कि उनकी कोहली के साथ अच्छी मित्रता है और जब उन्होंने 2019 में मानसिक कारणों से विश्राम लिया था तब भारतीय स्टार ने उनका समर्थन किया था। मैक्सवेल ने कहा, ‘‘उन्होंने मेरे फैसले का खुलकर समर्थन किया था। एक तरह से वह उन सारी चीजों को समझ गये थे जिनसे मैं गुजर रहा था। बहुत सारी अपेक्षाएं और दबाव जिन्हें यकीनी तौर पर वह खुद से संबद्ध कर सकता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept