रिकी पोंटिंग ने कहा, कप्तानी की जिम्मेदारी के बिना कोहली के लिये रिकार्ड तोड़ना आसान

ricky ponting
ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक रिकी पोंटिंग ने कहा कि, कप्तानी की जिम्मेदारी के बिना कोहली के लिये रिकार्ड तोड़ना आसान होगा।पोंटिंग ने कोहली के नेतृत्वकौशल की प्रशंसा की और कहा कि उनकी अगुवाई में भारत का विदेशों में रिकॉर्ड सुधरा और उसने पहले की तुलना में विदेशी धरती पर अधिक मैच जीते।

दुबई।ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक रिकी पोंटिंग ने कहा कि वह विराट कोहली के टेस्ट कप्तानी से हटने के फैसले से हैरान थे लेकिन उनका मानना है कि उन्होंने बल्लेबाजी में बेहतर प्रदर्शन करने और कुछ रिकॉर्ड तोड़ने के उद्देश्य से यह फैसला किया होगा। पोंटिंग ने कोहली के नेतृत्वकौशल की प्रशंसा की और कहा कि उनकी अगुवाई में भारत का विदेशों में रिकॉर्ड सुधरा और उसने पहले की तुलना में विदेशी धरती पर अधिक मैच जीते। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि कोहली के उत्तराधिकारी के रूप में रोहित शर्मा अच्छी तरह से भूमिका निभाएंगे। पोंटिंग ने ‘द आईसीसी रिव्यू’ के पहले एपीसोड में कहा, ‘‘हां, वास्तव में मुझे हैरानी हुई। मेरी आईपीएल (2021) के पहले चरण में उनसे इस बारे में बात हुई थी।’’

इसे भी पढ़ें: रोहित शर्मा की कप्तानी में बोले डेरेन सैमी, भारतीय क्रिकेट सुरक्षित हाथों में

उन्होंने कहा, ‘‘वह तब सीमित ओवरों की कप्तानी छोड़ने की बात कर रहे थे और टेस्ट मैच की कप्तानी को लेकर उनमें कितना जुनून था। उन्हें यह काम पसंद था और वह इसका पूरा आनंद लेते थे। इसलिए जब मैंने सुना तो वास्तव में मुझे बहुत हैरानी हुई।’’ पोंटिंग ने हालांकि अपने अनुभव के आधार पर कहा कि कोहली ने यह फैसला करने से पहले कई चीजों पर गौर किया होगा। उन्होंने कहा, ‘‘विराट लगभग सात साल तक कप्तान रहे। दुनिया में अगर कोई देश है जिसकी कप्तानी करना सबसे मुश्किल काम है तो वह भारत है क्योंकि वहां खेल बेहद लोकप्रिय है और प्रत्येक भारतीय अपनी टीम को जीतते हुए देखना चाहता है।’’ पोंटिंग ने कहा, ‘‘वह अभी 33 वर्ष का है और अभी कुछ और वर्ष तक खेलना जारी रखना चाहेगा। मुझे पूरा विश्वास है कि वह कुछ नये रिकॉर्ड बनाएगा जिनसे वह ज्यादा दूर नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक बल्लेबाज के तौर पर कप्तानी की अतिरिक्त जिम्मेदारी के बिना यह उसके लिये थोड़ा आसान हो सकता है।’’

इसे भी पढ़ें: एक बार फिर आमने-सामने होंगे भारत और बांगलादेश, अंडर-19 विश्व कप के क्वार्टरफाइनल कौन मारेगा बाजी

इस दिग्गज बल्लेबाज ने कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने यहां तक कहा कि उनकी कप्तानी में आस्ट्रेलिया ने जो प्रयास किये, कोहली की अगुवाई में भारत के प्रयास उससे भी बेहतर थे। पोंटिंग ने कहा, ‘‘हमारी तुलना में भारत की उपलब्धियां अधिक चौंकाने वाली थी। जब मैंने कप्तानी संभाली तो मुझे एक ऐसी टीम मिली थी जो लंबे समय तक विश्व क्रिकेट पर हावी रही थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यदि आप विराट से पहले के भारत को देखो तो वह स्वदेश में बहुत मैच जीतता था लेकिन विदेशों में उतनी अधिक जीत दर्ज नहीं कर पाता था। इस चीज में सुधार हुआ और टीम ने विदेशों में अधिक मैच जीते।’’ भारत ने कोहली की अगुवाई में 68 टेस्ट मैच खेले जिनमें से 40 में उसने जीत दर्ज की जो भारतीय रिकार्ड है। पोंटिंग ने कोहली की जगह मुंबई इंडियन्स के अपने पूर्व साथी रोहित को कप्तान बनाने का समर्थन किया। उन्होंने बताया कि 2013 में जब उन्होंने मुंबई की कप्तानी छोड़ी थी तो उन्होंने ही रोहित को कप्तान बनाने की सलाह दी थी। उन्होंने कहा, ‘‘मुंबई इंडियन्स की तरफ से उन्होंने जो कुछ किया है, वह इसका सबूत है। वह वहां सफल कप्तान रहे और जब उन्होंने कुछ मौकों पर भारत का नेतृत्व किया तब भी अच्छी कप्तानी की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़