आस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने बढ़ाया भारत का मनोबल, फिर से वापसी करेगा इंडिया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 25, 2020   13:26
आस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने बढ़ाया भारत का मनोबल, फिर से वापसी करेगा इंडिया

आस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने शुक्रवार को कहा कि भारत को अपने क्रिकेट पर गर्व है और एडीलेड की तरह वह यहां बाक्सिंग डे टेस्ट में आसानी से घुटने नहीं टेकने वाला है। उन्होंने संकेत दिया कि केएल राहुल और ऋषभ पंत उनकी टीम के लिये कड़ी चुनौती हो सकते हैं।

मेलबर्न। आस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने शुक्रवार को कहा कि भारत को अपने क्रिकेट पर गर्व है और एडीलेड की तरह वह यहां बाक्सिंग डे टेस्ट में आसानी से घुटने नहीं टेकने वाला है। उन्होंने संकेत दिया कि केएल राहुल और ऋषभ पंत उनकी टीम के लिये कड़ी चुनौती हो सकते हैं। आस्ट्रेलिया ने एडीलेड में पहले टेस्ट में भारत को उसके न्यूनतम टेस्ट स्कोर 36 रन पर आउट करने के बाद आठ विकेट से जीत दर्ज की। पेन ने हालांकि वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ हम इस पर तवज्जो नहीं दे सकते कि उन्हें कितने मानसिक घाव लगे या वे अभी क्या सोच रहे होंगे।’’

इसे भी पढ़ें: डोपिंग के दोषी पाए गए बास्केटबॉल खिलाड़ी सतनाम सिंह, दो साल का प्रतिबंध लगा

उन्होंने कहा ,‘‘ हमें पता है कि भारत को अपने क्रिकेट पर गर्व है और वह बेहद प्रतिभाशाली टेस्ट टीम है। उसके पास कई खतरनाक खिलाड़ी हैं।’’ अब तक 20 टेस्ट में आस्ट्रेलिया की कप्तानी कर चुके पेन ने कहा कि पिछले साल एशेज श्रृंखला में भी इंग्लैंड ने पांचवें टेस्ट में वापसी करके बराबरी की थी। उन्होंने कहा ,‘‘ हमने इंग्लैंड में देखा कि जरा सा फोकस हटने पर क्या हो जाता है। लेकिन इस बार हम ऐसा नहीं करेंगे।’’

इसे भी पढ़ें: सिडनी में कोरोना के हालात नहीं सुधरने पर मेलबर्न में होगा तीसरा टेस्ट : क्रिकेट आस्ट्रेलिया

कप्तान विराट कोहली और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की गैर मौजूदगी में भारत को टीम में पांच बदलाव करने होंगे। पेन ने कहा ,‘‘ जो खिलाड़ी उनकी टीम में आ रहे हैं , वे भी काफी खतरनाक हैं।मसलन के एल राहुल और ऋषभ पंत। हम सकारात्मक खेल दिखायेंगे क्योंकि उन्हें जरा सी ढील देना भारी पड़ेगा।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ हमने पहला टेस्ट भले ही जीत लिया लेकिन दूसरे दिन तक भारत का दबदबा था। वे आसानी से हार नहीं मानने वाले। हम एडीलेड के प्रदर्शन को दोहराना चाहेंगे और अगर ऐसा कर सके तो आखिरी दो टेस्ट भारत के लिये काफी कठिन होंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।