निचले क्रम के बल्लेबाजों का योगदान महत्वपूर्ण होता है : रोहित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2021   06:10
निचले क्रम के बल्लेबाजों का योगदान महत्वपूर्ण होता है : रोहित

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘हम बीच के ओवरों में अच्छा प्रदर्शन कर सकते थे लेकिन हमारे निचले क्रम के बल्लेबाजों ने जिस तरह से बल्लेबाजी की उससे मैं खुश हूं।’’

कोलकाता| भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने रविवार को यहां कहा कि दूसरी टीमों में आठवें और नौवें नंबर के बल्लेबाज अच्छा योगदान देते हैं और न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय से उनका यह विश्वास दृढ़ हो गया कि अब उनके पास भी उपयोगी पुछल्ले बल्लेबाज हैं।

रोहित ने 56 रन की तेजतर्रार पारी से अच्छी शुरुआत की लेकिन भारतीय मध्यक्रम लड़खड़ा गया।

इसे भी पढ़ें: खिलाड़ी के नाकाम रहने पर भी हम उसे आत्मविश्वास देते हैं : रोहित

ऐसे में पुछल्ले बल्लेबाजों ने उपयोगी योगदान दिया और आखिरी पांच ओवरों में 50 रन जोड़े जिससे भारत ने सात विकेट पर 184 रन बनाये और फिर न्यूजीलैंड को 111 रन पर आउट कर दिया।

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘हम बीच के ओवरों में अच्छा प्रदर्शन कर सकते थे लेकिन हमारे निचले क्रम के बल्लेबाजों ने जिस तरह से बल्लेबाजी की उससे मैं खुश हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप दुनिया भर की टीमों पर गौर करो तो उनके पास निचले क्रम में भी अच्छे बल्लेबाज हैं। आठवें और नौवें नंबर का बल्लेबाज अहम भूमिका निभा सकता है। हर्षल (पटेल) जब हरियाणा के लिये खेलता है तो उनके लिये पारी का आगाज करता है। दीपक (चाहर) के बारे में हम जानते हैं कि उसने श्रीलंका में शानदार बल्लेबाजी की थी।’’

श्रृंखला में 159 रन बनाकर मैन ऑफ द सीरीज चुने गये रोहित ने कहा कि टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए अच्छी शुरुआत करना बेहद जरूरी था।

उन्होंने कहा, ‘‘जब भी मैं बल्लेबाजी करता हूं तो मेरा ध्यान अच्छी शुरुआत दिलाने पर होता है। एक बार पिच की स्थिति जानने और परिस्थितियों को समझने के बाद आप जान जाते हो कि एक बल्लेबाज के रूप में आपको क्या करने की जरूरत है।’’

न्यूजीलैंड के कार्यवाहक कप्तान मिशेल सैंटनर ने भारत को जीत का हकदार बताया लेकिन साथ ही कहा उनकी टीम को नियमित कप्तान केन विलियमसन की कमी खली जिन्हें इस श्रृंखला के लिये विश्राम दिया गया था।

सैंटनर ने कहा, ‘‘भारत ने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने शुरू में बहुत अच्छी गेंदबाजी की और इसलिये श्रेय उन्हें जाता है। हमारी टीम आशानुरूप प्रदर्शन नहीं कर पायी। हमारा सामना भारत की बहुत अच्छी टीम से था। भारत को उसकी धरती पर हराना मुश्किल है और यह इस श्रृंखला में दिखा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘केन (विलियमसन) शानदार बल्लेबाज है, हमें उसकी कमी खली। अब टेस्ट मैच हैं और अन्य खिलाड़ियों को मौका मिलेगा लेकिन भारत को हराना बहुत मुश्किल है। ’’

अक्षर पटेल ने नौ रन देकर तीन विकेट लिये जो उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया।

इसे भी पढ़ें: अब कप्तान और कोच रोहित और द्रविड़ ने 2007 में पहली बातचीत को याद किया

अक्षर ने कहा, ‘‘मैं अब बल्लेबाज़ों का दिमाग पढ़ने की कोशिश कर रहा हूं। विकेट से मदद भी मिल रही थी, इसलिए आज मैंने गेंद टर्न भी की। इस साल के शुरू में मेरा टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण अच्छा रहा और फिर आईपीएल भी बढ़िया गया। अब मेरी निगाह टेस्ट श्रृंखला पर हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।