आईसीसी वर्ल्ड कप पर सबसे बड़े कप्तान की ‘विराट’ दावेदारी !

virat-kohli-is-the-biggest-captain-of-icc-world-cup
दीपक मिश्रा । Apr 30, 2019 10:16AM
साफ है इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए दादा की ये भविष्यवाणी सही भी लगती है। टीम इंडिया इस समय वर्ल्ड कप के सबसे बड़े दावेदार में से एक है। विराट की कप्तानी में भारत सबसे मजबूत दिखाई दे रहा है। टीम इंडिया की बल्लेबाजी से लेकर गेंदबाजी हर जगह दम दिखाई दे रहा है।

इंग्लैंड में शुरू होने वाले वर्ल्ड कप नजदीक आते जा रहा है। टीम इंडिया वर्ल्ड कप के लिए पूरी तरह से तैयार है। वही दूसरी टीमें भी क्रिकेट के इस महाकुंभ को अपने नाम करने के लिए जमकर तैयारियां कर रही है। वर्ल्ड कप से पहले वैसे तो हर कोई भविष्यवाणी करता है जहां कुछ सच होती है तो कुछ गलत। लेकिन इस बार क्रिकेट के सबसे बड़े कप्तान ने वर्ल्ड कप पर सबसे बड़ी भविष्यवाणी कर दी है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान ने बता दिया है कि आखिर इंग्लैंड में किस टीम का इस बार डंका बजेगा। दरअसल टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल खेलने वाली 4 फेवरिट टीमें चुन ली है। गांगुली के मुताबिक वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत, पाकिस्तान, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया पहुंच सकता है। गांगुली की इस भविष्यवाणी में पाकिस्तान का भी नाम है। वही टीम इंडिया को भी गांगुली सेमीफाइनल में पहुंचते हुए देख रहे है। इसके अलावा गांगुली की लिस्ट में इंग्लैंड और मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया का भी नाम है। लेकिन सवाल यह है कि क्या इन टीमों में वो दम है जो इन्हें विश्व कप में हिस्सा लेने वाली सभी टीमों से बेहतर बनाता है। क्या न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका जैसी टीम इस बार भी विश्व कप का खिताब नहीं जीत पाएगी। जाहिर है वर्ल्ड कप को लेकर सवाल हर किसी के जहन में है, वहीं भविष्यवाणी का भी दौर अब दिन प्रति बढ़ता जाएगा तो क्या ऐसे में मान लेना चाहिए कि सौरव गांगुली ने जिन चार टीमों के सेमीफाइनल में पहुंचने की भविष्यवाणी की है वही सच हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड में विराट को सिकंदर बनाएंगे यह तीन धुरंधर खिलाड़ी

साफ है इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए दादा की ये भविष्यवाणी सही भी लगती है। टीम इंडिया इस समय वर्ल्ड कप के सबसे बड़े दावेदार में से एक है। विराट की कप्तानी में भारत सबसे मजबूत दिखाई दे रहा है। टीम इंडिया की बल्लेबाजी से लेकर गेंदबाजी हर जगह दम दिखाई दे रहा है। इसके अलावा महेंद्र सिंह धोनी के साथ होने से इस टीम को हराना सबसे मुश्किल काम नजर आता है। विराट की टीम में नजर डाली जाएं तो ऑलराउंडर भी इस बार जीत में अहम भूमिका निभाएंगे। विजय शंकर और हार्दिक पांड्या के साथ रवींद्र जडेजा से भी इस बार विपक्षी टीम को बचने की काफी जरूरत है। इसके बाद अगर टीम की गेंदबाजी पर नजर डाली जाए तो तेज गेंदबाजी में टीम का कही कोई तोड़ नहीं है। बुमराह, शमी और भुवनेश्वर की तिकड़ी धमाल मचाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। वहीं स्पिन गेंदबाजी में कुलदीप और चहल की जोड़ी इंग्लैंड में बल्लेबाजों की अग्नि परीक्षा लेगी। जाहिर है टीम इंडिया हर मायनो में काफी मजबूत है और इस बार वर्ल्ड कप में भारत की जीत की उम्मीदें भी काफी है। 

टीम इंडिया के अलावा मेजबान इंग्लैंड भी वर्ल्ड कप का सबसे बड़ा दावेदार दिखाई पड़ता है। अपने घर में खेलने वाली इंग्लैंड की टीम काफी खतरनाक है। वही अगर इंग्लिश टीम पर नजर डाली जाएं तो यह हर एंगल से काफी मजबूत भी है। आज तक वर्ल्ड कप नहीं जीतने वाली इंग्लैंड के लिए इस बार सबसे बड़ा मौका पास आया है। अगर इंग्लैंड ने सभी मौको का फायदा उठाया और बेहतरीन खेल खेला तो इंग्लैंड वर्ल्ड कप जीत भी सकता है।

इसे भी पढ़ें: वर्ल्ड कप में कौन से खिलाड़ी होंगे भारत के लिए गेम चेंजर !

इसके अवाला ऑस्ट्रेलिया की टीम भी वर्ल्ड कप के लिए काफी मजबूत नजर आती है। ऑस्ट्रेलिया 5 बार वर्ल्ड कप चैंपियन रह चुका है। वही इस बार वार्नर और स्मिथ की वापसी से यह टीम और ज्यादा खतरनाक नजर आ रही है। इसके अलावा पाकिस्तान को भी कमजोर आंकने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। 2017 में इंग्लैंड की धरती पर चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली पाकिस्तान वर्ल्ड कप में सरप्राइज कर सकती है।पाकिस्तान इंग्लैंड में वर्ल्ड कप से तकरीबन एक महीना पहले दिपक्षीय सीरीज खेल रहा है। जिसकी वजह से उनके खिलाड़ियों के इंग्लिश हालात में घुलने मिलने की संभावना है। वहीं पाकिस्तान की टीम में वो ताकत है जो किसी भी दिन अगर बेस्ट प्रदर्शन देती है तो उनसे मुकाबला जीतना काफी मुश्किल हो सकता है। उम्मीद है सौरव गांगुली की यह भविष्यवाणी इस बार सच होगी। वही भारतीय क्रिकेट प्रेमी तो चाह रहे होंगे कि दादा की भविष्यवाणी इससे भी आगे निकले और विराट कोहली की अगुवाई में भारत सेमीफाइनल खेलने के बाद 14जुलाई को लॉर्ड्स के मैदान में तिरंगा फहराएं और देश को तीसरी बार चैंपियन बना कर ही दम लें।

- दीपक मिश्रा

अन्य न्यूज़