यूपी भूलेख खसरा खतौनी ऐप: ऐसे पता करें कि आपके पास कितनी ज़मीन है

यूपी भूलेख खसरा खतौनी ऐप: ऐसे पता करें कि आपके पास कितनी ज़मीन है

भूलेख भारत में एक बहुत लोकप्रिय भूमि रिकॉर्ड पोर्टल है और यह यूपी, उड़ीसा, बिहार आदि राज्यों में ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड सॉफ्टवेयर से भी संबंधित है। हालांकि अन्य राज्य में भी एक अलग नाम के साथ ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड सॉफ्टवेयर बनाए गए हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार की राजस्व परिषद ने भूमि अभिलेखों के लिए डिजिटल पोर्टल यानी भूलेख यूपी लॉन्च किया। राष्ट्रीय भूमि अभिलेख आधुनिकीकरण कार्यक्रम के तहत भारत सरकार ने सभी भूमि रिकॉर्ड को डिजिटल कर दिया है। उत्तर प्रदेश भूलेख हिंदी के दो शब्दों भू + लेख से मिलकर बना है जहाँ भू का अर्थ भूमि और लेख का अर्थ विवरण या लेखा होता है। यूपी भूलेख का मतलब है जमीन का हिसाब और रिकॉर्ड रखना।

भूलेख भारत में एक बहुत लोकप्रिय भूमि रिकॉर्ड पोर्टल है और यह यूपी, उड़ीसा, बिहार आदि राज्यों में ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड सॉफ्टवेयर से भी संबंधित है। हालांकि अन्य राज्य में भी एक अलग नाम के साथ ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड सॉफ्टवेयर बनाए गए हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार कृषि की भूमि का ऑनलाइन विवरण जैसे स्वामित्व विवरण, फसल विवरण आदि प्रदान कर रही है। इसके लिए आवेदन पत्र की चरण-दर-चरण प्रक्रिया का ध्यानपूर्वक पालन करें।

इसे भी पढ़ें: ब्रांच बैंकिंग क्या है? इसके क्या फायदे हैं और क्या नुकसान है?

महत्वपूर्ण लिंक 

- खसरा खतौनी ऑनलाइन 

- भूमि रिकॉर्ड 

- अद्वितीय गाटा कोड खोजें 

- खसरा कोड खोजें 

- जिलों की सूची 

- तहसील की सूची 

- परगना की सूची 

- राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति रजिस्टर 

यूपी भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन कैसे जांचें?

यूपी भूलेख रिकॉर्ड्स ऑनलाइन जांचने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया है:

चरण 1– आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं - इसके लिए आपको भूलेख यूपी के आधिकारिक पोर्टल यानी http://upbhulekh.gov.in पर जाना होगा।

चरण 2– होमपेज पर आपको “खतौनी की नकल देखें (अधिकार रिकॉर्ड)” लिंक पर क्लिक करना होगा।

चरण 3- एक संवाद दिखाई देगा और आपको दिखाया गया कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।

चरण 4– अब आपको सूची में से जिले का चयन करना होगा।

चरण 5– उसके बाद आपको सूची से संबंधित तहसील का चयन करना होगा।

चरण 6– आपको अपने गांव का चयन करना होगा।

चरण 7– अब आपको फॉर्म में वैलिड जानकारी दर्ज करनी होगी।

सर्च करने के लिए आपको तीन विकल्प दिए गए हैं। आप गाटा नंबर / खसरा दर्ज करके या खाता संख्या या खाताधारक के नाम से खोज सकते हैं। मान्य क्रेडेंशियल दर्ज करने के बाद आपको "मूल्यांकन देखें" बटन पर क्लिक करना होगा।

चरण 8– अब आप अपने खाते का विवरण अपनी स्क्रीन पर देख सकते हैं।

इसमें खाताधारक का नाम, फसल वर्ष, जिला, क्षेत्र, भूमि अभिलेख संख्या, आदेश, क्षेत्र आदि जैसी जानकारी शामिल होती है।

चरण 9– अंत में भविष्य के संदर्भ के लिए विवरण को प्रिंट या सेव कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: बैड बैंक क्या है? सबसे पहले कब और किस देश में इसकी शुरुआत हुई?

यूपी भूलेख 2021 के ऑनलाइन सत्यापन का सीधा लिंक

- भूखण्ड /गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति 

- खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल 

- भूखण्ड/ गाटे का यूनिक कोड 

- राजस्व ग्राम खतौनी का कोड 

- खतौनी अंश- निर्धारण की नक़ल 

- यूपी भू नक्शा/भू-लेख ऑनलाइन मैप 

 

यूपी भू-नक्शा ऑनलाइन कैसे देखें?

यूपी भू-नक्शाऑनलाइन चेक करने के लिए आपको कुछ इस तरह करना पड़ेगा:

स्टेप 1- सबसे पहले आपको यूपी भूलेख मानचित्र ऑनलाइन– आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

स्टेप 2- होमपेज पर अगर आप खसरा खतौनी की कॉपी देखना चाहते हैं तो खसरा खतानी के ऑप्शन पर क्लिक करें. इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।

स्टेप 3- इस पेज पर आपको नीचे दिख रहे कैप्चा कोड को भरने के लिए कहा जाएगा, इस कैप्चा कोड को भरें, फिर सबमिट बटन पर क्लिक करें।

स्टेप 4- अब जिले, तहसील और गांव का चयन करें।

स्टेप 5- अब आपको सेलेक्ट किए गए एरिया का मैप दिखाई देगा।

स्टेप 6- अब आप संबंधित खाताधारक का नाम देखने के लिए अपने फार्म नंबर पर क्लिक कर सकते हैं।

स्टेप 7- यहाँ आपको Account Number दिखाई देगा, अब Account Holder का नाम Select करें जिसे आप देखना चाहते हैं।

स्टेप 8- आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नक्शा दिखाई देगा और फिर आप इस लैंड मैप का प्रिंट आउट भी ले सकते हैं।

- जे. पी. शुक्ला






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

बिज़नेस

झरोखे से...