हेल्दी रहने के लिए दूध में मिलाकर पियें ये चीज़े, स्किन होगी ग्लोइंग, बने रहेंगे स्लिम

turmeric
Google common license
Surya Mishra । Nov 21, 2022 3:14PM
हल्दी में कई तरह के औषधीय गुण होते है। दूध में हल्दी मिलाकर पीने से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद होती है। यह ब्लड शुगर को भी नियंत्रित रखता है और अनिद्रा की बीमारी को भी दूर करता है। ग्लोइंग स्किन के लिए भी हल्दी फायदेमंद है। अगर हम दूध के साथ ही दालचीनी भी मिलाते है तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते है।

दूध को संपूर्ण आहार कहा जाता है इसमें विटामिन डी और कैल्शियम होता है जो हमारे शरीर को एनर्जी देता है और मांसपेशियों को ताकत देता है। इसमें मौजूद विटामिन डी हमारी हड्डियों  को मजबूत रखता है। दूध में हल्दी या फिर दालचीनी मिलाकर पिया जाये तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते है। हल्दी में कई तरह के औषधीय गुण होते है। दूध में हल्दी मिलाकर पीने से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद होती है। यह ब्लड शुगर को भी नियंत्रित रखता है और अनिद्रा की बीमारी को भी दूर करता है। ग्लोइंग स्किन के लिए भी हल्दी फायदेमंद है। अगर हम दूध के साथ ही दालचीनी भी मिलाते है तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते है। आप चाहे तो दूध और दालचीनी एक साथ मिलाकर पी सकते है या फिर हल्दी या दालचीनी अलग -अलग भी दूध में मिलाकर पी सकते है।

कैसे बनायें हल्दी, दालचीनी वाला दूध 

कभी भी ठन्डे दूध में हल्दी ना मिलाये। गरम दूध में हल्दी मिलायें। दूध में हल्दी मिलाने के बाद उसे बहुत देर तक उबालना नहीं चाहिए नहीं तो हल्दी के औषधीय गुण समाप्त हो सकते है। ध्यान रहे हल्दी की मात्रा बहुत ज्यादा नहीं होनी चाहिए एक गिलास दूध में एक चौथाई चम्मच हल्दी मिलाये। अगर आप जुकाम से बचने के लिए हल्दी वाला दूध पी रहे है तो उसमे एक चुटकी काली मिर्च पाउडर भी मिला सकते है। इसी तरह आप गरम दूध में एक चुटकी दालचीनी पाउडर मिलाकर पी सकते है।

इसे भी पढ़ें: मिल्क थिस्ल से करें बॉडी को डिटॉक्स, लिवर और किडनी रहेगी सुरक्षित

किन लोगो को हल्दी, दालचीनी वाला दूध नहीं पीना चाहिए

अगर आप एसिडिटी, कांस्टिपेशन और गैस या फिर खराब डाइजेशन की समस्या से परेशान है तो आपको हल्दी वाला दूध पीने से बचना चाहिए इसके साथ ही अगर आप एनिमिक है आपमें खून की कमी है तो भी आपको हल्दी वाला दूध नहीं पीना चाहिए और इसी तरह दालचीनी का भी सेवन कम मात्रा में ही करें। अगर आपको एसिडिटी की प्रॉब्लम है तो दालचीनी का कम ही सेवन करें नहीं तो आपको सीने में दर्द की परेशानी हो सकती है।


कब ना करें हल्दी और दालचीनी वाले दूध का सेवन 

हल्दी वाला दूध सर्दियों में सभी को बहुत भाता है। लेकिन गर्मियों में हल्दी वाले दूध का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्योकि हल्दी की तासीर गरम होती है और इसके बहुत ज्यादा सेवन से एसिडिटी और जलन की प्रॉब्लम हो सकती है। कम मात्रा में आप इसका सेवन कर सकते है। दालचीनी का ज्यादा सेवन सीने में जलन व दर्द की समस्या को बढ़ा सकता है और आपको सांस लेने में दिक्कतों का सामना भी करना पड़ सकता है।

हल्दी की तरह ही दालचीनी को भी दूध में मिलाकर पीने से आप खुद को बहुत सी बीमारियों से बचा सकते है ।

अच्छी नींद में कारगर है हल्दी और दालचीनी 

अगर आपको नींद नहीं आती है तो दालचीनी वाला दूध आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है।   दालचीनी खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करती है और ब्लड सर्कुलेशन को सही रखने में सहायक है और ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक है। इसी तरह हल्दी वाला गुनगुना दूध भी नींद ना आने की प्रॉब्लम को दूर कर सकता है।

 वज़न घटाए हल्दी और दालचीनी  

 जी हाँ दालचीनी वज़न घटाने में सहायक है अगर आप गुनगुने दूध में दालचीनी और जरा सी हल्दी मिलाकर पीते  है तो आप अपने बढ़ते हुए वज़न को कंट्रोल कर सकते है इसके सेवन से भूख कम लगती है इसीलिए इसको वंडर  स्पाइस भी कहते है।

 ग्लोइंग स्किन में सहायक 

हल्दी तो स्किन के लिए फायदेमंद तो मानी ही जाती है और पुराने ज़माने से ही इसको स्किन को ग्लोइंग बनाने के लिए जाना जाता है लेकिन क्या आप जानते है कि दालचीनी के सेवन से आप स्किन की समस्याओ से भी छुटकारा पा सकते है यह स्किन की सभी समस्याओं को दूर करती है और इसके सेवन से आप स्किन इंफेक्शन से भी बचाव कर सकते है।


 ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में सहायक 

दालचीनी इंसुलिन को बढ़ाने के लिए उपयोगी ।  है यह ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखता है और हल्दी भी खून में शुगर की मात्रा को कंट्रोल करने के काम आती है।  

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़