बेहद खतरनाक है Hepatitis B की बीमारी, समझ नहीं आते लक्षण और हो जाती है मौत

Hepatitis B
Creative Commons licenses
सबसे घातक हेपेटाइटिस बी को ही माना जाता है। जानकारी के लिए बता दें कि हेपेटाइटिस बी की इस गंभीर बीमारी से भारत में हर साल लाखों लोग मौत के गाल में समा जाते हैं। इस जानलेवा बीमारी में सबसे खतरनाक बात यह है कि इसके लक्षण आसानी से समझ में और पकड़ में नहीं आते हैं।

जब इंसान जॉंडिस (पीलिया) से ज्यादा दिन तक ग्रसित होता है तो उसे हेपेटाइटिस बी होने का ज्यादा संभावना होता है। आपको बता दें कि हेपेटाइटिस बी आपके लीवर से जुड़ी एक बेहद खतरनाक बीमारी है। इसके होने के प्रमुख कारण हैं:- अल्कोहल का ज्यादा सेवन करना, कुछ खास दवाओं का अधिक उपयोग करना और दूषित खानपान का आदत होना। ये आदत बेहद खतरनाक है जिससे ये बीमारी फैलती है। इस खतरनाक बीमारी में लीवर में सूजन आ जाती है और इंसान बेहद कमजोर हो जाता है। कई बार इस बीमारी में लीवर पर गंभीर प्रभाव पड़ता है जिससे व्यक्ति की मौत भी हो जाती है। वैसे तो हेपेटाइटिस से आप बच भी सकते हैं क्योंकि इसका इलाज उपलब्ध है, लेकिन ध्यान रहे की हेपेटाइटिस के शुरुआती लक्षण नजर न आने के कारण खतरा बढ़ सकता है। हेपेटाइटिस को वायरस के आधार पर पांच प्रकार में बांटा गया है। जो इस प्रकार है:- हेपेटाइटिस ए, बी, सी, डी और ई। 

सबसे घातक हेपेटाइटिस बी को ही माना जाता है। जानकारी के लिए बता दें कि हेपेटाइटिस बी की इस गंभीर बीमारी से भारत में हर साल लाखों लोग मौत के गाल में समा जाते हैं। इस जानलेवा बीमारी में सबसे खतरनाक बात यह है कि इसके लक्षण आसानी से समझ में और पकड़ में नहीं आते हैं। हेपेटाइटिस बी एक तरह का वायरल इंफेक्शन है जो सीधे लीवर को बुरी तरह प्रभावित करता है। इस बीमारी से लीवर में सूजन हो जाती है। गरीब और विकासशील देशों के लिए यह बीमारी एक बहुत ही बड़ा खतरा है। चलिए...जानते हैं इस बीमारी के बारे में विस्तार से...

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन के अध्ययन के मुताबिक, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका और थाइलैंड ने हेपेटाइटिस बी को काबू कर लिया है। लेकिन भारत में अभी यह बीमारी नहीं चिंता का विषय है। इस देश में असंख्य आबादी के शुद्ध खाना नहीं खाने और शराब के सेवन इस बीमारी से हर साल लाखों लोगों की मौत हो जाती है।

इसे भी पढ़ें: डिप्रेशन का कर रहे हैं सामना, तो भूल से भी ना करें यह गलतियां

बता दें कि इस बीमारी को रोकने के लिए 1982 से ही वैक्सीन मौजूद है। यह वैक्सीन 95 फीसदी तक इस बीमारी के खतरे को कम कर देती है।

लक्षण:-

हेपेटाइटिस बी के लक्षण को आसानी से समझना और पकड़ना मुश्किल है। इस खतरनाक बीमारी के शुरुआती दौर में आपको थकान महसूस होगा, खुलकर भूख नहीं लगेगा, उल्टी होगा, पेट में दर्द होगा, सिर में दर्द होगा, आंखों में पीलापन जैसे लक्षण भी दिखाई देते हैं। इस बीमारी से लीवर बेहद संक्रमित हो जाता है और लीवर में सूजन आ जाती है। कुछ लोगों का लीवर भी काम करना बंद कर देता है जिससे उनकी मौत हो जाती है।

- मृगेंद्र प्रताप सिंह

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़