मैं गद्दार नहीं हूं, दुश्मन का पहला टारगेट मैं फिर मेरी पत्नी और बच्चे! यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का भावुक वीडियो

मैं गद्दार नहीं हूं, दुश्मन का पहला टारगेट मैं फिर मेरी पत्नी और बच्चे! यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का भावुक वीडियो

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने अपनी इस वीडियो में कहा कि, मैं और मेरा परिवार गद्दार नहीं है और यूक्रेन छोड़कर नहीं भागेंगे। उन्होंने कहा कि, मैं यूक्रेन में हूं। मेरा परिवार यूक्रेन में है। मेरे बच्चे यूक्रेन में हैं। वे गद्दार नहीं हैं, वे यूक्रेन के नागरिक हैं।

यूक्रेन पर गुरूवार को रूसी लड़ाकू की तरफ से हमले किए गए जिससे पूरे यूक्रेन में तबाही छा गई। राजधानी कीव को घेरने के लिए रूस ने कई हमले किए है। बताया जा रहा है कि, अब तक 135 लोगों की मौत हो गई है। इसी बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की का एक भावुक वीडियो सामने आ रहा है जिसमें वह राष्ट्र को संदेश दे रहे है। राष्ट्रपति जेलेंस्की वीडियो में अपनी पत्नी और बच्चों के बारे में बात करते हुए काफी भावुक हो रहे हैं। वह कह रहे हैं कि, रूस के निशाने पर सबसे पहले मैं हूं और दूसरे नंबर पर मेरा पूरा परिवार। उन्होंने यूक्रेन के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि, रूस पूरी तरह से कीव में घुस चुका है। 

इसे भी पढ़ें: जब पुतिन के सामने बातचीत करते वक्त सहम गए रूसी खुफिया विभाग के चीफ, जानें क्या है पूरा मामला

मैं गद्दार नहीं हूं

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने अपनी इस वीडियो में कहा कि, मैं और मेरा परिवार  गद्दार नहीं है और यूक्रेन छोड़कर नहीं भागेंगे। उन्होंने कहा कि, मैं यूक्रेन में हूं। मेरा परिवार यूक्रेन में है। मेरे बच्चे यूक्रेन में हैं। वे गद्दार नहीं हैं, वे यूक्रेन के नागरिक हैं। हमें जानकारी मिली है कि दुश्मन ने मुझे पहला टारगेट बनाया है।मेरा परिवार उनका दूसरा टारगेट है।' रूस मुझे खत्म कर देना चाहता है। जेलेंस्की ने अपने भावुक संदेश में आगे कहा कि रूस की सरकार उन्हें खत्म कर देना चाहती है। यूक्रेनी राष्ट्रपति ने दावा किया है कि, रूस देश के प्रमुख को खत्म कर यूक्रेन को राजनितिर नुकसान पहुंचाना चाहता हैं। 

कोई देश नहीं कर रहा मदद 

सीएनएन की खबर के मुताबिक यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने यूरोप के 27 नेताओं से बात की और पूछा कि क्या यूक्रेन नाटो में होगा। ज़ेलेंस्की  ने कहा कि सब डरते हैं , कोई जवाब नहीं देना चाहता है।जेलेंस्की ने कहा कि आज हम जो सुन रहे हैं यह रॉकेट विस्फोट, लड़ाई और विमान की गर्जना नहीं है बल्कि सभ्य दुनिया के साथ रूस के रिश्ते को खत्म करने के लिए लोहे के पर्दे की आवाज है। बता दें कि, यूक्रेन को नाटो देशों की ओर से भी कोई मदद नहीं मिल रही है। 

यूक्रेन को क्यों नहीं बनने दे रहा नाटो का मेंबर

बता दें कि, यूक्रेन नाटो का मेंबर बनना चाहता है लेकिन रूस इसके खिलाफ है। जब साल 2014 में यूक्रेन की समर्थित सरकार गिर गई थी तब से यूक्रेन की सरकारें नाटो में शामिल होने की कोशि कर रहा हैं। लेकिन रूस इसे एक सुरक्षा के लिए कतरा मानता है और किसी भी हालत में वह यूक्रेन को नाटो मेंबर बनने देगा। रूसी हमले से एक दिन में यूक्रेन के 137 लोग मारे जा चुके है, वहीं 316 लोग घायल हो गए हैं।