एस्टोनिया, फिनलैंड नहीं चाहते कि रूसी पर्यटक यूरोप की यात्रा पर आएं

Tourists
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
फिनलैंड की प्रधानमंत्री साना मारिन ने देश के प्रसारणकर्ता वाईएलई पर कहा था, ‘‘यह सही नहीं है कि जब रूस यूरोप में आक्रामक युद्ध कर रहा है, ऐसे में रूस के लोग यूरोप में सामान्य तरीके से रहें, घूमें, चाहें पर्यटक हों।’’ एस्टोनिया और फिनलैंड दोनों की सीमाएं रूस से लगती हैं और दोनों यूरोपीय संघ के सदस्य हैं।

कोपेनहेगन, 10 अगस्त (एपी)।  एस्टोनिया और फिनलैंड के नेता चाहते हैं कि सभी यूरोपीय देश रूसी नागरिकों को पर्यटक वीजा जारी करना बंद कर दें। उनका कहना है कि यूक्रेन में रूस की सरकार द्वारा युद्ध किये जाने की स्थिति में वहां के नागरिकों को यूरोप में छुट्टी बिताने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए। एस्टोनियाई प्रधानमंत्री काजा कल्लास ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘‘यूरोप की यात्रा करना विशेषाधिकार है, कोई मानवीय अधिकार नहीं।अब रूस के पर्यटकों पर रोक लगाने का समय है।’’

इससे एक दिन पहले फिनलैंड की प्रधानमंत्री साना मारिन ने देश के प्रसारणकर्ता वाईएलई पर कहा था, ‘‘यह सही नहीं है कि जब रूस यूरोप में आक्रामक युद्ध कर रहा है, ऐसे में रूस के लोग यूरोप में सामान्य तरीके से रहें, घूमें, चाहें पर्यटक हों।’’ एस्टोनिया और फिनलैंड दोनों की सीमाएं रूस से लगती हैं और दोनों यूरोपीय संघ के सदस्य हैं। यूक्रेन पर हमले के बाद यूरोपीय संघ ने रूस से हवाई यात्राओं को प्रतिबंधित कर दिया था। लेकिन रूस के लोग सड़क मार्ग से दोनों देशों में आ सकते हैं और यहां आकर अन्य यूरोपीय देशों की हवाई यात्रा कर सकते हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़